Monday, January 21, 2019
Follow us on
Punjab

कीटनाशक दवाई ‌निगलने वाले चाचा-भतीजा समेत तीन पर मामला दर्ज

अटल हिन्द ब्यूरो | June 15, 2018 05:12 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

कीटनाशक दवाई ‌निगलने वाले चाचा-भतीजा समेत तीन पर मामला दर्ज

पुलिस ने आत्म-हत्या के प्रयास औैर सरकारी काम में बाधा डालने के आरोप में तीनोंं को किया नामजद

(रघुवंशी,कंवल)

बटाला। आत्म हत्या करने के प्रयास, सरकारी काम में बाधा डालने और धमकाने के आरोप में वीरवार को कीटनाशक दवाई निगलने वाले चाचा बलविंदर सिंह और भतीजा रंजीत सिंह समेत तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नही हुई है। उक्त तीनों आरोपियों के खिलाफ थाना रंगड नंगल में हल्का श्री हरगोबिंदपुर के नायब तहसीलदार कम डिऊटी मेजिस्ट्रेट अमरजीत सिंह के बयानों पर मामला दर्ज किया गया है।

इस संबंध मेंं जानकारी देते हुए थाना रंगड नंगल के एएसआई रजिंदरपाल ने बताया कि गांव नसीरपुर की इस विवादित जमीन की निशानदेही के लिये माल विभाग ने बकायदा तौर पर वीरवार को पुलिस प्रोटैक्शन ली थी। इससे पहले भी निशानदे‌ही करने में बांधा डालने के आरोप में कानूगों के बयान पर उक्त लोगों पर मामला दर्ज किया गया था। एएसआई ने आगे बताया कि उक्त चाचा-भतीजा के खेतों के साथ लगती जमीन के मालिक ने माल विभाग को कहा था कि उसने अपने खेतों के बीच अपना ट्रैक्टर ले जाने के लिये रास्ता बनाया था,जिसके कुछ हिस्से को काट कर उक्त आरोपियों ने अपने ‌हिस्से में मिला लिया है सो माल विभाग उनकी जमीन की सही रूप से निशानदेही करे। इस निशानदेही देने लेकर वीरवार को माल विभाग के अधिकारी निशान सिंह कानूनों,पटवारी गुुरपाल सिंह और डियूटी मेजिस्ट्रेट और थाना रंगड नंगल की पुलिस गांव नसीरपुर में पहुंची। विभाग के अधिकारियों जब निशानदेही करने लगे तो बलविंदर सिंह ने ऊंचा-ऊंचा बोलना शुरू करके निशानदेही में विघन डालना शुरू कर दिया । इसके अलावा बलविंदर का भाई बलदेव सिंह ने डियूटी पर तैनात कर्मचारियों को बुरा बला कहना शुरू कर दिया। इसी दौरान बलविंदर सिंह ने नशीली दवाई निगलने की कोशिश की तो पुलिस ने उसके हाथों से दवाई छीनने की कोशिश की तो वह दवाई भतीजे रंजीत सिंह पर भी जा गिरी। जिससे दोनों चाचा-भतीजा बेहोश हो गये। उक्त दोनों को एंबूलेंस में अस्पताल पहुंचा गया। इस संबंध में एएसआई राजिंदरपाल ने आगे बताया कि पुलिस थाना रंगड़ नंगल में बलविंदर सिंह,उसके भाई बलदेव सिंह और भतीजा रंजीत सिंह वासी नसीरपुर के खिलाफ धारा 309,186,506 के तहत मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल उपचारधीन होने की वजह से आरोपियों की गिरफ़तारी नही हो सकी है। वहीं वीरवार को बलविंंदर सिंंह और रंजीत सिंंह के पारिवारिक सदस्यों ने आरोप लगाया था कि जमीन की निशानदेही को लेकर चाचा भतीजा को मानसिक रूप से तंग परेशान किया जा रहा था तो उक्त दोनों ने खेतों में छिड़काव करने वाली नीटनाशक दवाई को निगल लिया था और उनकी हालत गंभीर हो गई थी।

Have something to say? Post your comment
More Punjab News
दुष्कर्म पीडिता ने बठिंडा थाना प्रभारी पर लगाए आरोप ,कह रहा है पैसे लेकर केस दफा करो
नाबालिगों को शराब पिलाने वाले होटल में पुलिस ने की छापामरी
गुंडागर्दी का नंगा नाच, पत्रकार को घेर कर डेढ दर्जन हमलवारों ने पीटा…
अकाली दल को छोड कर गए चार पार्षद अपने साथियों समेत मनप्रीत बादल की हाजरी में होगें कांग्रेस में शामिल
आठ पुलिस वालों समेत नौ पर केस दर्ज करने के दिए आदेश पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने
बठिंडा कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष के घर पर हरियाणा पुलिस की छापामरी
जीरकपुर की अवैध मंडी में आग से दिनभर राख में उम्मीद ढूंढते रहे सभी दुकानदार
जीरकपुर : कांग्रेस जिला उपप्रधान की फिर बढ़ी मुश्किलें,महिला से बदतमीजी और हाथापाई करने का आरोप
बठिंडा में सुनवाई न होने पर गुस्साए लोगों ने पुलिस चौकी के आगे लगाया धरना
बठिंडा-विवाहता ने लगाया एसजीपीसी के तीन कर्मीयों पर दुष्कर्म का आरोप