Friday, January 18, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
घरौंडा में अविश्वास प्रस्ताव के 15 दिन बाद आज पत्रकारों के समक्ष रूबरू हुए नगरपालिका प्रधान। कमीशनखोरी के चक्कर में टैंडर के बावजूद भी शुरू नही हो रहे काम तरावड़ी मेंकन्या जन्म पर नांगलमाला में किया गया कुआं पूजन कार्यक्रम का आयोजनसमाजसेवी व पत्रकार प्रिंस लाम्बा ने गौशाला में सवामणी लगा मनाया अपना 16वां जन्मदिनभूपेंद्र हुड्डा जींद के चुनावी मैदान में दिखे सुरजेवाला के साथ ,चुनाव प्रचार भी किया तरावड़ी में सप्ताह में घटी चौथी चोरी की वारदात, पुलिस नाकामअमेठीः खेममऊ ग्रामसभा में समाजवादी कार्यकर्ताओं ने लगाया चौपालघरौंडा -असन्तुष्ट 7 पार्षद आज एसडीएम घरौंडा से आगामी कारवाही के लिए मिले।
Crime

करनाल में व्यापारी को हनी टै्प में फंसा कर एक करोड़ रूपये मांगने वाले गिरोह के सदस्य

प्रवीण कौशिक | December 07, 2018 06:34 PM
प्रवीण कौशिक
करनाल में  व्यापारी को हनी टै्प में फंसा कर एक करोड़ रूपये मांगने वाले गिरोह के सदस्य 
 करनाल,(अटल हिन्द ब्यूरो )
प्रवीण  कौशिक                     
 करनाल - 06.12.18 को प्रबंधक थाना सिविल लाईन करनाल निरीक्षक मोहन लाल को करनाल के दो व्यापारीयों ने षिकायत दी कि कुछ व्यक्ति एक महिला के साथ मिलकर उन्हें ब्लैकमेल कर रहे हैं। उन्हें धमकी दे रहे हैं कि यदि उसने एक करोड़ रूपये नही दिए तो वे उस महिला द्वारा उसके खिलाफ बलात्कार की धाराओं में मामला दर्जकरवा उसे पुलिस के हवाले कर देगें। जिससे घबराकर व्यापारीयों ने उन्हें पैसे देने के लिए हां कर दी और 20 लाख रूपये में मामला निपटाने की बात हो गई। व्यापारीयों ने बताया कि दिनांक 28.11.18 को वे लोग अपनी महिला साथी गीता वासी हिसार के साथ आए और व्यापारीयों से 20 लाख रूपये ले गए। इस पर भी महिला व उसके साथीयों की संतुष्टी नहीं हुई और उन्होंने फिर से व्यापारीयों से पैसे मांगने शुरू कर दिए व बार-बार उन पर दबाव बनाने लगे। जिस पर व्यापारीयों द्वारा निरीक्षक मोहन लाल को अपनी सारी कहानी बताई गई व पुलिस की सहायता मांगी। 
     प्रबंधक थाना सिविल लाईन निरीक्षक मोहन लाल द्वारा उन्हें भरोसा दिलाया गया कि अब उनका खेल ज्यादा दिन नही चलेगा और उन्हें बहुत जल्द सलाखों के पिछे पहुंचाया जाएगा। उन्होंने उप-निरीक्षक राजेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में एक टीम का गठन किया और दोनों व्यापारीयों के साथ मिलकर आरोपीयों को पकड़ने के लिए एक योजना बनाई, जिसके आधार पर महिला व उसके साथीयों को पैसे देने की बात को मंजुरी दे दी गई और उन्हें पैसे लेने के लिए करनाल बुलाया गया। एक बार फिर से व्यापारीयों से मोटी रकम लेने के चक्कर में वे लोग दौड़े चले आए। जहां पर दिनांक 06.12.18 को कल्पना चावला मैडिकल कालेज करनाल में व्यापारीयों से 13 लाख रूपये लेकर निकलते समय राजेन्द्र सिंह व उनकी टीम द्वारा आरोपी..... सत्यवान पुत्र रणपत वासी राजथल और मनोज पुत्र पृथ्वी सिंह वासी राजथल जिला हिसार को गिरफतार कर लिया गया। पुलिस टीम द्वारा आरोपीयों के कब्जे से पिड़ितों से लिए गए 13 लाख रूपये व एक दौनाली बंदूक और 12 गोलियां बरामद की गई। 
 
