Saturday, February 16, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
आयकर विभाग ने किया जींद ,नरवाना ,और सफीदों में सर्वे पूर्व चेयरमैन यशपाल प्रजापति सहित 10 पार्षदों ने वीरवार को नगर परिषद परिसर में धरना दिया आप की खुट्टा पाड़ रैली की जगह होगी शहीद श्रद्धांजलि सभा : जयहिन्दशर्मनाक -44 जवानों को शहादत को भूल ,कांग्रेस के मंच पर लगे ठुमके आम आदमी पार्टी की खुट्टा पाड़ रैली की जगह होगी शहीद श्रद्धांजलि सभाबिल्डर ने पैसे के लालच में बरसाती नाले पर ही कब्जा कर काट दिए इंडस्ट्रियल प्लॉट !दीपेंद्र का विजयरथ रोकनें के लिए भाजपा में कशमकश,नहीं मिल पा रहा जिताऊ उम्मीदवारलोकसभा में पुराने चेहरे तो विधानसभा चुनावों में युवा चेहरों को मिल सकती है तव्वजो
 
 
Fashion/Life Style

बेटियां समाज की सबसे बड़ी पूंजी, बढ़ाती है सम्मान : दीपक सहारण

अटल हिन्द ब्यूरो | February 05, 2019 03:47 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

बेटियां समाज की सबसे बड़ी पूंजी, बढ़ाती है सम्मान : दीपक सहारण
-साउथ अफ्रिका से लौटी पर्वतारोही मनीषा का प्रशासन ने भी किया सम्मान,
-एसपी ने दिया प्रशासनिक स्तर पर हरसंभव सहयोग का आश्वासन
फतेहाबाद, 5 फरवरी।
बेटी समाज की सबसे बड़ी पूंजी होती है और बेटी से ही नई पीढिय़ां आगे बढ़ती है। यह बात जिला पुलिस कप्तान दीपक सहारण ने लघु सचिवालय स्थित सभागार कक्ष में साउथ अफ्रिका की किलीमंजारो चोटी फतेह करके लौटी मनीषा पायल के प्रशासनिक सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कही। जिन्दगी संस्था के संयोजन में हुए इस कार्यक्रम को डीआरओ बालकिशन, जल संरक्षण अधिकारी शर्मा चंद लाली के अलावा जिला पार्षद राजेश कसवां, भाजपा महिला विंग प्रधान सीमा दत्ता, पूर्व पार्षद दुर्गेश अरोड़ा पुलिस कर्मचारी एसोसिएशन प्रधान रणधीर डबास, समाजसेवी जगदीश नायक, रोटेरियन डॉ रमेश सेठी व बनावली सरपंच राममूर्ति फौगाट ने मुख्य रूप से संबोधित किया। कार्यक्रम संचालन जिन्दगी संस्था अध्यक्ष हरदीप सिंह ने किया।
पुलिस अधीक्षक दीपक सहारण ने मनीषा पायल के हौंसले की सराहना करते हुए कहा कि आज बेटियों के प्रति समाज की सोच में बदलाव आ रहा है। बेटियों को बचाने, पढ़ाने और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किया जा रहा है। एक बेटी शिक्षित होती है, तो दो परिवार शिक्षित होते हैं और समाज व देश की तकदीर व तस्वीर बदलने में सार्थक होती है। उन्होंने कहा कि बेशक आज समाज में नशा जैसी बुराई को खत्म करना चुनौती है, लेकिन वे इससे भी बड़ी सामाजिक बुराई कन्या भ्रूण हत्या को मानते हंै। बेटियों को कोख में मारने या जन्म के बाद सडक़ पर छोड़ देने वालों के खिलाफ सामाजिक आंदोलन चलाए जाने की जरूरत है। बेशक प्रशासन व सरकार बेटियों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए काम कर रहे हैं, लेकिन बेटियों को बचाने और आगे बढ़ाने सहित आत्मनिर्भर बनाने के लिए समाज को भी चिंता करने की जरूरत है।
डीआरओ बालकिशन व जिला संरक्षण अधिकारी शर्माचंद लाली ने कहा कि बेटियों से समाज और परिवार का सम्मान बढ़ता है। इस भाव से स्वच्छ व समृद्ध समाज का निर्माण किया जा रहा है। मनीषा जैसी होनहार बेटियों की मेहनत से जागृत हुए समाज में महिलाओं व बेटियों के प्रति सम्मान भाव बढ़ा है। स्कूलों में बालकों की अपेक्षा बालिकाओं की दर्ज संख्या में लगातार बढ़ रही है। पर्वतारोही मनीषा को सम्मानित करते हुए एसपी दीपक सहारण व अन्य अधिकारिगणों ने आश्वस्त किया कि मनीषा को एवरेस्ट जैसी अगली चुनौती को बिना तनाव पार करने में प्रशासनिक स्तर पर हर संभव सहयोग किया जाएगा। इस अवसर पर पार्षद शम्मी धींगड़ा, पार्षद किरण नारंग, सरोज रानी, सतपाल पायल, विनोद काकड़, सतपाल डांगी सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Fashion/Life Style News
व्यर्थ समझ फेंकी जाने वाली लकड़ी को उपयोगी वस्तुओं में तब्दील कर रहे अरशद
युवती ने नन्दोई पर रेप का आरोप जड़ किया ब्लैकमेल
ऋषिकेश की दीया पांडेय चुनी गई फैशन एक्स क्वीन
फैशन डिजायनिंग में स्वर्णिम भविष्य निर्माण की अपार संभावना : ललिता
ब्यूटी-पार्लर की कार्यशाला के दूसरे दिन सुशीला ने छात्राओं को फेशियल करना सिखाया
जींद प्रशासन ने रूकवाई नाबालिग लडके की शादी
रंगीला हरियाणा देश की खातिर जान लुटा दे ना सीखा डर जाणा
कल से शुरू होगा 12 स्थित हूडा कंनेंशन सेंटर में चार दिवासीय थियेटर फेस्टिवल
साइकिल चलाने से बचेगा पर्यावरण-अजय क्रांतिकारी
बुलबुल ने सम्भाली गुरू की पदवी,पहनाया गया सोने का ताज