Monday, January 21, 2019
Follow us on
Punjab

पूर्व मुख्य मंत्री बादल की सुरक्षा में सेंध एक व्यक्ति को सरकारी रिवालवर समेत दबोचा

अटल हिन्द ब्यूरो | November 09, 2018 07:39 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

पूर्व मुख्य मंत्री बादल की सुरक्षा में सेंध

पूर्व मुख्य मंत्री सुरक्षा दस्ते ने एक व्यक्ति को सरकारी रिवालवर समेत दबोचा


बठिंडा। पंजाब के पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल की सुरक्षा में सेंध का मामला सामने आया है। वीरवार को जब पूर्व मुख्य मंत्री बादल जिले के गांव नंदगढ के समीप एक अकाली वर्कर के पेट्रोल पंप पर आए थे तो वहीं पर डयूटी में तैनात थाना नंदगढ के प्रभारी सब इंस्पैक्टर भूपिंदर सिंह का एक प्राइवेट साथी सरकारी रिवालवर लेकर पूर्व मुख्य मंत्री के कमरे में चला गया। जहां पर बादल की सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारी हरमीक सिंह दयोल ने उक्त पाली नामक व्यक्ति को रिवालवर समेत पकड कर पुलिस के हवाले कर दिया। लेकिन हैरानी की बात है कि जिला पुलिस अधिकारियों ने न तो थाना प्रभारी भूपिंदर सिंह पर कोई कारवाई की और न ही रिवालवर समेत बादल के कमरे से पकडे गए पाली नामक व्यक्ति पर कोई मामला दर्ज किया। एसएसपी नानक सिंह ने खानापूर्ती करते हुए थाना नंदगढ प्रभारी इंस्पैक्टर भूपिंदर सिंह को लाइन हाजर कर दिया।

 

पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल की सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारी हरमीक सिंह दयोल ने बताया कि वीरवार को जब अपने दौरे के तहत बादल अकाली नेता के पेट्रोल पंप पर पहुंचे थे तो वहां पंप पर बने रेस्ट हाऊस में पूर्व मुख्य मंत्री को ठहरा दिया गया । इसी दौरान एक व्यक्ति अपनी कमर में रिवालवर टांग कमरे अंदर घुस आया।संदेह होने पर जब उसे उन्होंने हिरासत में लिया तो पता चला कि उक्त व्यक्ति का नाम पाली है और वो थाना नंदगढ प्रभारी का लांगरी है।दयोल ने बताया कि बादल के कमरे में घुसे व्यक्ति से उन्होंने एक रिवालवर बरामद किया जो जांच करने पर पाया गया कि उक्त व्यक्ति से बरामद रिवालवर थाना नंदगढ प्रभारी इंस्पैक्टर भूपिंदर सिंह का सरकारी रिवालवर है। दयोल ने बताया कि उन्होंने उक्त व्यक्ति को पकड कर पुलिस के हवाले कर दिया है।

 

इस संबंधी जब लाइन हाजिर किए गए थाना प्रभारी इंस्पैक्टर भूपिंदर सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि रिवालवर गाडी में था और ऐसा कोई मामला नहीं हुआ। जब उनसे पूछा गया कि अगर ऐसा मामला नहीं हुआ आप को लाइन हाजिर क्यों किया गया, तो वह फोन काट गए । इस के बाद जब एसएसपी नानक सिंह से बात करने के लिए संपर्क किया गया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया ।

 

बतातें चलें कि पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल को कुछ समय पहले एक युवक ने मारने की योजना बनाई थी।जिसे उत्तर प्रदेश पुलिस ने पकड लिया था। इस के बाद कैप्टन ने बादल की सुरक्षा बढाने का आदेश दिया था।लेकिन उसके बावजूद बठिंडा पुलिस के इंस्पैक्टर की कोताही सामने आना एक बडा सवाल खडा करती है।

Have something to say? Post your comment
More Punjab News
दुष्कर्म पीडिता ने बठिंडा थाना प्रभारी पर लगाए आरोप ,कह रहा है पैसे लेकर केस दफा करो
नाबालिगों को शराब पिलाने वाले होटल में पुलिस ने की छापामरी
गुंडागर्दी का नंगा नाच, पत्रकार को घेर कर डेढ दर्जन हमलवारों ने पीटा…
अकाली दल को छोड कर गए चार पार्षद अपने साथियों समेत मनप्रीत बादल की हाजरी में होगें कांग्रेस में शामिल
आठ पुलिस वालों समेत नौ पर केस दर्ज करने के दिए आदेश पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने
बठिंडा कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष के घर पर हरियाणा पुलिस की छापामरी
जीरकपुर की अवैध मंडी में आग से दिनभर राख में उम्मीद ढूंढते रहे सभी दुकानदार
जीरकपुर : कांग्रेस जिला उपप्रधान की फिर बढ़ी मुश्किलें,महिला से बदतमीजी और हाथापाई करने का आरोप
बठिंडा में सुनवाई न होने पर गुस्साए लोगों ने पुलिस चौकी के आगे लगाया धरना
बठिंडा-विवाहता ने लगाया एसजीपीसी के तीन कर्मीयों पर दुष्कर्म का आरोप