आनी-निरमंड क्षेत्र से सहकारी दुग्घ समितियों ने सीएम राहत कोष को दिए 5.24 लाख

कुल्लू :- (दिलाराम भारद्वाज ब्यूरो )आनी और निरमंड का क्षेत्र दुग्ध उत्पादन में जहां अग्रणी रहा…

मस्ताना राइस मिल (Kaithal)में लेबर ठेकेदार और चौकीदारों के बीच हुआ झगड़ा

मस्ताना राइस मिल में लेबर ठेकेदार और चौकीदारों के बीच हुआ झगड़ा झगड़े के चलते गेहूं…

न्यूयोर्क (New York)में इंडियन ऑफिसर्स सोसाइटी भारतीय कम्युनिटी की सेवा मे लगी

न्यूयोर्क में इंडियन ऑफिसर्स सोसाइटी भारतीय कम्युनिटी की सेवा मे लगी हुई है The Indian Officers…

बड़ी खबर –पुरुषों के सीमेन (Semen)में मिला  कोरोनो(corona) वायरस

बड़ी खबर –पुरुषों के सीमेन में मिला  कोरोनो वायरस Big news – corono virus found in…

08 मई 2020 का राशिफल(Horoscope):उन्हें आज मिलेगा कोई नया कार्यभार..!!!

08 मई 2020 का राशिफल:: इस राशि के जो लोग राजनीति से है जुड़े, उन्हें आज…

विज बोले करोड़ो की शराब आखिर गई कहाँ  ?यह मेरा फैसला, दुष्यंत ने नहीं की जांच की मांग,

विज बोले, दुष्यंत ने नहीं की जांच की मांग, यह मेरा फैसला,सभी जिलों के मालखानों की हो सकती है जांच
अब शराब घोटाले के एसआईटी गठन पर घमासान,आबकारी विभाग नहीं दे रहा जांच अधिकारी का नाम

Vij said, Dushyant did not demand investigation, this is my decision
Malls in all districts can be investigated
Now the scandal over the SIT formation of liquor scam
Excise department is not giving name of investigating officer

 

 

चंडीगढ़(अटल हिन्द ब्यूरो ) हरियाणा के सोनीपत में लॉकडाउन के दौरान हुए शराब घोटाले की जाच को लेकर नया विवाद छिड़ गया है। कटघरे में आया आबकारी विभाग जांच अधिकारी का नाम नहीं दे रहा है और गृहमंत्री अनिल विज ने दावा किया है यह जांच आबकारी मंत्री के कहने पर नहीं बल्कि वह खुद अपने स्तर पर करवा रहे हैं। विज के इस बयान से जहां विभागीय कार्यप्रणाली संदेह के दायरे में आ गई है वहीं भाजपा व जजपा मंत्रियों के बीच नया विवाद शुरू हो गया है।

लॉकडाउन की अवधि के दौरान सोनीपत के खरखौदा में पुलिस द्वारा बनाए गए माल खाने से करोड़ों रुपए की शराब गायब हो गई थी। दो दिन पहले कैबिनेट बैठक के बाद दुष्यंत चौटाला ने मीडिया से बातचीत में दावा किया था कि वह इस मामले की जांच करवाना चाहते हैं। जिसके चलते गृहमंत्री अनिल विज ने गत दिवस एसआईटी से जांच करवाने के आदेश जारी कर दिए। विज के इन आदेशों से गृह विभाग बुधवार को ही अधिसूचित कर दिया।

एक्साइज विभाग की ओर से इस एसआइटी में शामिल होने के लिए किसी अधिकारी का नाम नहीं दिए जाने से संदेह के बादल मंडरा रहे हैं। पुलिस व सिविल प्रशासन की ओर से एडीजीपी व प्रधान सचिव रैंक के दो अधिकारियों के नाम लगभग तय हैं, लेकिन एक्साइज विभाग अभी तक यह तय नहीं कर पाया कि इस एसआइटी में किसे शामिल किया जाए।

