Sunday, March 24, 2019
BREAKING NEWS
10 के सिक्के नहीं लेने पर एफआईआर—-आरबीआई के टोल फ्री नंबर 144040फरीदाबाद पहुंचे प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त -लोकसभा चुनाव को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा दो दिवसीय वॉलीवाल प्रतियोगिता के पहले दिन लडकियों की प्रतियोगिता करवाईजिला अस्पताल में पड़पते आदमी की आवाज बनी कमला यादव, लेकिन उसके बाद क्या ?कुताना--शवों को रखकर धरना-प्रदर्शन करते हुए रिफाइनरी अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कीविकास उर्फ पिंटू हत्याकांड :- आज तक भी नही थमे परिजनों के आंसू, रो-रोकर पत्नी का भी हाल बेहालहर व्यक्ति में देश के प्रति सच्चा जनून होना चाहिए :-राजेश वशिष्ठ कुलदीप बिश्रोई की गैर-मौजूदगी सेचली भाजपा में जाने की चर्चाएंलिंग जांच की सूचना दे, दो लाख का ईनाम लेबिना दहेज केवल 1 रुपया लेकर भाजपा नेत्री के बेटे ने कर ली शादी

Punjab

जमीनी विवाद के चलते चाचा-भतीजा ने कीटनाशक दवाई निगली, दोनों गंभीर

June 14, 2018 08:53 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
जमीनी विवाद के चलते चाचा-भतीजा ने कीटनाशक दवाई निगली, दोनों गंभीर
बटाला (रघुवंशी, कंवल) गांव नसीरपुर में जमीनी विवाद को लेकर अपने खेतों में कीटनाशक दवाई का छिड़काव कर रहे किसान चाचा-भतीजा ने वही जहरीली दवा निगल ली। इस दवाई निगलने से उक्त दोनों की हालत गंभीर हो गई। 108 एंबूलेंंस से उक्त दोनों को बटाला के सिविल अस्पताल पहुंचा गया मगर वहां के डॉक्टरों ने उनकी गंभीर हालत को देखते उन्हें अमृतसर रेफर कर दिया है। वहीं, परिवार का आरोप है कि एक पुलिस अधिकारी और उसके साथियों की ओर से दिखाई गई धौंस से तंग परेशान होकर दोनों चाचा-भतीजा ने कीटनाशक दवाई निगली है। इस संबंध मेंं पारिवारिक सदस्य मनजिंदर सिंह ने बताया कि वीरवार की शाम को भतीजा रणजीत सिंह और चाचा बलविंदर सिंह दोनों निवासी नसीरपुर अपने खेत में बोई पनीरी पर दवा का छिड़काव कर रहे थे। तभी अचानक एक पुलिस अधिकारी कुछ लोगों के साथ वहां पर आ गया। वह कहने लगा कि उनकी जमीन का कुछ हिस्सा उसकी साथ लगती जमीन के अधीन ही आता है। मनजिंदर ने बताया कि वह अपनी वर्दी का धौंस जमाते हुए उनकी जमीन को अपनी बता रहा था और उन्हें तंग परेशान कर रहा था। तभी रणजीत और बलविंदर ने उसे कहा कि अगर वह उन्हें तंग करेगा तो वह यही दवा को निगल लेंगे। इसी दौरान दोनों चाचा-भतीजा ने यह जहरीली दवा निगल ली और उनकी हालत खराब हो गई। पुलिस अधिकारी और उसके साथी मौके से भाग निकले। इसके बाद किसी व्यक्ति द्वारा चाचा-भतीजा के खेतों में पड़े होने संबंधी सूचना परिवार को दी। जिसके बाद परिवार ने मौके पर दोनों को सिविल अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें अमृतसर रेफर कर दिया। मनजिंदर ने बताया कि  इस विवादित जमीन के मामले के संबंध में रणजीत और बलविंदर कई बार संबंधित  विभाग के अधिकारियों के पास गये थे मगर कुछ न हुआ। वहीं पुलिस थाना रंगड नंगल के एसएचओ हरिकृष्ण ने बताया कि आज इस जमीन की निशानदेही थी जिसके लिये संबंधित ‌विभाग के अधिकारी पहुंचे थे। अभी पुलिस निशानदेही को लेकर तहसीलदार की रिपोर्ट का इंतजार कर रही हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस अपनी बनती आगे की कार्रवाई करेगी। 

Have something to say? Post your comment

More in Punjab

पिता अपने दोनों बच्चों समेत ट्रेन के आगे कूदा, पिता-पुत्र की मौत

पडोसन ने कहा तेरी अपतिजनक वीडियों वाइरल हो रही है तो विवाहिता ने जहरीली चीज निगल ली,हालत नाजुक

विदेश भेजने के नाम पर 9 लाख 25 हजार रूपये ठगे

नशे में धुत सफाई कर्मचारियों ने मांगे पैसे, मना करने पर मुंह पर पेट्रोल डाल लगा दी आग

कॉरिडोर की निशानदेही से छेड़छाड़ के आरोपों की जांच के लिये कंस्ट्रक्शन कंपनी के अधिकारी पहुंचे

करतारपुर कॉरिडोर पर पाक से हुई बातचीत, भारत ने कहा- यह द्विपीक्ष वार्ता की शुरूआत नहीं

लैंड पुट अथारिटी ने कॉरिडोर निर्माण को लेकर डेरा बाबा नानक की भारत-पाकि सीमा पर दौरा किया

पांच बैंकों में डैकेती की वारदात को अंजाम देने वाले दो युवक गिरफ्तार, चार फरार

दिन दिहाड़े इंप्रवूमेंट ट्रस्ट के रिटायर्ड अधिकारी की गोली मार की हत्या

आसमान की तरफ से आई गोली महिला की जांघ में लगी