Saturday, March 23, 2019
BREAKING NEWS
हुड्डा को प्रदेश कांग्रेस कोआर्डिनेशन कमेटी का चेयरमैन नियुक्त किए जाने पर कार्यकर्ताओं में खुशी : चीमाबाबैन क्षेत्र में धूमधाम से मनाया होली का त्योहारसडक़ हादसे में एएसआई समेत तीन की मौतराजनेता नहीं कर सकेंगे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग लगा दिया प्रतिबन्ध स्टूडेंट बिना बुलाए शादी या पार्टियों में खाना खाने पहुंचे तो कार्रवाई होगीघरौडा में केमिकल टैंकर में भीषण विस्फोट, पिता-पुत्र की मौतबोर में फंसे बच्चे को सुरक्षित निकाला गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर भव्य व शानदार ढंग से आयोजित होगा कार्यक्रमअग्रवाल समाज के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने अनिल विज को किया टवीट,कहा जीन्द की मोर्चरी के लिए डी-फ्रिजर आए हो गया है एक सालदुरूस्त रखें रिकार्ड, साफ-सफाई का रखे विशेष ध्यान दे : डॉ. प्रियंका सोनी

Haryana

भिवानी के सिविल अस्पताल में जच्चा-बच्चा की मौत पर परिजनों ने किया जम कर हंगामा, चिकित्सकों पर लगाया लापरवाही का आरोप

January 12, 2019 07:35 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

भिवानी के सिविल अस्पताल में जच्चा-बच्चा की मौत पर परिजनों ने किया जम कर हंगामा, चिकित्सकों पर लगाया लापरवाही का आरोप

भिवानी।(अटल हिन्द न्यूज ) भिवानी के सिविल अस्पताल में एक गर्भवती महिला की मौत ने स्वास्थ्य विभाग पर एक बार फिर बड़े सवाल खड़े किये हैं। गर्भवती महिला व उसके बच्चे की संदिग्ध मौत पर परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही के आरोप लगाते हुए स्वास्थ्य विभाग से कार्यवाई की मांग को लेकर हंगामा किया। हालांकि चिकित्सकों ने लापरवाही के आरोपों को नकारते हुए महिला की मौत दौरा पडऩे से बताई है। बताया जाता है कि स्थानीय खाड़ी मौहला निवासी 19 वर्षिय गर्भवती महिला नीतू को कल शुक्रवार को चौधरी बंसीलाल सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। परिजनों का आरोप है कि नीतू को प्रस्सुति वार्ड में भर्ती करने के बाद ना तो जांच की गई और ना ही कोई देखभाल की गई। परिजनों ने कहा कि चिकित्सकों ने आज दोपहर बाद अचानक आपातकाल में भर्ती किया और हालात खराब होने की बात कहकर रोहतक पीजीआई रेफर करने लगे। तभी कुछ देर बाद ही जच्चा व बच्चा की मौत हो गई। मृतक नीतू के मामा कुलदीप व पति अशोक ने स्वास्थ्य मंत्री से चिकित्सकों के खिलाफ कार्यवाई की मांग की है ताकि आगे किसी के साथ ऐसा हादसा ना हो। वहीं, आपातकाल के चिकित्सक नीतेश गोयल ने परिजनों के आरोपों को नकारते हुए कहा कि नीतू व उसके बच्चे की पूरी तरह से देखभाल व इलाज किया गया था, लेकिन अचानक दौरा पडऩे से जच्चा व बच्चा की मौत हो गई। उन्होने कहा कि मौत के बाद अक्सर परिजन सदमा सहन नहीं कर पाते और ऐसे आरोप लगाते हैं।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

हुड्डा को प्रदेश कांग्रेस कोआर्डिनेशन कमेटी का चेयरमैन नियुक्त किए जाने पर कार्यकर्ताओं में खुशी : चीमा

बाबैन क्षेत्र में धूमधाम से मनाया होली का त्योहार

सडक़ हादसे में एएसआई समेत तीन की मौत

घरौडा में केमिकल टैंकर में भीषण विस्फोट, पिता-पुत्र की मौत

बोर में फंसे बच्चे को सुरक्षित निकाला

गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर भव्य व शानदार ढंग से आयोजित होगा कार्यक्रम

अग्रवाल समाज के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने अनिल विज को किया टवीट,कहा जीन्द की मोर्चरी के लिए डी-फ्रिजर आए हो गया है एक साल

दुरूस्त रखें रिकार्ड, साफ-सफाई का रखे विशेष ध्यान दे : डॉ. प्रियंका सोनी

जल के लिए किसी को पीछे नहीं छोडऩा : जैन

बल्लबगढ़ गंगाजल प्रकरण में नया मोड़, टैंकरों में गंगाजल नहीं बोर का पानी था?