Sunday, March 24, 2019
BREAKING NEWS
10 के सिक्के नहीं लेने पर एफआईआर—-आरबीआई के टोल फ्री नंबर 144040फरीदाबाद पहुंचे प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त -लोकसभा चुनाव को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा दो दिवसीय वॉलीवाल प्रतियोगिता के पहले दिन लडकियों की प्रतियोगिता करवाईजिला अस्पताल में पड़पते आदमी की आवाज बनी कमला यादव, लेकिन उसके बाद क्या ?कुताना--शवों को रखकर धरना-प्रदर्शन करते हुए रिफाइनरी अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कीविकास उर्फ पिंटू हत्याकांड :- आज तक भी नही थमे परिजनों के आंसू, रो-रोकर पत्नी का भी हाल बेहालहर व्यक्ति में देश के प्रति सच्चा जनून होना चाहिए :-राजेश वशिष्ठ कुलदीप बिश्रोई की गैर-मौजूदगी सेचली भाजपा में जाने की चर्चाएंलिंग जांच की सूचना दे, दो लाख का ईनाम लेबिना दहेज केवल 1 रुपया लेकर भाजपा नेत्री के बेटे ने कर ली शादी

Sports

नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में रावमावि सतनाली में विद्यार्थियों ने जीते 3 स्वर्ण पदक

October 03, 2018 06:36 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में रावमावि सतनाली में विद्यार्थियों ने जीते 3 स्वर्ण पदक
विद्यालय में कार्यक्रम आयोजित कर विजेता खिलाडिय़ों का किया गया जोरदार स्वागत व सम्मान


सतनाली मंडी (प्रिंस लांबा)।

 

करनाल में आयोजित राष्ट्रीय स्तर की मुक्केबाजी प्रतियोगिता में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सतनाली के विद्यार्थियों ने लहराया परचम, जीते 3 स्वर्ण पदक। 28 से 30 सितंबर तक करनाल में आयोजित नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सतनाली में विद्यार्थी ने खेलते हुए 3 स्वर्ण पदक अपने नाम किए। प्रतियोगिता में परचम लहराने की खुशी में स्कूल प्रांगण में विजेता विद्यार्थियों के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें प्राचार्या संतोष देवी द्वारा उन्हें सम्मानित किया गया। राष्ट्रीय स्तर की बॉक्सिंग प्रतियोगिता में विद्यालय के विद्यार्थी राहुल पुत्र ईश्वर सिंह, बंटी पुत्र राजू सिंह, पंकज पुत्र रमेश कुमार ने अंडर-17 में खेलकर अपने पंच का दमखम दिखाते हुए तीन स्वर्ण पदक हासिल किए।

विजेता खिलाडिय़ों को सम्मानित करते हुए प्राचार्या संतोष देवी ने कहा कि खेलों से शरीर तो स्वस्थ रहता ही है, साथ ही हमारा आत्मविश्वास बढ़ता है तथा जीवन में आगे बढ़ते रहने की प्रेरणा मिलती है। खेलों से भविष्य का निर्माण होता है तथा आगे चलकर जीवन में सहायक सिद्ध होते हैं। खेलों को मतलब हार या जीत नहीं है बल्कि खेल भाईचारे व राष्ट्रीय एकता को बढ़वा भी देते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में क्षेत्र से अनेकों खेल प्रतिभाएं उभकर आई हैं, जिन्होंने अपने क्षेत्र का नाम राज्य या राष्ट्रीयस्तर पर ही नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी रोशन किया है। जो हमारे लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि विजेता विद्यार्थी काफी बेहतर खिलाड़ी है, जो खेल के साथ-साथ पढ़ाई में अच्छे हैं। विद्यालय के प्रत्येक बच्चे को इन विजेता खिलाडिय़ों से प्रेरणा लेकर खेलों में हिस्सा लेना चाहिए व कड़ी मेहनत कर अपने माता-पिता का नाम रोशन करना चाहिए। इस अवसर पर समस्त विद्यालय स्टॉफ उपस्थित रहा।


फोटो कैप्शन: विजेता खिलाडिय़ों को सम्मानित करते शिक्षक।

Have something to say? Post your comment

More in Sports

तोशाम के गांव बुशान में बाबा बीरबल नाथ के मेले व विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन

किकबाक्सिंग चैम्पियनशिप में फरीदाबाद डै्रगन मार्शल आर्टस एकेडमी ने कब्जा जमाया

खेलों से समय के महत्व, अनुशासन तथा टीम भावना का विकास होता है- प्रियंका सोनी

पूंडरी-छेड़छाड़ से परेशान राष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ी ने दे दी जान

गुरु तेग बहादुर खालसा पब्लिक स्कूल की छात्राओं ने जीता गोल्ड व सिल्वर मैडल

हरियाण केसरी का खिताब विशाल पुत्र कुलदीप निवासी झज्जर ने अपने नाम किया

महिला पहलवानों ने हरियाणा का नाम चमकाया है विश्व पटल पर : अतिरिक्त उपायुक्त

हरियाणा केसरी व कुमारी दंगल के दूसरे दिन विभिन्न आयु वर्गो में कुश्ती अखाड़ा प्रतियोगिता आयोजित

दीवाल इन्टरनैशनल स्कूल थाना में एक दिवसीय कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन

नवदीप स्टेडियम में हॉस्टल की बिल्डिंग का उद्धाटन