Tuesday, March 26, 2019
BREAKING NEWS
लव-अफेयर गाने का केस बना विवाद , कार्रवाई कैसे हो, पुलिस को धारा नहीं पतामनोहर की चुनावी गूंज, पानीपत की धरती में इस तरह हुआ स्वागतपार्टी उम्मीदवार की मृत्यु के बाद अगर नामांकन वापिस नहीं लिया जाता तो मतदान की प्रक्रिया स्थगित कर दी जाएगी।हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष को लेकर कांग्रेस में गुटबंदी , किरण व कुलदीप सहित कई दावेदारगांव झुम्पा कलां का है मामला, ग्रामीणों का मर चुका जमीरवैश्य समाज ने फरीदाबाद से भी माँगी भाजपा की टिकटसीएम बनाओगे तो लडूंगा चुनाव -बीरेंद्र फरीदाबाद औषधि नियंत्रण विभाग ने छापा मारकर अवैध मेडिकल स्टोर का पर्दाफाश किया नोटबंदी और जी.एस.टी. ने देश की अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ी : अजादकरनाल मेरठ रोड पर दर्दनाक सड़क हादसा,2 की मौत

Political

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर लगाया जातिवाद के जहर में डूबने का आरोप

November 25, 2018 05:12 PM
धनेश विधार्थी

राजस्थान विधानसभा चुनाव की खास खबर
पीएम मोदी ने कांग्रेस पर लगाया जातिवाद के जहर में डूबने का आरोप


कहा: डा. बीआर अंबेडकर को भारत रत्न नहीं दिया


अलवर, राजस्थान:

राजस्थान विधानसभा के लिए 7 दिसंबर को होने वाले मतदान में भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान करने की अपील करने रविवार को अलवर आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्थानीय जेल चैराहा के निकट विजय नगर के मैदान में चुनावी समर का बिगुल बजाते हुए कांग्रेस पर जमकर निषाना साधा।
बता दें कि अलवर षहर विधानसभा क्षेत्र से करीब दो माह पूर्व जिलाध्यक्ष नियुक्त किए गए संजय षर्मा को पिछली विधानसभा के सदस्य रहे बनवारी लाल सिंघल का टिकट काटकर चुनाव मैदान में उतारा गया है। वैष्य समाज से संबंध रखने वाले सिंघल पिछले लोकसभा उप चुनाव में भाजपा को समुचित जनमत नहीं दिला पाए थे। इसके अलावा उनके खिलाफ अलवर वासी उनकी भावनाओं और विकास कार्याें की उपेक्षाक करने का गंभीर आरोप जड़ रहे हैं। भाजपा की ओर से पार्टी स्तर पर कराए गए सर्वेक्षण में सिंघल के प्रति जनता में भारी नाराजगी के चलते उनका टिकट काटकर संजय को मैदान में उतार दिया गया।
बता दें कि पीएम मोदी भाजपा के स्टार प्रचारक हैं और पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान पांच साल पांच दिन के बाद अलवर आए हैं। जिले में 11 विधानसभा सीटें हैं और इन पर इस बार कुछ लोगों को छोड़कर अधिकांष चेहरों को बदल दिया गया है। रविवार को अलवर के विजय नगर के मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने साफ तौर पर कांग्रेस पर जातिवाद के जहर में डूब होने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस पार्टी ने डाॅ. बीआर अंबेडकर को भारत रतन नहीं दिया। बता दें कि राजस्थान में दलित समुदाय के लाखों लोग रहते हैं और डा. अंबेडकर का नाम अपनी जुबान से लेकर पीएम मोदी ने दलित वोट बैंक को भाजपा के खाते में लाने की कोषिष की है। परम्परागत दलितों को कांग्रेस का बड़ा वोट बैंक माना जाता है। अब चूंकि बहुजन समाज पार्टी भी राजस्थान विधानसभा चुनाव की काफी सीटों पर मैदान में हैं, ऐसी सूरत में दलित मतदाताओं को भाजपा के पक्ष में लाने के लिए पीएम मोदी ने सियासी षतरंज में जोरदार दाव चला है। अब देखना यह है कि दलित समुदाय के वोटरों पर पीएम मोदी के भाषण का दलित वोटरों पर कितना असर पड़ता है। राजस्थान में आम धारणा है कि पांच साल कांग्रेस और पांच साल भाजपा का राज आता रहा है। 14 वीं विधानसभा में भाजपा सत्ता में भी और अब 15 वीं विधानसभा में यह मिथक टूटता है या यह परम्परा कायम रहती है, यह बात 11 दिसंबर को विधानसभा चुनाव की मतगणना के बाद साफ हो जाएगी।
इस रैली में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर जमकर सियासी निषाने साधते और देष को बचाने की अपील। उन्होंने भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में 7 दिसंबर को मतदान करने की अपील की। इस मौके पर सीएम वसुंधरा राजे सिंधिया, भाजपा राजस्थान के अध्यक्ष मदनलाल सैनी, जिलाध्यक्ष संजय नरूका समेत अन्य पार्टी पदाधिकारी एवं अलवर जिले के 11 विधानसभा सीटों के चुनाव मैदान में उतरे भाजपा उम्मीदवार भी मौजूद रहे।

Have something to say? Post your comment

More in Political

मनोहर की चुनावी गूंज, पानीपत की धरती में इस तरह हुआ स्वागत

वैश्य समाज ने फरीदाबाद से भी माँगी भाजपा की टिकट

नोटबंदी और जी.एस.टी. ने देश की अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ी : अजाद

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव देवेंद्र कादियान ने थामा बीजेपी का दामन

खाली बस के साथ हुआ कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा का आगाज कांग्रेसी नेताओं में नजर आई आपसी दूरियां

भाजपा ने सुरजेवाला के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग की ,पुलिस ने जाँच शरू की

आम आदमी पार्टी लोगों के न्याय के लिए हमेशा खड़ी रहेगी: आभास चंदीला

अगर यूपी में हंगामा होता तो मार देता गोली: कलराज मिश्र

मै भी चौकीदार नही, हम भी भगत सिंह – जयहिन्द

चौकीदार कहने वाले जनता के हितेषी नहीं : अभय चौटाला