Saturday, February 16, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
आयकर विभाग ने किया जींद ,नरवाना ,और सफीदों में सर्वे पूर्व चेयरमैन यशपाल प्रजापति सहित 10 पार्षदों ने वीरवार को नगर परिषद परिसर में धरना दिया आप की खुट्टा पाड़ रैली की जगह होगी शहीद श्रद्धांजलि सभा : जयहिन्दशर्मनाक -44 जवानों को शहादत को भूल ,कांग्रेस के मंच पर लगे ठुमके आम आदमी पार्टी की खुट्टा पाड़ रैली की जगह होगी शहीद श्रद्धांजलि सभाबिल्डर ने पैसे के लालच में बरसाती नाले पर ही कब्जा कर काट दिए इंडस्ट्रियल प्लॉट !दीपेंद्र का विजयरथ रोकनें के लिए भाजपा में कशमकश,नहीं मिल पा रहा जिताऊ उम्मीदवारलोकसभा में पुराने चेहरे तो विधानसभा चुनावों में युवा चेहरों को मिल सकती है तव्वजो
 
 
Crime

आधार बायोमैट्रिक का गलत प्रयोग कर निकाले पैसे, मामला दर्ज

अटल हिन्द ब्यूरो | January 30, 2019 06:49 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

आधार बायोमैट्रिक का गलत प्रयोग कर निकाले पैसे, मामला दर्ज
उचाना।
थाना पुलिस ने पालवां गांव के विक्रम की शिकायत पर आधार में बायोमैट्रिक का गलत प्रयोग करके रुपए निकाले जाने पर अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी, आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया। विक्रम ने बताया कि फिया कंपनी द्वारा एसबीआई उचाना शाखा कोड 50115 में बतौर आधार आप्रेटर नियुक्त किया हुआ था। किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मेरे बायोमैट्रिक आधार का गलत प्रयोग किया जा रहा है। 14 नवंबर 2018 को पता चला कि मेरे फिंगर प्रिंट के द्वारा किसी अज्ञात ग्राहक सेवा केंद्र पर शाम को आठ बजे एक हजार रुपए निकलवाए। इसके बाद पीएनबी के कस्टमर केयर पर शिकायत ऑनलाइन करवाई, तब पता चला कि कोई अज्ञात व्यक्ति मेरी बायोमैट्रिक का गलत प्रयोग कर रहा है।
विक्रम ने बताया कि 21 नवंबर को कस्टमर केयर पर शिकायत ऑनलाइन दर्ज करवाई। 22 नवंबर को चंडीगढ़ के सेक्टर-17 सी में यूआईडीएआई कार्यालय रिजनल ऑफिस में जाकर लिखित में शिकायत दर्ज करवाई। 23 नवंबर को यूआईडीएआई सीईओ को मेल के द्वारा सूचित किया। शिकायत दर्ज होने के बाद भी मेरी बायोमैट्रिक का गलत प्रयोग करके 7500 रुपए एचडीएफसी बैंक से निकाले गए। यूआईडीएआई कार्यालय ने मुझे बीते साल 14 नवंबर को मल्टीस्टेशन आईडी यूज करने पर ब्लैक लिस्ट कर दिया गया। ब्लैक लिस्ट करने के बाद भी व्यक्ति मेरी बायोमैट्रिक का गलत प्रयोग बैंक ऑफ बड़ौदा, यश बैंक, रतनाकार बैंक आदि में गलत प्रयोग कर रहा है। मैंने यूआईडीआई के निर्देश के अनुसार अपने बायोमैट्रिक लॉक कर दिए और संबंधित विभाग को सूचित कर दिया। मेरी बायोमैट्रिक का किसी अज्ञात के गलत प्रयोग करने से मेरी रोजी-रोटी का साधन बंद हो गया है। जांच अधिकारी समरजीत सिंह ने बताया कि विक्रम की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी, आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Crime News