Friday, February 22, 2019
BREAKING NEWS

Punjab

मामला श्री करतारपुर कॉरिडोर के लिये एकवाइर की जाने वाले जमीन की मुआवजा राशि का

February 08, 2019 08:01 PM
मामला श्री करतारपुर कॉरिडोर के लिये एकवाइर की जाने वाले जमीन की मुआवजा राशि का
योग्य मुआवजा राशि देने को लेकर डेरा बाबा नानक के 18 किसानों ने एसडीएम दफ्तर में एतराज दर्ज करवाये
किसान बोले- कॉरिडोर बनने की खुशी मगर जमीन की मुआवजा राशि को लेकर चिंता
(विनोद सोनी,रघुवंशी)
डेरा बाबा नानक/बटाला । श्री करतारपुर कॉरिडोर के लिये एकवाइर की जाने वाली जमीन को लेकर किसानों और सिविल प्रशासन में अभी तनातनी जारी है। किसान अपनी जमीनों का मुआजवा सरकारी रेटों से अधिक लेने की मांग कर रहें हैं। वहीं कॉरिडोर के लिये जिन किसानों की जमीन का अधिगृहण किया जाना है उनमें से शुक्रवार को डेरा बाबा नानक के 18 किसानों (किसान बचाओ कमेटी) के बैनर तले डेरा बाबा नानक के एसडीएम दफ्तर मुआवजे को लेकर अपने एतराज देने पहुंचे। कार्यालय में एसडीएम डेरा बाबा नानक अशोक कुमार शर्मा  मौजूद नही थे इस लिये जमीन मालिक किसानों ने अपने एतराज कार्यालय की सुपरिटेंड परमजीत कौर को सौंप दिये। इस मौके पर पहुंचे किसान मनीष महाजन,सूबा सिंह,गुरनाम सिंह और लाड़ी ने बताया कि वह आज अपने एतराज एसडीएम कार्यालय देने आये हैं। उन्होंने कहा कि उनकी जमीनें जिनका कॉरिडोर के लिये अधिकगृहण ‌किया जाना है,उसका मुल्य उनको कम मिल रहा है। उन्होंने केंद्र सरकार पर एतराज जताते हुये कहा कि उनकी जमीन उनसे बिना पूछे ‌ही एक्वायर करने की योजना बनाई जा रही है । उन्होंने बताया कि उनमें रोष है कि अभी तक केंद्र की नेशनल हाइवे अथारिटी  के किसी अधिकारी ने उनसे एक बार भी मुलाकात नही की और न उनसे कोई बातचीत की है। उन्होंने कहा कि कम से उनकी जमीन का मुआवजा ठीक तरीके से दिया जाये। उन्होंने कह‌ा कि कॉरिडोर के लिये एकवाइर की जाने वाली जमीन पर गोबी की फसल उगाई जाती है और गोबी की इस फसल से किसान को सालाना ढ़ाई लाख रूपये की आमदन होती है। उन्होंने कहा कि प्रशासन उन्हें सिर्फ 12 से लेकर 25 लाख रूपये प्रति किल्ला देने को मान रहा है। उन्होंने दावा करते हुये कहा कि उनके पास सरकारी दस्तावेज है जिसमें 2014 में तरनतारन में नेशलन हाइवे बना था और वहां कागजों के आधार पर कुलैक्टर रेट 7 लाख रूपये था जिस जमीन का 7 लाख कुलैकटर रेट प्रति किल्ला था, उनको 65 लाख रूपये प्रति किल्ला दिया गया हैं। उन्होंने कहा कि जमीन एक्ववाइर करने के लिये नोटिस सिर्फ अखबार से ही पता चला है मगर निजी पर तौर पर किसी भी किसान को कोई नोटिस जारी नही किया गया। उन्होंने कह‌ा कि वह इस कॉरिडोर बनने से बहुत खुशा है मगर जमीनी मुआजवे की राशि को के लेकर वह काफी चिंतत हैं। उन्होंने कहा कि यह सभी किसान पहले ही पाकिस्तान से उजड़कर डेरा बाबा नानक में बसे हैं। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि उनको उनकी जमीन के बदले योग्य मुआवजा दिया जाये जिससे वह दोबारा कही अपना काम धंधा चला सकें। इस अवसर पर मौजूद एसडीएम कार्यालय डेरा बाबा नानक की सुपरिटेंड परमजीत ‌कौर ने बताया कि यह किसान मुआवजा राशि को लेकर एतराज पेश करने आये है। इस एतराजों पर अगली कार्रवाई एसडीएम डेरा बाबा नानक ही करेंगे। इस मौके पर किसान   कुलविंदर सिंह,बीर सिंह,गांव  कुलवंत सिंह,तरलोचन सिंह,बलदेव सिंह फौजी,सुरजीत सिंह,जुगराज सिंह,गुरबख्श सिंह,बीरी,कुकू आदि उपस्थित थे

Have something to say? Post your comment

More in Punjab

सोसाइटी ने 15 गरीब विधवा औरतों को गरम शाल बांटे

बिल्डर ने पैसे के लालच में बरसाती नाले पर ही कब्जा कर काट दिए इंडस्ट्रियल प्लॉट !

एवलांच की चपेट में मरने वाले डेरा बाबा नानक के दोनों युवकों का किया अतिंम संस्कार

जीजा की हत्या के मामले में नामजद आरोपी साला गिरफ्तार,भेजा जेल

सड़क हादसे में पिता-पुत्र की मौत, मां घायल

लिंग निधार्रिन टेस्ट करते हुये रंगे हाथों डॉक्टर समेत 6 लोग काबू

सचिव से किसान बोले- कॉरिडोर के लिये वह फ्री जमीन देने को तैयार मगर सरकार उनके हर सदस्य को सरकारी नौकरी दे

बटाला पुलिस ने अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाया- पिता ही निकला अपने बेटे का हत्यारा,आरोपी पिता गिरफ्तार

खरड़ की महिला ने पुलिस पर अपहरणकर्ता को छोड़ने के लगाए आरोप:

अकाली दल और भाजपा में हुआ समझौता ,सुखबीर बादल में की अमित शाह में मुलाक़ात