 

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने आबकारी एवं कराधान विभाग के अधिकारियों के इस रुख पर चिंता जाहिर करते हुए सवाल खड़े किए हैं। बृहस्पतिवार को गृह मंत्री अनिल विज ने दो टूक कह दिया कि इस बारे में दुष्यंत चौटाला की उनसे कोई बात नहीं हुई है और एसआइटी बनाने का फैसला उनका अपना है, ताकि यह पता चल सके कि करोड़ों रुपये के शराब घोटाले में कौन-कौन अधिकारी, पुलिस व प्रशासन के अफसर, शराब माफिया और ठेकेदार शामिल हैं।

अनिल विज ने एसआइटी बनाने के निर्देश देते हुए गृह सचिव विजयवर्धन से कहा है कि इस तरह की जांच हर जिले में शराब को गोदामों में कराए जाने की जरूरत है, ताकि पता चल सक़े कि शराब माफिया ने किस तरह से लाकडाउन के दौरान अपना खेल खेला है। गृह मंत्री के अनुसार जिन ठेकेदारों के ठेके समाप्त हो चुके हैं, उनके पूरे स्टाक की जांच होनी चाहिए। लाकडाउन में यदि शराब नहीं बिकी तो उनके पास बचा हुआ स्टाक मिलना चाहिए, लेकिन जहां तक मेरी जानकारी है, सारा स्टाक निकाल दिया गया है।

क्या है पूरा विवाद

हरियाणा में लाकडाउन के दौरान भले ही शराब के ठेके बंद रहे, लेकिन करोड़ों रुपये की शराब की अवैध बिक्री हुई है। लाकडाउन में ही एक बार पांच लाख बोतलें शराब की पकड़ी गई हैं। खरखौदा में एक गोदाम है, जो भूपेंद्र सिंह की पत्नी के नाम पर लीज पर है। इसके दो भाग बने हुए हैं। एक भाग में पुलिस द्वारा पकड़ी गई शराब रखी जाती है और दूसरे भाग में एक्साइज डिपार्टमेंट की शराब होती है, लेकिन हाल ही में यहां से साढ़े पांच हजार शराब की पेटियां गायब हो गई हैं। यहां प्राथमिक जांच के दौरान यह भी मिला कि इस गोदाम में न केवल हरियाणा बल्कि दूसरे प्रदेशों में बनी शराब भी मिली है। गृह मंत्री अनिल विज ने यह स्वीकार करने में जरा भी हिचक नहीं की कि खरखौदा का यह गोदाम शराब की तस्करी के लिए ट्रांजिट प्वाइंट के रूप में इस्तेमाल होता रहा है। फतेहाबाद में भी शराब की भारी चोरी और तस्करी हुई है।

किस ‘इडियट’ ने लिया फैसला,शराब की दुकानें खोलने का

शराब की दुकानें खोलने पर भड़कीं सिमी ग्रेवाल, कहा किस ‘इडियट’ ने लिया फैसला किस ‘इडियट’…

अंजली फ़िल्म(Film) प्रोडक्शन्स एवम सिटीसीएस फैमिली का संयुक्त अभियान के अंतर्गत विभिन्न एक्टिविटीज़

प्रेरणा अभियान-रक्तदान के मुद्दे पर हुआ पोस्टर जागरूकता प्रयास अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन्स एवम सिटीसीएस फैमिली का…

मदद के लिए आगे आए युवा,50 गलियों को सेंटाइज किया

  मध्यम वर्ग से ग्राउंड लेवल पर मदद के लिए आगे आए युवा लगभग 50 गलियों…

दस कुत्ते अचानक कैसे मर गए ,गांव वाले भी हैरान 

दस कुत्ते अचानक कैसे मर गए ,गांव वाले भी हैरान   How the ten dogs died…

Translate »
error: Content is protected !!
Breaking News