Tuesday, April 23, 2019
BREAKING NEWS
ललित के समर्थन में 84 पाल ने की पंचायत, टिकट काटने में षड्यंत्र रचा गया निजी स्कूलों को मिली चेतावनी, 23 अप्रैल तक सीटों की जानकारी दें, या अन्यथा होगी कार्रवाईबेकसूर धर्म पाल 3 साल से बंद हॉन्ग कॉन्ग की जेल मेंसैंकड़ों महिला पुरूषों ने एसडीएम कार्यालय का घेराव कर सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जोरदार किया प्रदर्शनकृपया किसी भी पार्टी के प्रत्याशी वोट मांगकर शर्मिंदा न करेंवर्तमान समय में कानूनी साक्षरता का महत्व बढ़ गया है-प्रियंका सोनीकृष्णपाल गुर्जर ने चुनावी सभा में मनमोहन गर्ग को दिया विधानसभा के लिये आशीर्वाद।रोहित लामसर बने बॉडी बिल्डिंग एवं फिटनेस एसोसिएशन के मीडिया प्रभारीकैथल एसपी के साथ कैथल के गणमान्य व्यक्तियों बैठक ,कहा यातायात व्यस्था सुधारने में जनता सहयोग करे ऐलनाबाद-स्कूल संचालिका द्वारा 11वर्षीय छात्र के साथ मारपीट करने का मामला

Business

पुरानी पुस्तकें-खरीदने व बेचने के लिए दिया बेहतरीन मंच : डा. ज्योति जुनेजा

January 21, 2019 05:08 PM
रणबीर रोहिल्ला
पुरानी पुस्तकें-खरीदने व बेचने के लिए दिया बेहतरीन मंच : डा. ज्योति जुनेजा 
डीसीआरयूएसटी के तीन छात्रों ने वैबसाईट बनाकर पुस्तकों की समस्या की दूर
रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय मुरथल (डीसीआरयूएसटी) के तीन छात्रों ने एक वैबसाईट बनाकर विद्यार्थियों के सामने आने वाली पुस्तकों की समस्या को दूर करने की दिशा में सफल कदम बढ़ाये हैं। अपनी वैबसार्ईट के विषय में इन छात्रों ने जीवीएम गल्र्ज कालेज की छात्राओं को जानकारी दी उन्होंने सहर्ष वैबसाईट को स्वीकार किया। इस मौके पर संस्था के प्रधान डा. ओपी परूथी व प्राचार्या डा. ज्योति जुनेजा ने कहा कि पुरानी पुस्तकों को खरीदने व बेचने के लिए यह बेहतरीन मंच है, जिसका छात्र-छात्राओं को पूरा लाभ उठाना चाहिए। प्राध्यापिका तारिका सेठी के निर्देशन में बीकॉम ऑनर्स तथा एमकॉम की छात्राओं के लिए कार्यशाला का आयोजन कर पुरानी पुस्तकों की खरीद व बेचने के लिए बनाई गई वैबसाईट (बुक्सबास्केट डॉट इन) की विस्तृत जानकारी दी गई। वैबसाईट निर्माता डीसीआरयूएसटी के तीनों छात्रों (बीएससी इलैक्ट्रिोनिक के पासआउट छात्र कौशल दवे तथा कैमिकल इंजीनियरिंग के छात्र अंकुर बंसल व सिद्धार्थ रोहिल्ला) ने जीवीएम की छात्राओं को वैबसाईट उद्देश्य व कार्यप्रणाली की पूर्ण जानकारी दी। कौशल दवे, अंकुर बंसल व सिद्धार्थ रोहिल्ला ने बताया कि अक्सर विद्यार्थियों को अच्छी पुस्तकें हासिल करने में परेशानियां उठानी पड़ती हैं। कई बार विद्यार्थियों को उनकी पसंदीदा पुस्तक नहीं मिल पाती। पाठ्यक्रम से जुड़ी किताबें लेने के लिए छात्रों को दूरदराज के धक्के खाने पड़ते हैं। फिर बहुत सी किताबों की कीमत आसमान को छूने वाली होती हैं। ऐसे में बहुत से विद्यार्थियों की चाहत होती है कि उन्हें पुरानी पुस्तकें मिल जाये। विद्यार्थियों की इस प्रकार की समस्याओं को दूर करने तथा पुस्तकों तक पहुंच का आसान बनाने के लिए ही वैबसाईट बनाई गई है। संबंधित वैबसाईट पर पुस्तक बेचने वाला तथा पुस्तक खरीदने वाला संपर्क साध सकता है। जिसे जिस कीमत पर अपनी पुरानी पुस्तक बेचनी हो वह पुस्तक के साथ कीमत अंकित कर सकता है। वहीं खरीदने वाला व्यक्ति बेचने वाले व्यक्ति से पुस्तक खरीद सकता है और मोलभाव भी कर सकता है। इस दौरान कालेज की छात्राओं ने वैबसाईट के विषय में बहुुत से प्रश्र भी किये, जिनके उन्हें संतोषजनक उत्तर मिले। इस मौके पर वैबसाईट निर्माता छात्रों का उत्साहवद्र्धन करते हुए प्राचार्या डा. ज्योति जुनेजा व प्राध्यापिका तारिका सेठी ने कहा कि निश्चित रूप से यह वैबसाईट विद्यार्थियों के लिए लाभकारी है। प्राथमिक कक्षाओं से लेकर स्नातक तथा स्नातकोत्तर कक्षाओं की पुस्तकें खरीदने-बेचने के लिए यह बढिय़ा प्लेटफार्म है

Have something to say? Post your comment

More in Business

10 लाख 35 हजार का चेक बाउंस होने पर 6 महीने की सजा

कैथल आढ़तियों की हड़ताल तुड़वाने के लिए एस डी एम ईशा कम्बोज हुई सक्रिय

लाइसेंस रिन्यू नही हुये तो शनिवार 13 अप्रैल से सरकार के खिलाफ कमेटी प्रांगण में अनिश्चितकालीन धरना

टूटे प्रधानगिरी के दो धड़े, उद्योगपत्तियों ने नाथीराम को घोषित किया मंडी प्रधान

लोकसभा चुनाव 2019: वोट डालकर आने पर पेट्रोल पंप पर मिलेगी छूट, जानें पूरा ऑफर

1 रुपये में रेडमी नोट 7 प्रो खरीदने का शानदार मौका

कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव में ,क्या गेहूं की खरीद सीधे हो पाएगी

ओटीटी क्षेत्र में क्षेत्रीय सामग्री की कमी ,दर्शक अब टीवी की तुलना में मीडिया स्ट्रीमिंग पर अधिक समय दे रहे हैं

करोड़ों की जीएसटी की चोरी, कारोबारी गिरफ्तार

फ्री मोबाईल सर्विस कैंप का आयोजन