Thursday, April 18, 2019
BREAKING NEWS
अखबार सप्लायर के साथ मारपीट व लूटपाट कर जान से मारने की धमकीकैथल-जब सिर पर छत ही नहीं रहेगी तो कैसा मतदान, कैसा लोकतंत्र ?चुनाव बहिष्कार की चेतावनीमंडी में गंदगी होने पर गेहूं उतारने में आ रही दिक्कत से परेशान किसानों में भारी रोषभिवानी-महेेंद्रगढ लोकसभा से आरपीआई पार्टी के प्रत्याशी कूंदन चौधरी ने अपना नामाकंन पर्चा दाखिल किया।प्राईवेट बस, ट्राला व कम्बाईन आपस में टकराय ,3 बच्चों सहित लगभग 2 दर्जनों लोग घायल बेटी से बड़ा कोई धन नहीं: गर्ग वर्ष का हर दिन कंजक पूजन के रूप में मनाएं: संदीप गर्गलोकसभा चुनाव से बिजेन्द्र और भव्य हिसार से रख रहे हैं राजनीति में पहला कदमसांसद रमेश कौशिक पत्रकारों और जनता के समर्थन के बिना आप कुछ भी नहीं हो बेशर्म राजनेता -मौतों पर दुःख प्रकट करने की बजाए सेंक रहे है राजीनितिक रोटियां

Uttar Pradesh

राशन कार्ड पंजीकरण में धांधली, गरीबों तक नहीं पहुंच रहा राशन

March 15, 2019 09:05 PM
सुरजीत यादव अमेठी

राशन कार्ड पंजीकरण में धांधली, गरीबों तक नहीं पहुंच रहा राशन
राशन कार्ड सूची से आये दिन गायब हो रहें हैं गरीब पात्रों के नाम
तहसील मुख्यालय पर राशन कार्ड सूची में नाम सम्मिलित करने के लिए होती है धन उगाही- सूत्र
बिना आधार लगे राशन कार्ड किये जाते हैं डिलीट, शासन मानता है फर्जी- पूर्ति निरीक्षक

अमेठी। कोटेदार और आपूर्ति विभाग की गुणा गणित से गरीबों तक उनके हक का राशन नहीं पहुंच रहा है। उनकी कारगुजारियों से राशन कार्ड की सूची में अपात्रों को पास और पात्रों को फेल करने का भारी खेल चल रहा है। राशन कार्ड में हेरफेर की शिकायतें अफसरों के पास आए दिन पहुंच रही हैं, लेकिन कर्मचारी से लेकर अफसर तक पात्रता की जांच कराकर सूची में शामिल कराने का आश्वासन देकर जिम्मेदारी पूरी करते दिख रहे हैं। आपूर्ति विभाग के अधिकारी राशन कार्ड सूची में नाम शामिल करने के लिए शिकायत के बाद तहसील मुख्यालय पर पात्रो को बुलाते हैं जहॉ गरीब पात्र लोगों से राशन कार्ड सूची में नाम शामिल करने के लिए धन उगाही का कार्य किया जाता है। 

 

 

 

 

 

आपको बता दें कि शासन ने सरकारी राशन में धांधली रोकने के लिए ई-पॉश मशीन से राशन वितरण करने के साथ ही राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कराने का फरमान जारी किया था लोगों ने आवेदन किया जिसके बाद पात्रों का नाम सूची में शामिल किया गया, लेकिन जिले में शासन के इस इरादे पर कोटेदार और विभागीय अफसरों का गठजोड़ पानी फेर रहा है। कारण जिन पात्र लोगों का नाम राशन कार्ड सूची में दर्ज हुआ उनमें से तमाम नाम सूची ने धीरे-धीरे गायब हो रहे है। और पात्र गरीब सूची में नाम शामिल कराने के लिए ग्राम प्रधान से लेकर कोटेदार व आपूर्ति विभाग के चक्कर काट रहे है।

 

 

 

 

 

