Tuesday, April 23, 2019
BREAKING NEWS
ललित के समर्थन में 84 पाल ने की पंचायत, टिकट काटने में षड्यंत्र रचा गया निजी स्कूलों को मिली चेतावनी, 23 अप्रैल तक सीटों की जानकारी दें, या अन्यथा होगी कार्रवाईबेकसूर धर्म पाल 3 साल से बंद हॉन्ग कॉन्ग की जेल मेंसैंकड़ों महिला पुरूषों ने एसडीएम कार्यालय का घेराव कर सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जोरदार किया प्रदर्शनकृपया किसी भी पार्टी के प्रत्याशी वोट मांगकर शर्मिंदा न करेंवर्तमान समय में कानूनी साक्षरता का महत्व बढ़ गया है-प्रियंका सोनीकृष्णपाल गुर्जर ने चुनावी सभा में मनमोहन गर्ग को दिया विधानसभा के लिये आशीर्वाद।रोहित लामसर बने बॉडी बिल्डिंग एवं फिटनेस एसोसिएशन के मीडिया प्रभारीकैथल एसपी के साथ कैथल के गणमान्य व्यक्तियों बैठक ,कहा यातायात व्यस्था सुधारने में जनता सहयोग करे ऐलनाबाद-स्कूल संचालिका द्वारा 11वर्षीय छात्र के साथ मारपीट करने का मामला

National

मनोज तिवारी विवादों का नाम या सुर्ख़ियों में रहने और आप को बदनाम करने का ?

November 05, 2018 12:57 AM
अटल हिन्द ब्यूरो

 

 
 
मनोज तिवारी विवादों का नाम या सुर्ख़ियों में रहने और आप को बदनाम करने का ?
दिल्ली सिग्नेचर ब्रिजः , बिना बुलाये पहुंचे थे तिवारी 
नई  दिल्ली (अटल हिन्द )मनोज तिवारी नाम हमेशा सुर्ख़ियों में  बना रहना चाहता है , चाहे उसे इसके लिए कुछ भी करना पड़े , मनोज तिवारी नाम का यह व्यक्ति  दिल्ली भाजपा का अध्य्क्ष भी है  जिसे दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार रास नहीं आ रही और दिल्ली सरकार के साथ जब से एलजी  के साथ विवाद काम होने शुरू हुए है उसके बाद यह सिलसिला मनोज तिवारी ने शरू कर दिया  कहना गलत नहीं होगा  क्योकि नई दिल्ली में 14 सालों के लंबे इंतजार के बाद दिल्ली के बहुप्रतीक्षित सिग्नेचर ब्रिज का रविवार को उद्घाटन तो हो गया, लेकिन इस दौरान काफी नाटकीय घटनाएं घटीं।
 
(SUBHEAD)
निर्माण का श्रेय लेने की होड़ में नेताओं ने सियासी गरिमा को तार-तार कर दिया। उद्घाटन समारोह में बिन बुलाए पहुंचे दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष और स्थानीय सांसद मनोज तिवारी को आप  विधायक अमानतुल्ला खान ने मंच से धक्का दे दिया।ऐसा कहना है मनोज तिवारी का  पहली बात तो यहाँ मनोज तिवारी आम आदमी पार्टी के कार्यक्रम में बिना बुलाये क्यों गए और गए तो मंच पर क्यों बैठे या मंच के पास क्यों गए खासकर वहां जहाँ आप  विधायक अमानतुल्ला खान  खड़े थे , यह बात शायद ही किसी को हजम हो की किसी दूसरी पार्टी का नेता वो भी प्रदेश अध्य्क्ष और सांसद बिना किसी निमत्रण के विरोधी पार्टी के मंच पर पहुंच जाता है और फिर उसके साथ धक्का मुक्की होती है (ऐसा वायरल वीडिओ में भी देखा जा सकता है जिसमे मनोज तिवारी उछल उछल कर किसी को मारने की कोशिश करते दिख रहे है )इस पर मनोज तिवारी का कहना है की उसे   पास खड़े पुलिसवालों ने बचा लिया और वह मंच से गिरते-गिरते बचे।
हजारों की भीड़ के सामने जब यह वाकया हुआ, उस वक्त दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भाषण दे रहे थे। तिवारी ने कहा है कि वह अमानतुल्ला के खिलाफ एफआईआर  दर्ज कराने जा रहे हैं। इससे पहले तिवारी ने ब्रिज के उद्घाटन से पहले हंगामा काटा था और भाजपा और आप  समर्थकों के बीच भिड़ंत हो गई थी।ब्रिज के उद्घाटन के बाद जब केजरीवाल भाषण दे रहे थे, उस दौरान मनोज तिवारी मंच के पास ही खड़े थे। बीजेपी कार्यकर्ता उनके समर्थन में नारे लगा रहे थे। तभी आप  विधायक अमानतुल्ला ने तिवारी को धक्का दिया। इसके बाद तिवारी के समर्थकों ने भी उनके खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। दोनों तरफ के कार्यकर्ताओं ने अपशब्दों का भी इस्तेमाल किया। इस हंगामे के बावजूद केजरीवाल ने अपना भाषण जारी रखा।सीएम केजरीवाल ने कहा, 'देश के लोगों को तहेदिल से बधाई। पहले दिल्ली को लालकिले और कुतुब मीनार के नाम से जाना जाता था, अब इसे सिग्नेचर ब्रिज के लिए भी जाना जाएगा। मुझे उम्मीद है कि बाहर से कोई भी टूरिस्ट भारत आएगा तो वह सिग्नेचर ब्रिज देखने जरूर आएगा। यह 154 मीटर ऊंचा ब्रिज है।'
(SUBHEAD3)
पहले भी हुआ था हंगामा 
दरअसल स्थानीय सांसद और दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी 'बिना निमंत्रण' के उद्घाटन स्थल पर पहुंचे। इस दौरान बीजेपी और आप  के कार्यकर्ता एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। उद्घाटन स्थल पर धक्कामुक्की भी देखने को मिली, जिसे पुलिस ने रोकने की कोशिश की। तिवारी ने जहां आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं और पुलिस पर धक्कामुक्की और बदसलूकी का आरोप लगाया है, वहीं आप  ने तिवारी और उनके समर्थकों पर मारपीट और हुड़दंग का आरोप लगाया है। हालांकि तिवारी का कहना है कि उन्हें निमंत्रण दिया गया था।
 
