किसे बनाये हरियाणा बीजेपी प्रधान ,मनोहर को नाराज भी नहीं कर सकती और खुला भी नहीं छोड़ना चाहती 

दुविधा में बीजेपी किसे बनाये हरियाणा बीजेपी प्रधान ,मनोहर को नाराज भी नहीं कर सकती और खुला भी नहीं छोड़ना चाहती

कृष्णपाल गुर्जर के नाम की चर्चा के बीच

 

भाजपा ने बुलाई विधायक दल की बैठक

नए प्रदेशाध्यक्ष सहित कई मुद्दों पर होगी चर्चा

 

प्रदेशाध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर हरियाणा

भाजपा ने अफवाहों पर ध्यान न देने की सलाह

चंडीगढ़ (अटल हिन्द ब्यूरो )। हरियाणा भाजपा के नए अध्यक्ष के नाम पर अंतिम मुहर लगाने की कवायद शुरू हो गई है। केंद्रीय राज्य मंत्री

कृष्णपाल गुर्जर को प्रदेशाध्यक्ष बनाने की चर्चाओं के बीच बुधवार को (आज) भाजपा विधायक दल की बैठक बुला ली गई है। प्रदेशाध्यक्ष की

नियुक्ति को लेकर कई नाम उछल रहे हैं। सोशल मीडिया पर बधाइयों का दौर भी शुरू है। लेकिन अभी तक पार्टी आलाकमान अंतिम

नतीजे पर नहीं पहुंचा है। यह हरियाणा भाजपा की ओर से मंगलवार शाम किए गए ट्वीट से साफ होता है, जिसमें कहा गया है कि प्रदेशाध्यक्ष

की नियुक्ति को लेकर अभी कोई सूचना नहीं है। अफवाहों पर विश्वास न करें। इसके साथ ही दिल्ली व हरियाणा के सियासी गलियारों में

प्रदेशाध्यक्ष पद के लिए केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर का नाम चर्चा में है। बुधवार को होने जा रही भाजपा विधायक दल की बैठक को

लेकर अनेक कयास लगाए जा रहे हैं। चर्चा है कि विधायक दल की बैठक में नए प्रदेशाध्यक्ष के नाम का प्रस्ताव पारित किया जा सकता

है,जिसे अंतिम मंजूरी के लिए आलाकमान को भेजा जाएगा। यही दुविधा बीजेपी आलाकमान के लिए सिरदर्द बनी हुई है सूत्रों के अनुसार

बीजेपी आलकमान हरियाणा में मनोहर लाल को बेलगाम भी नहीं छोड़ना चाहता और नाराज भी नहीं करना चाहता इसलिए हर कदम सोच

कर चल रहा है। दूसरी तरफ चर्चा यह भी है की मनोहर लाल खुद को हरियाणा में पार्टी का सर्वेसर्वा मान कर चल रहें है उनके लिए पार्टी

और पार्टी प्रधान कोई मायने नहीं रखता। चर्चा तो यहाँ तक है की कृष्ण गुज्जर अगर हरियाणा बीजेपी प्रधान बन जाते है तो मनोहर लाल की

आजादी खत्म हो जायेगी क्योंकि मनोहर लाल हरियाणा में सर झुकाने वाला प्रधान चाहते है उनके सामने सर उठा कर चलने वाला नहीं।

अंतिम फैसला शाह के स्तर पर होगा
नए प्रदेशाध्यक्ष का मामला भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष भी

देख रहे हैं। इसलिए अंतिम फैसला शाह के स्तर पर ही होना है। गुर्जर के अलावा और नाम भी चर्चा में हैं लेकिन आलाकमान किसे तरजीह

देता है,यह देखने लायक होगा। विधायक दल की बैठक में कोरोना से उपजे हालात, वर्तमान राजनीतिक परिपेक्ष्य व बरौदा उपचुनाव पर भी

चर्चा होने की संभावना है।

केंद्रीय नेता ने डिलीट किया ट्वीट
मंगलवार को भाजपा के एक केंद्रीय नेता ने कृष्ण पाल गुर्जर को पहले तो हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष बनने की बधाई दी लेकिन कुछ देर बाद ही

अपना ट्वीट डिलीट कर दिया। माना जा रहा है कि केंद्रीय नेतृत्व का दबाव पड़ने से बाद उन्होंने ऐसा किया क्योंकि अभी हरियाणा के नए

भाजपा अध्यक्ष के नाम की घोषणा नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Breaking News