Tuesday, April 23, 2019
BREAKING NEWS
ललित के समर्थन में 84 पाल ने की पंचायत, टिकट काटने में षड्यंत्र रचा गया निजी स्कूलों को मिली चेतावनी, 23 अप्रैल तक सीटों की जानकारी दें, या अन्यथा होगी कार्रवाईबेकसूर धर्म पाल 3 साल से बंद हॉन्ग कॉन्ग की जेल मेंसैंकड़ों महिला पुरूषों ने एसडीएम कार्यालय का घेराव कर सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जोरदार किया प्रदर्शनकृपया किसी भी पार्टी के प्रत्याशी वोट मांगकर शर्मिंदा न करेंवर्तमान समय में कानूनी साक्षरता का महत्व बढ़ गया है-प्रियंका सोनीकृष्णपाल गुर्जर ने चुनावी सभा में मनमोहन गर्ग को दिया विधानसभा के लिये आशीर्वाद।रोहित लामसर बने बॉडी बिल्डिंग एवं फिटनेस एसोसिएशन के मीडिया प्रभारीकैथल एसपी के साथ कैथल के गणमान्य व्यक्तियों बैठक ,कहा यातायात व्यस्था सुधारने में जनता सहयोग करे ऐलनाबाद-स्कूल संचालिका द्वारा 11वर्षीय छात्र के साथ मारपीट करने का मामला

Punjab

बड़ा खुलासा: अमृतसर ग्रेनेड हमले में एक गिरफ्तार,

November 21, 2018 06:15 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
बड़ा खुलासा: अमृतसर ग्रेनेड हमले में एक गिरफ्तार,
चंडीगढ़, (अटल हिन्द )। अमृतसर के अदलीवाल गांव के निरंकारी भवन में सत्संग के दौरान हुए हमले के मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। मुख्‍यमंत्री कैन्‍टन अमरिंदर सिंह ने यहां खुलासा किया कि पंजाब के ही दो युवकों ने सत्‍संग के दौरान ग्रेनेड हमला किया था। एक हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है और दूसरे फरार हमलावर की तलाश की जा रही है। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि गिरफ्तार हमलावार से पूछताछ में अहम जानकारियां मिली हैं।मुख्‍यमंत्री ने बताया कि सीआइए अमृतसर ने पकड़ा। पकड़ा गया व्‍यक्ति बांदा धारीवाल गांव का रहनेवाला है और उसका नाम विक्रमजीत सिंह हैै। दूसरा हमलावर अवतार सिंह फरार है। उसे भी जल्द पकड़ लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब में पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ बहुत एक्टिव है और इस हमले में भी उसका हाथ है। हमले में इस्‍तेमाल किया गया हैंड ग्रैंनेड पाकिस्तान का था। पुलिस ने मोटरसाइकिल भी रिकवर कर लिया है। यह अांतकी हमला था और आइएसआइ के इशारे पर केएलएफ ने कराया था। केएलएफ का हरमीत सिंह लौहार में है और आइएसआइ उसका प्रयोग कर रही है।एक राष्ट्रिय समाचार पत्र  ने इससे पहले ही खबर दी थी कि अदलीवाल गांव के निरंकारी भवन में रविवार को सत्संग के दौरान ग्रेनेड से हमला करने वाले दोनों आतंकी पंजाब के ही बॉर्डर एरिया के रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों हमलावरों ने मुख्य मार्ग को पकड़ने की बजाय गांवों की तरफ फरार होना आसान समझा। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि वे स्थानीय रास्तों, राजासांसी और आसपास के इलाकों से अच्छी तरह वाफिक थे।पुलिस मान कर चल रही थी कि या तो दोनों आसपास के ही गांवों में छिपे हैं या किसी की मदद से सुरक्षित ठिकाने तक पहुंच गए हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के बताए हुलिये से अब बॉर्डर के गांवों में पड़ताल की जा रही थी। वहीं, पुलिस की खुफिया शाखा ने करीब 25 संदिग्धों को हिरासत में लिया था। इनमें से कुछ पहले आतंकी गतिविधियों में संलिप्त रहे हैं, जबकि कुछ अलगाववादी नेता रहे हैं।दूसरी तरफ नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआइए) के अधिकारियों की जांच भी पूरी हो गई है। एनआइए की टीम ने निरंकारी भवन को सील कर दिया है। वहां से सभी सुबूतों को जुटाकर जांच के लिए दिल्ली रवाना हो गई। अमृतसर देहाती पुलिस के एसएसपी परमपाल सिंह व एसपी डी हरपाल सिंह ने घटनास्थल पर डेरा जमाए हुए हैं। हिरासत में लिए गए संदिग्धों से सीआइए स्टाफ पूछताछ कर रहा है।

Have something to say? Post your comment

More in Punjab

चेतावनी- गली में कोई लीडर वोट मांगने न आये, नोटा का बटन दबाकर नेताओं का करेंगे विरोध

अकाली दल ने बठिंडा के डीपीआरओ तथा मानसा के एपीआरओ के खिलाफ भी शिकायत दी

महिलाओं से अवैद्घ संबंधों से तंग आकर पत्नी और बेटे ने मिलकर करवाया था कत्ल,पत्नी,बेटे समेत आठ लोग गिरफ्तार

पंजाब में 118 नेताओं के लोकसभा चुनाव लड़ने पर चुनाव आयोग ने लगाई रोक

मामला कांग्रेसी सरपंच नवदीप सिंह की हत्या का मृतक सरपंच के अभिभावक अस्पताल में चार घंटे पोस्टमार्टम होने का इंतजार करते रहे

कांग्रेसी सरपंच पर बार-बार कार चढ़ाकर मौत के घाट उतारा,दो घायल

हथियारों के साथ सोशल मीडिया पर फोटो अपलोड करने वालों की अब खैर नही

इमीग्रेशन कंपनी के मालिक ने पत्नी व दो बच्चों सहित की खुदकशी

यू-ट्यूब पर ‌असलाह बनाने की तकनीक सीखी फिर खुद हथियार बना डाले

पिता अपने दोनों बच्चों समेत ट्रेन के आगे कूदा, पिता-पुत्र की मौत