    आज इस बारे में जानकारी देते हुए निरीक्षक मोहन लाल ने बताया कि आरोपी सत्यवान ने साल 2005 से साल 2010 तक करनाल के एक व्यापारी के पास ड्ाईवर की नौकरी की थी। जिस दौरान उसे व्यापारी के कारोबार व उसकी संपति के बारे में काफी कुछ जानकारी हो गई थी। साल 2010 में उसने अपनी गाड़ी खरीद ली व इस हिसार में टैक्सी के रूप में चलाने लगा, इसी दौरान उसकी मुलाकात हिसार की रहने वाली एक महिला गीता से हुई। गीता उसकी टैक्सी किराये पर लेकर कई बार ईधर-उधर जाती थी, इसी दौराने उसे गीता के बारे में पता चला कि वह अच्छे चरित्र की महिला नहीं है, तो उसने गीता को कहा कि क्यों न एक बड़ा मुर्गा फसा लें और गीता इसके लिए तैयार हो गई। इसके बाद उसने गीता को करनाल के व्यापारी का नंबर दे दिया और गीता ने फोन के माध्यम से व्यापारी को अपने प्रेम जाल में फांस लिया। व्यापारी ने गीता को मिलने के लिए दिल्ली के होटल में बुलाया, तो वह सत्यवान की टैक्सी में चली आई, ईधर से व्यापारी भी अपने एक अन्य साथी व्यापारी के साथ वहां पहुंच गया। जहां पर उन्होंने गीता की मर्जी के साथ उसके साथ संबंध बनाए और अगली सुबह करनाल वापिस चले आए। 
 
    उन्होंने बताया कि उसके बाद से ही सत्यवान व्यापारीयों को लगातार फोन करने लगा और कहने लगा कि उनके बारे में गीता के घर वालों को पता चल गया है। अब उसके घर वाले उन्हें नही छोड़ेगें और उनके खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज करवाएगें। जिससे व्यापारी घबरा गए और उसे मानने के लिए कहने लगे, जिसके लिए उन्होंने व्यापारीयों से एक करोड़ रूपये की मांग की। दिनांक 28.11.18 को आरोपीयों ने व्यापारीयों से 20 लाख रूपये ले भी लिए और अभी ओर पैसे ऐंठने की फिराक में थे, लेकिन पुलिस ने उनके मनसुबों पर पानी फेर दिया और दूसरी बार में व्यापारीयों से लिए गए 13 लाख रूपये के साथ उन्हें धर दबोचा।  
      पुलिस टीम द्वारा आरोपीयों के खिलाफ थाना सिविल लाईन में मुकदमा नं0-1014/06.12.18  धारा 384,389,506,120-बी व धारा शस्त्र अधिनियम के तहत दर्ज किया गया। आज दोनों आरोपीयों को माननीय अदालत के सामने पेषकर दो दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है और आरोपीयों से उनकी महिला साथी गीता व उसके नाना के संबंध में पुछताछ की जाएगी और पहली बार में लिए गए 20 लाख रूपये बरामद किए जाएगें।   
Have something to say? Post your comment
More Crime News
तरावड़ी में सप्ताह में घटी चौथी चोरी की वारदात, पुलिस नाकाम
मंडवाल में मिलावटी अंग्रेजी शराब तैयार करने वाले गिरोह के सरगना सहित सीआए-1 पुलिस द्वारा 2 आरोपी गिरफ्तार
घरौंडा में दोस्त को घर से बुलाकर चाकुओं से गोद डाला
उचाना में विवाहिता से किया रेप, तीन पर मामला दर्ज
कैथल की नई अनाज मंडी से चौकीदारों के होते हुये 35 बोरी धान की चोरी
सीआईए नरवाना को मिली बड़ी कामयाबी, बाईक सवार दो युवकों के कब्जे से 1 किलो 3०० ग्राम स्मैक बरामद,
सोनीपत में नामजद देवेन्द्र को सिविल अस्पताल में मारी गोली, गंभीर
जीन्द डिटेक्टिव स्टाफ को मिली बडी कामयाबी, 10 लाख की फिरौती मागने वाले अपराधी जिनेन्द्र को किया काबू
गुप्तांग में रॉड घुसाकर बेरहमी से 50 वर्षीय अधेड़की हत्या , शव को गांव के चौराहे पर फेंका
दुष्यंत चौटाला के करीबी व इनसो के प्रदेश प्रधान देशवाल पर मदवि में हमला, हालत गंभीर