सूत्र बताते हैं कि तहसील मुसाफिरखाना मुख्यालय पर उपजिला अधिकारी कार्यालय से ठीक बगल राशन कार्ड सूची में नाम शामिल करने के लिए गरीब पात्रो से धन उगाही किया जाता है। राशन कार्ड के लिए आवेदन करने वाले अपात्र पास हो रहे हैं और पात्रों को फेल कर दिया जा रहा है। इससे जुड़ी शिकायतें हर रोज जिलापूर्ति कार्यालय और डीएम समेत एसडीएम के पास पहुंच रहीं हैं। मवैया रहमतगढ़ की निजामुल निशा ने बताया कि पूर्व में उनको राशन मिल रहा था और उनका व उनके परिवार के 6 सदस्यों का नाम अब पात्रता सूची से गायब कर दिया गया। निजामुल निशा कोई एक नाम नहीं है ऐसे दर्जनों लोगों ने बताया कि मेरा नाम पात्रता सूची में था जिसकी वजह से राशन मिल रहा था परन्तु बिना कारण बताये पात्र होते हुए भी मेरा नाम राशन कार्ड की पात्रता सूची से गायब कर दिया गया है। इतना की नहीं तमाम शिकायतकर्ताओं कहना है कि राशन कार्ड से पात्र सदस्यों का भी नाम गायब किया जा रहा है। शिकायतकर्ताओं ने बताया कि कई महीनों से पात्रता सूची में नाम बढ़वाने के लिए चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन आपूर्ति विभाग के अधिकारी जल्द सत्यापन कराकर सूची में नाम चढ़ाने की बात कहकर टकरा देते हैं। लेकिन जो सूची में नाम शामिल कराने के लिए आपूर्ति कार्यालय में सुविधा शुल्क देता है उसका नाम शामिल कर दिया जाता है।

 

क्या बोले पूर्ति निरीक्षक:-

इस सम्बन्ध में मुसाफिरखाना पूर्ति निरीक्षक जितेन्द्र कुमार से बात की गई तो उन्होने बताया कि जिन लाभार्थियों का राशन कार्ड में आधार कार्ड नहीं लगा है, उनसे आधार कार्ड मांगा जाता है उसके बाद भी यदि आधार कार्ड नहीं देते हैं तो उनका नाम राशन कार्ड सूची से काट दिया जाता है क्यों कि बिना आधार, शासन ऐसे राशन कार्ड को फर्जी मानता है। राशन कार्ड सूची में नाम सम्मिलित करने के लिए किसी तरह का शासन द्वारा शुल्क निर्धारित नहीं है। प्राईवेट ऑपरेटर है शासन द्वारा हमें कोई ऑपरेटर नहीं मिला है ऐसे में कुछ लोग स्वेच्छा पैसे देकर नाम सम्मिलित करवा रहे है।

Have something to say? Post your comment

More in Uttar Pradesh

योगी आदित्यनाथ 72 घंटे तक मायावती 48 घंटे तक चुनाव प्रचार नही करेंगे

10 दिन के अंदर मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस, आज से बदल जाएगी व्यवस्था

झूठी खबर फैलाने वाले बीएसपी एजेंट पर मुकदमा दर्ज।

यूपी-उत्तराखंड : गाजियाबाद, बिजनौर और बागपत से ईवीएम खराब होने की खबरें, मतदान प्रभावित

गठबंधन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश–‘लाठी, हाथी और 786

नियमो को ताक पर रखकर मंदिर के बगल में खोल दी बियर शॉप

लोकतंत्र की रक्षा का हथियार है मताधिकार-ग्रीनमैन अजय क्रान्तिकारी

आचार संहिता का उल्लंघन कर बैठे भाजपा के सीनियर नेता,आयोग करेगा राष्ट्रपति से शिकायत

बहकाना और भटकाना ही भाजपा का एजेण्डा - अखिलेश यादव

शाहजहांपुर-जिला अस्पताल में मरीज को आठ-आठ दिन तक भूखा रख कर किया जाता है इलाज