Friday, January 18, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
घरौंडा में अविश्वास प्रस्ताव के 15 दिन बाद आज पत्रकारों के समक्ष रूबरू हुए नगरपालिका प्रधान। कमीशनखोरी के चक्कर में टैंडर के बावजूद भी शुरू नही हो रहे काम तरावड़ी मेंकन्या जन्म पर नांगलमाला में किया गया कुआं पूजन कार्यक्रम का आयोजनसमाजसेवी व पत्रकार प्रिंस लाम्बा ने गौशाला में सवामणी लगा मनाया अपना 16वां जन्मदिनभूपेंद्र हुड्डा जींद के चुनावी मैदान में दिखे सुरजेवाला के साथ ,चुनाव प्रचार भी किया तरावड़ी में सप्ताह में घटी चौथी चोरी की वारदात, पुलिस नाकामअमेठीः खेममऊ ग्रामसभा में समाजवादी कार्यकर्ताओं ने लगाया चौपालघरौंडा -असन्तुष्ट 7 पार्षद आज एसडीएम घरौंडा से आगामी कारवाही के लिए मिले।
Bihar

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने सरेंडर किया ,पति पहले ही हो चुके है गिरफ्तार ,मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप मामले में

अटल हिन्द ब्यूरो | November 20, 2018 02:42 PM
पूर्व मंत्री मंजू वर्मा का फ़ाइल फोटो
अटल हिन्द ब्यूरो

 

 पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने सरेंडर किया ,पति पहले ही हो चुके है गिरफ्तार ,मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप मामले में 

सुप्रीम कोर्ट ने की थी सख्त टिप्पणी, ‘हद है..‘
-अटल हिन्द ब्यूरो ---
बेगूसराय। सुप्रीम कोर्ट  की तीखी टिप्पणियों और चौतरफा बन रहे दबाव के बाद आखिकार मंगलवार को बिहार सरकार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने सरेंडर कर दिया। बेगूसराय के मंझौल अनुमंडल कोर्ट में वर्मा ने आत्मसमर्पण किया है। मिली खबरों के आधार पर, मंजू बुर्का पहनकर आत्मसमर्पण करने पहुंची थीं।बता दें कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप मामले में सीबीआई  ने 17 अगस्त को मंजू वर्मा के बेगूसराय जिला स्थित आवास पर छापेमारी की थी। इस दौरान उनके घर से अवैध हथियार के साथ 50 कारतूस भी बरामद किए थे। इसे लेकर दर्ज मामले के बाद से ही मंजू वर्मा फरार चल रही थीं। उनका कुछ पता नहीं चल पा रहा था।दरअसल, पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट  ने इस केस की सुनवाई करते हुए बेहद तीखी टिप्पणी की थी। कोर्ट ने बिहार पुलिस को फटकार लगाते हुए राज्य के डीजीपी  को पेश होने का आदेश भी दिया था। इस मामले की अगली सुनवाई 27 नवंबर को होनी है।सुप्रीम कोर्ट  की फटकार और मंझौल अदालत की तरफ से मंजू वर्मा की संपत्ति जब्त करने के आदेश के बाद 17 नवंबर को पुलिस ने बेगूसराय स्थित उनके घर के बाहर संपत्ति जब्त करने से जुड़ा नोटिस चस्पा किया था। ऐसे में बढ़ते दबाव के बीच मंगलवार को मंजू वर्मा ने मंझौल अनुमंडल कोर्ट में सरेंडर कर दिया।
यह है मामला 
बिहार के बहुचर्चित मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को मंजू वर्मा का करीबी माना जाता है। इसी कांड को लेकर मंजू वर्मा को बिहार की नीतीश कैबिनेट से इस्तीफा देना पड़ा। सुप्रीम कोर्ट ने 31 अक्टूबर को इस मामले की पिछली सुनवाई के दौरान भी बिहार पुलिस को लताड़ लगाई थी। बता दें कि मुजफ्फपुर शेल्टर होम में कई लड़कियों से कथित तौर पर बलात्कार हुआ था। टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज  द्वारा राज्य के समाज कल्याण विभाग को सौंपी गई एक ऑडिट रिपोर्ट में यह मामला सबसे पहले प्रकाश में आया था।
 
पति पहले ही कर चुके हैं आत्मसमर्पण
बेगूसराय जिला स्थित आवास पर छापेमारी के दौरान अवैध हथियार और कारतूस मिलने पर मंजू वर्मा और उनके पति चन्द्रशेखर वर्मा के खिलाफ चेरिया बरियारपुर थाने में केस दर्ज किया गया था। इसके बाद मंजू वर्मा फरार थीं। वहीं मंजू वर्मा के पति चन्द्रशेखर वर्मा ने 29 अक्टूबर को कोर्ट में सरेंडर कर दिया था।
 
सुप्रीम कोर्ट ने की थी सख्त टिप्पणी, ‘हद है..‘
सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए कहा था, ‘हम हैरान हैं कि पुलिस एक पूर्व कैबिनेट मंत्री का महीने भर में सुराग तक नहीं लगा पाई। पुलिस बताए कि आखिर इतनी महत्वपूर्ण शख्स को अबतक ट्रेस क्यों नहीं कर पाई।डीजीपी  कोर्ट में पेश हों।’ जस्टिस मनन बी. लोकुर ने बिहार पुलिस से कहा था, ‘बहुत बढ़िया! कैबिनेट मंत्री (मंजू वर्मा) फरार है. बहुत बढ़िया. यह कैसे हो सकता है कि कैबिनेट मंत्री फरार हो और किसी को पता ही न हो कि वह कहां हैं। आपको इस मुद्दे की गंभीरता पता है कि कैबिनेट मंत्री फरार हैं। हद है, यह बहुत ज्यादा है।’
Have something to say? Post your comment
More Bihar News
इमरजेंसी वार्ड में भर्ती मरीज को उठाकर कचरे में फेंका, गरमाई सियासत
समस्तीपुर में पिकनिक से लौट रही स्कूल बस हुई हादसे का शिकार, 4 शिक्षक सहित 40 बच्चे घायल
समस्तीपुर जानकी एक्सप्रेस के ठहराव को लेकर अनशन पर बैठे कार्यकर्ता.
पटना के शेल्‍टर होम से फिल्‍मी स्‍टाइल में भागीं 4 नाबालिग लड़कियां
पटना में प्रदर्शन कर रहे कुशवाहा समर्थकों पर लाठीचार्ज
पुत्र मोह में परकर लालू ने गंवाया महगठबंधन कि सरकार
बिहार में सियासी भूचाल मुख्यमंत्री ने दिया इस्तीफा
राष्ट्रपति ने बिहार में नौका दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की
विधायक राज बल्‍लभ यादव को जमानत मिलने से सहमी हुई है 15 वर्षीय बलात्कार की शिकार छात्रा
जमानत रद्द,शहाबुद्दीन को तुरंत जेल भेजा जाए-सुप्रीम कोर्ट