Saturday, March 23, 2019
BREAKING NEWS
हुड्डा को प्रदेश कांग्रेस कोआर्डिनेशन कमेटी का चेयरमैन नियुक्त किए जाने पर कार्यकर्ताओं में खुशी : चीमाबाबैन क्षेत्र में धूमधाम से मनाया होली का त्योहारसडक़ हादसे में एएसआई समेत तीन की मौतराजनेता नहीं कर सकेंगे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग लगा दिया प्रतिबन्ध स्टूडेंट बिना बुलाए शादी या पार्टियों में खाना खाने पहुंचे तो कार्रवाई होगीघरौडा में केमिकल टैंकर में भीषण विस्फोट, पिता-पुत्र की मौतबोर में फंसे बच्चे को सुरक्षित निकाला गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर भव्य व शानदार ढंग से आयोजित होगा कार्यक्रमअग्रवाल समाज के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने अनिल विज को किया टवीट,कहा जीन्द की मोर्चरी के लिए डी-फ्रिजर आए हो गया है एक सालदुरूस्त रखें रिकार्ड, साफ-सफाई का रखे विशेष ध्यान दे : डॉ. प्रियंका सोनी

Haryana

वाहे गुरु जी दा खालसा, वाहे गुरु जी दी फतेह प्रकाशोत्सव की पूर्व संध्या पर निकला नगर कीर्तन

January 12, 2019 04:24 PM
सन्नी मग्गू
वाहे गुरु जी दा खालसा, वाहे गुरु जी दी फतेह
प्रकाशोत्सव की पूर्व संध्या पर निकला नगर कीर्तन
सन्नी मग्गू
जींद, 12 जनवरी 
सिखों के दसवें गुरु गोविंद सिंह के 351वें प्रकाशोत्सव पर शनिवार को नगर कीर्तन का आयोजन किया गया। नगर कीर्तन की अगुवाई पंज प्यारे कर रहे थे। उनके पीछे-पीछेे चल रहे रागी जत्थे बोले जो सौ निहाल, सतश्री अकाल, वाहे गुरु जी दा खालसा, वाहे गुरु जी दी फतेह, शब्द कीर्तन से वातावरण को भक्तिमय बना रहे था। गुरुघर प्रवक्ता बलविंद्र सिंह ने बताया कि नगर कीर्तन गुरुद्वारा नौंवी पातशाही गुरु तेग बहादुर साहिब से शुरू होकर पुरानी अनाज मंडी, फव्वारा चौंक, घंटाघर चौंक, पालिका बाजार, सिटी थाना, तांगा चौंक से होता हुआ पंजाबी बाजार शिव चौंक पहुंचा। यहां दुकानदारों द्वारा संगत के लिए लंगर का आयोजन किया गया और नगर कीर्तन का भव्य स्वागत किया गया। इसके बाद नगर कीर्तन सिंह सभा गुरुद्वारा पहुंचा और यहां से रुपया चौंक, सफीदों गेट, एसडी स्कूल पुराना भवन, रानी तालाब से होता हुआ वापस गुरुद्वारा तेग बहादुर पर संपन्न हुआ। जहां सभी श्रद्धालुओं को प्रशाद वितरित किया गया। रास्ते भर में सिख संगत अपने हाथों से झाडू लगाती रही तथा पानी छिडक़ रही थी। नगर कीर्तन में सिख युवकों ने लाठी व गतका, तलवारबाजी, भंगड़ा, पीटी डंबल का संचालन कर नगरवासियों का मनमोह लिया। नगर कीर्तन के मध्य श्रद्धालुओं द्वारा जगह-जगह छबीलें तथा स्टाल लगाई गई थी। गुरुद्वारा मैनेजर बंता सिंह ने कहा कि 10वें पातशाही गुरु गोविंद सिंह द्वारा बताई गई बातें किसी एक कौम व पंथ के लिए ही नहीं बल्कि संपुर्ण मानव जाति के लिए पे्ररणा स्त्रोत है। उनका त्याग इतिहास में एक मिसाल है। गुरुघ्र प्रवक्ता बलविंद्र सिंह ने बताया कि गुरु गोबिंद सिंह ने हमेशा मानवता की भलाई के लिए कार्य किया। उन्होंने कहा था कि जब आप अपने अन्दर से अहंकार मिटा देंगे तभी आपको वास्तविक शांति प्राप्त होगी, इसी तरह ईश्वर ने हमें जन्म दिया है ताकि हम संसार में अच्छे काम करें और बुराई को दूर करें, अच्छे कर्मों से ही आप ईश्वर को पा सकते हैं, अच्छे कर्म करने वालों की ही ईश्वर मदद करता है आदि शिक्षाएं देकर मानव कल्याण के रास्ते को खोला। आज भी गुरु महाराज की शिक्षाएं मानव जीवन को कल्याण का रास्ता दिखा रही हैं और हमेशा दिखाती रहेगी। नगर कीर्तन के आगे युवकों द्वारा कई हैरत अंगेज करतब दिखाए। इस मौके पर शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी हरियाणा के बलदेव सिंह खालसा, जत्थेदार गुरजिंद्र सिंह, जोगेंद्र सिंह पाहवा, जसबीर सिंह टीटी, कुलवंत सिंह, दर्शन सिंह कोचर, सरदार सिंह, राम सिंह, परमजीत सिंह, हरबंस सिंह, सतनाम सिंह, दर्शन सिंह, निरंजन सिंह, सिकंदर सिंह, परमजीत सेठी, हरकीरत सिंह, टहल सिंह, गुरविंद्र सिंह, कृपाल सिंह, इंद्रजीत सिंह, कमलजीत ग्रेवाल सहित अनेक श्रद्धालु मौजूद रहे।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

हुड्डा को प्रदेश कांग्रेस कोआर्डिनेशन कमेटी का चेयरमैन नियुक्त किए जाने पर कार्यकर्ताओं में खुशी : चीमा

बाबैन क्षेत्र में धूमधाम से मनाया होली का त्योहार

सडक़ हादसे में एएसआई समेत तीन की मौत

घरौडा में केमिकल टैंकर में भीषण विस्फोट, पिता-पुत्र की मौत

बोर में फंसे बच्चे को सुरक्षित निकाला

गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर भव्य व शानदार ढंग से आयोजित होगा कार्यक्रम

अग्रवाल समाज के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने अनिल विज को किया टवीट,कहा जीन्द की मोर्चरी के लिए डी-फ्रिजर आए हो गया है एक साल

दुरूस्त रखें रिकार्ड, साफ-सफाई का रखे विशेष ध्यान दे : डॉ. प्रियंका सोनी

जल के लिए किसी को पीछे नहीं छोडऩा : जैन

बल्लबगढ़ गंगाजल प्रकरण में नया मोड़, टैंकरों में गंगाजल नहीं बोर का पानी था?