Thursday, January 17, 2019
Follow us on
Punjab

पांच खालिस्तानी समर्थकों में से तीन को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्ट्डी में भेजा

अटल हिन्द ब्यूरो | June 13, 2018 07:53 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

गिरफतार किये पांच खालिस्तानी समर्थकों में से तीन को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्ट्डी में भेजा

दो समर्थकों का पुलिस को तीन दिन का ओर रिमांड मिला, ‌रिमांड में ओर अहम खुलासे होने की संभावना

फोटो- 13जीडीआरबीटीएलपी01

कैप्शन- बटाला कोर्ट परिसर के बाहर डीएसपी सुच्चा सिंंह बल जानकारी देते हुए।

(रघुवंशी,कंवल)

बटाला। बटाला पुलिस ने खालिस्तानी गतिविधियों में शामिल पकड़े गये पांच युवकों को बटाला कोर्ट में बुधवार को पेश किया। कोर्ट ने उक्त पांचों में से तीन आरोपी युवकों को 14 दिनों की ज्यूडिशियल कस्ट्डी में भेजा दिया है जबकि अन्य दो आरोपियों के पुलिस रिमांड में बढ़ोतरी करते हुए ओर तीन दिन का पुलिस रिमांड दिया है। इस संबंध में कोर्ट के बाहर डीएसपी सिटी बटाला सुच्चा सिंह बल ने बताया कि उक्त पांचों आरोपियों को बुधवार को बटाला की कोर्ट में पेश किया है। जिसमें कोर्ट ने हरनाम सिंह,निर्मल सिंह दोनों भाईयों और रविंदर सिंह राजा को 14 दिनों के लिये ज्यूडिशियल कस्ट्ड़ी में भेज दिया गया है जबकि अन्य दो आरोपी धरमिंदर सिंह उर्फ कमांडों औैर किरपाल सिंह का पुलिस को ओर तीन का रिमांड मिला गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस को मिले तीन दिन के रिमांड के दौरान दोनों गिरफतार आरोपियो से पूछताश की जायेगी। फिलहाल पुलिस की ओर से जांच जारी है ओर अ‌हम खुलासे होने की संभावना है।

यह है मामला- 1 जून को खालिस्तानी गति‌विधियों में शामिल धरमिंदर सिंह उर्फ कमांडो (21) निवासी गांव हरपुरा बटाला ,किरपाल सिंह (26) निवासी फतेहपुर नवां पिंड जिला तरनतारन दोनों को बटाला के गांव हरपुरा में स्थित धरमिंदर सिंह के घर से बटाला पुलिस ने गिरफतार किया था । धरमिंदर सिंह सेना की 105 युनिट राजपूताना राईफल्स में सैनिक था और जनवरी 2016 में भर्ती हुआ था ।धरमिंदर सिंह ने टेरोटोरियल आर्मी में 9 महीने की बेसिक ट्रैनिंग ली थी, जिसमें हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी शामिल थी। उक्त दोनों ने ही गांव हरपुरा दंधोई और पंज गराइयां के गांवों में 30 मई की रात को शराब के ठेकों को आग लगाई थी। उक्त दोनों का मकसद क्षेत्र मेखालिस्तानी विचारधारा को फैलाना था और 1 जनू से 6 जून तक चलने वाला वाले घल्लूघारा सप्ताह में हिंसक गतिविधियां करके मीड़िया और सोशल मीडिया को अपनी ओर खींचना था। उक्त दोनों आरोपियों से पुलिस ने दो रिवालवर, दीवारों पर लिखने वाला स्प्रे पेंट इसके अलावा सिख रिफरेंडम 2020 से संबंधित पोस्टर, खालिस्तान जिंदाबाद के पोस्टर और एक मोटरसाइकल भी बरामद किया था। उसके बाद पुलिस ने जब जांच शुरू की तो सवाल यह पैदा हो गया कि दो रिवालवर किसने दिये और कहांं से आये। इसके बांद जांच पड़ताल के दौरान पुलिस ने पता लगाया कि य‌ह दोनों रिवालर उक्त दोनों आरोपियों को रविंदर सिंह उर्फ राजा वासी गांव दौलतपुर ने दिये थे। पुलिस ने 2 जून को रविंदर राजा को भी गिरफतार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने 4 जून 2018 को उक्त तीन लोगों को फंडिंग करने वाले दो भाईयों हरनाम सिंह औैर निर्मल सिंह जो मन्नी प्रोवाइडर थे ,को भी गिरफतार कर लिया। उक्त दोनों भाईयों का भी पुलिस रिमांड लिया गया। उक्त दोनों ही आरोपी भाईयों को कोई विदेशों से पैसा भेजता था और उक्त यह दोनों ही आगे विभिन्न जगहों पर पैसे का प्रसार करते थे।

Have something to say? Post your comment
More Punjab News
अकाली दल को छोड कर गए चार पार्षद अपने साथियों समेत मनप्रीत बादल की हाजरी में होगें कांग्रेस में शामिल
आठ पुलिस वालों समेत नौ पर केस दर्ज करने के दिए आदेश पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने
बठिंडा कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष के घर पर हरियाणा पुलिस की छापामरी
जीरकपुर की अवैध मंडी में आग से दिनभर राख में उम्मीद ढूंढते रहे सभी दुकानदार
जीरकपुर : कांग्रेस जिला उपप्रधान की फिर बढ़ी मुश्किलें,महिला से बदतमीजी और हाथापाई करने का आरोप
बठिंडा में सुनवाई न होने पर गुस्साए लोगों ने पुलिस चौकी के आगे लगाया धरना
बठिंडा-विवाहता ने लगाया एसजीपीसी के तीन कर्मीयों पर दुष्कर्म का आरोप
अभिनेता अक्षय से राम रहीम और सुखबीर बादल के बीच बैठक को लेकर सवाल दागे आज एसआईटी ने
बड़ा खुलासा: अमृतसर ग्रेनेड हमले में एक गिरफ्तार,
पत्रकार ग्रोवर पर मरने के लिए मजबूर करने का केस दर्ज