तिवारी का पुलिसवालों पर भी आरोप, दिल्ली पुलिस की सफाई 
उद्घाटन से पहले मनोज तिवारी का भी एक विडियो सामने आया, जिसमें वह किसी शख्स को मुक्के से मारने की कोशिश करते दिख रहे हैं। इस वाकये को लेकर तिवारी का कहना है कि आप  कार्यकर्ताओं के साथ-साथ वहां मौजूद पुलिसवालों ने भी उनसे धक्कामुक्की और बदसलूकी की। बीजेपी नेता ने कहा, 'पुलिस के जिन लोगों ने मुझसे धक्का-मुक्की की है, उनकी शिनाख्त (पहचान) हो गई है। मैं इन सबको पहचान चुका हूं और 4 दिन में इनको बताऊंगा कि पुलिस क्या होती है।' वहीं, दिल्ली पुलिस ने पुलिसकर्मियों पर लगे आरोपों को खारिज किया है। दिल्ली पुलिस के जॉइंट सीपी ने बयान जारी कर कहा है कि ड्यूटी पर मौजूद कर्मचारियों ने अपना काम किया। जब वहां नारे लगने लगे तो पुलिस ने हिंसा को रोका।
 
अमानतुल्ला पर केस करेंगे तिवारी 
बीजेपी का कहना है कि आप नेता अमानतुल्ला खान ने अपशब्दों का इस्तेमाल किया और तिवारी को धक्का दिया। तिवारी ने कहा है कि वह अमानतुल्ला के खिलाफ एफआईआर  दर्ज कराएंगे। उन्होंने कहा कि आप  विधायक की जमानत रद्द होनी चाहिए। मनोज तिवारी ने कहा है कि धक्का देने से पहले अमानतुल्ला ने किसी से बातचीत की थी। उनका कहना है कि सिग्नेचर ब्रिज का काम दोबारा शुरू करने में उन्होंने मदद की इसके बावजूद उन्हें उद्घाटन समारोह में निमंत्रण नहीं दिया गया। तिवारी ने उद्घाटन कार्यक्रम में नहीं बुलाए जाने को लेकर नाराजगी जताई थी और यह कहते हुए केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा था कि वह मुख्यमंत्री का स्वागत करने के लिए कार्यक्रम स्थल पर मौजूद रहेंगे जो रविवार को पुल का उद्घाटन करने वाले हैं।

Have something to say? Post your comment

More in National

मामा-भांजे पर नामांकन के दौरान बरसे अवतार भड़ाना।

फरीदाबाद कांग्रेस में फेरबदल ललित की जगह अवतार होंगे नए उम्मीदबार।

अर्जुन चौटाला रिकार्ड तोड मतों से जीत का परचम लहराऐंगे : दविंद्र बडतौली

गोयल -गुर्जर के हाथ मिलाने से फरीदाबाद का सियासी पारा गर्म

कुरूक्षेत्र की अपराध शाखा-1 के पुलिस दल ने कार्यवाही करते हुए आरोपी को किया गिरफ्तार ।

वकील फरीदाबाद कोर्ट में बैंक स्टाफ की कमी से परेशान - एडवोकेट पाराशर

चुनावी मंच पर पड़ा कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल में थप्पड़।

विधायक टेकचंद शर्मा ने कृष्णपाल गुर्जर के समर्थन में दिखाया दम ।

जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने कराए कांग्रेस के कार्यकर्त्ता बीजेपी में शामिल |

बेशर्म राजनेता -मौतों पर दुःख प्रकट करने की बजाए सेंक रहे है राजीनितिक रोटियां