Tuesday, March 26, 2019
BREAKING NEWS
लव-अफेयर गाने का केस बना विवाद , कार्रवाई कैसे हो, पुलिस को धारा नहीं पतामनोहर की चुनावी गूंज, पानीपत की धरती में इस तरह हुआ स्वागतपार्टी उम्मीदवार की मृत्यु के बाद अगर नामांकन वापिस नहीं लिया जाता तो मतदान की प्रक्रिया स्थगित कर दी जाएगी।हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष को लेकर कांग्रेस में गुटबंदी , किरण व कुलदीप सहित कई दावेदारगांव झुम्पा कलां का है मामला, ग्रामीणों का मर चुका जमीरवैश्य समाज ने फरीदाबाद से भी माँगी भाजपा की टिकटसीएम बनाओगे तो लडूंगा चुनाव -बीरेंद्र फरीदाबाद औषधि नियंत्रण विभाग ने छापा मारकर अवैध मेडिकल स्टोर का पर्दाफाश किया नोटबंदी और जी.एस.टी. ने देश की अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ी : अजादकरनाल मेरठ रोड पर दर्दनाक सड़क हादसा,2 की मौत

Haryana

हृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधन

July 12, 2018 07:18 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

हृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधन
राजकीय सम्मान के साथ गमगीन माहौल में किया अंतिम संस्कार


महेंद्रगढ़ (प्रिंस लांबा)।

 

गत 11 जुलाई को देर रात ड्यूटी के दौरान हृदय गति रूकने से हवलदार लीलाराम का निधन हो गया। आज उनके पार्थिव शरीर का गांव मालड़ा सराय में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। जांबाज की अंतिम विदाई के मौके पर पूरा गांव व आसपास के गांव के सैकड़ों लोग उमड़ पड़े तथा लोगों ने अश्रुपूर्ण माहौल में अपने जांबाज लाडले को अंतिम विदाई दी। आर्मी की ओर से सूबेदार महेंद्र यादव 102 गार्ड रेजीमेंट अलवर की तरफ से सैनिक के शव को तिरंगे में लेकर गांव पहुंचे तथा राजकीय सम्मान प्रदान करते हुए मातमी धून बजा, शस्त्र उल्टे कर श्रद्धांजलि दी।

सूबेदार महेंद्र यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि लीलाराम आर्मी की 102 गार्ड रेजीमेंट अलवर में हवलदार के पद पर कार्यरत था। गत 11 जुलाई को वह अपनी यूनिट के साथ किसी काम से हिसार गया हुआ था जहां देर रात्रि अचानक वह बेहोश हो गया। जिसे देखकर लीलाराम के साथियों ने उन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया तथा वहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

उन्होंने बताया कि लीलाराम बेहद अनुशासनप्रिय, होनहार व जांबाज सैनिक था तथा मिलनसार स्वभाव के चलते वह सबसे मित्रतापूर्वक व्यवहार करता था। उनकी उम्र 37 वर्ष थी। उनके पीछे उनकी माता संतरा, पत्नी व दो लडक़े रह गए हैं। जैसे ही बृहस्पतिवार शाम को ग्रामीणों को अपने जांबाज सैनिक की मौत का पता चला तो गांव में सन्नाटा छा गया तथा शौक का गमगीन माहौल बन गया। अंतिम संस्कार के इस मौके पर पूर्व जिला प्रमुख सुरेंद्र कौशिक, सरंपच बिल्लु मालड़ा सराय, जिला पार्षद प्रदीप मालड़ा, युद्धवीर पालड़ी, कनीना सरंपच एसोसिएसन के प्रधान रविंद्र गागड़वास सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने पुष्प अर्पित कर लाडले सैनिक को श्रदांजली दी।

 


फोटो कैप्शन: पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देते हुए यूनिट सदस्य व ग्रामवासी।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

सीएम बनाओगे तो लडूंगा चुनाव -बीरेंद्र

फरीदाबाद औषधि नियंत्रण विभाग ने छापा मारकर अवैध मेडिकल स्टोर का पर्दाफाश किया

करनाल मेरठ रोड पर दर्दनाक सड़क हादसा,2 की मौत

बाल भवन के बच्चों द्वारा देर रात भवन छोडऩे व प्रबधंकों पर लगाए गंभीर आरोपों की जांच शुरू

मधुबन बाल भवन से बच्चे गायब होने के बाद प्रशासन में मचा हडकंप

खेलों से बढ़ता है भाईचारा:रेखा राणा

गांव बीबीपुर में युवाओं ने ओंकार को तहेदिल से भाजपा का सहयोग करने का दिया आश्वासन देश के चहुंमुखी विकास के लिए दोबारा से नरेन्द्र मोदी का प्रधानमंत्री बनना जरूरी:-संदीप ओंकार

गांव गुमथला गढू में शुगर मिल प्रबंधक जगदीप सिंह की उपस्थिति में गन्ना कटाई व छिलाई मशीन का ट्रायल युवा सरपंच गगनजोत सिंह संधू ने कहा कृषि क्षेत्र में विज्ञान के आने से उन्नत हुआ है किसान

नकल रहित परीक्षा करवाना ही जिला प्रशासन का उद्देश्य : सोनी

रबी की फसल का खरीदा जाएगा एक-एक दाना, मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर दर्ज किसान की ही खरीदी जाएगी सरसों : राजेश खुल्लर