क्या कलायत ब्लॉक समिति में सब ठीक नहीं चल रहा ,पूनम बाला  ने बीडीपीओं को सौंपा इस्तीफा

कलायत वार्ड 10 से ब्लॉक समिति सदस्य पूनम वाला ने बीडीपीओं को सौंपा इस्तीफाग्रांट वितरण को लेकर लगाया भेदभाव का आरोप दी गई अनुदान राशी की जांच की मांग

 

क्या कलायत ब्लॉक समिति में सब ठीक नहीं चल रहा ,पूनम बाला  ने बीडीपीओं को सौंपा इस्तीफा

 

कलायत (अटल हिंद/तरसेम सिंह)

 

Block committee member from Kalayat Ward 10, Poonam Vala, demanded resignation of BDPO, investigation of grant amount charged with discrimination regarding distribution of funds

Is everything not going well in Kalayat Block Committee, Poonam Bala resigns to BDPO

 

प्रधान चुने जाने के बाद ग्रामीण विकास कार्यों को लेकर ब्लॉक समिति सदस्यों की हुई पहली बैठक के बाद ग्रामीण विकास कार्यों में ग्रांट वितरण को लेकर भेदभाव का आरोप लगाते हुए वार्ड 10 से ब्लॉक समिति सदस्य पूनम वाला ने बीडीपीओ फूल सिंह को अपना इस्तीफा सौंपा है। अपना इस्तीफा  सौंपने उपरांत ब्लॉक समिति सदस्य पूनम वाला ने बताया कि उनको ब्लॉक समिति सदस्य चुने जाने गए लगभग सवा 4 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं लेकिन अभी तक उन्हें ग्रामीण विकास कार्यों के लिए एक भी पैसा नहीं मिल पाया है।

 

 

 

उन्होंने बताया कि उन्हें वार्ड 10 बात्ता और नरवल गढ़ से ब्लॉक समिति सदस्य चुना गया था। दोनों गांव के ग्रामीणों को अपेक्षा थी कि गांव में विकास कार्यों की कोई कमी नहीं रहेगी। सरकार द्वारा ब्लॉक समिति सदस्यों को ग्रामीण विकास के लिए पोने तीन करोड़ की ग्रांट उपलब्ध करवाई गई लेकिन कुछ ब्लॉक समिति सदस्य एवं अधिकारियों की मिलीभगत से उन्हें एक रुपए की भी अनुदान राशि नहीं मिल पाई जिसके कारण गांव के सभी विकास कार्य अधूरे पड़े हुए हैं।

 

 

 

अनुदान राशी वितरण में हुआ घोटाला, जांच की मांग:पूनम बाला ने कुछ ब्लॉक समिति सदस्यों और पंचायत विभाग के अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार द्वारा ग्रामीण विकास के लिए करीब अढ़ाई करोड़ रुपए की अनुदान राशि उपलब्ध कराई गई थी लेकिन वह केवल मात्र कागजों में ही वितरित की गई। ग्रामीण हलके में न तो कोई विकास कार्य हुआ केवल कुछ ब्लॉक समिति सदस्य और अधिकारी ही उस अनुदान  राशी को अकेले डकार गए।

 

 

उन्होंने जारी की गई अनुदान राशी की उच्च स्तरीय जांच की मांग की हैसमिति प्रधान चुने जाने के बाद पहली बैठक उससे पहले कब कितनी राशी की गई वितरित नहीं संज्ञान में:ब्लॉक समिति प्रधान राजेश कुमार मटैर ने बताया कि 12 मार्च 2020 ब्लॉक समिति सदस्यों द्वारा मुझे समिति प्रधान चुना गया था। प्रधान बनने के बाद आज मंगलवार को 20 ब्लॉक समिति सदस्यों की मौजूदगी में बीडीपीओ कार्यालय में प्रथम मीटिंग हुई है। जिसमें करीब 40 लाख रुपए के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई है।

 

 

 

 

उन्होंने बताया कि ग्रांट वितरण में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं किया गया है। इससे पहले जो विकास कार्यों को लेकर मीटिंग हुई है वह दूसरे प्रधान की देखरेख में हुई है तथा उनके द्वारा कब कितने विकास कार्य को मंजूरी दी गई है वह उनके संज्ञान में नहीं है।अनुदान राशी वितरण में किसी प्रकार का कोई भेदभाव नहीं: बीडीपीओबीडीपीओ फूल सिंह ने बताया मंगलवार की हुई ब्लॉक समिति सदस्यों की बैठक मैं करीब 40 लाख रुपए के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई है। सभी ब्लॉक समिति सदस्यों को जो प्रस्ताव पास किया गया है वह पढ़कर सुनाया गया था। सबकी सहमति से ही विकास कार्य को मंजूरी दी गई है। अनुदान राशी वितरण में किसी प्रकार का कोई भेदभाव नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि वार्ड 10 से ब्लॉक समिति सदस्य पूनम वाला द्वारा इस्तीफा सौंपा गया है जो उच्च अधिकारियों को प्रेषित कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Breaking News