Thursday, April 18, 2019
BREAKING NEWS
अखबार सप्लायर के साथ मारपीट व लूटपाट कर जान से मारने की धमकीकैथल-जब सिर पर छत ही नहीं रहेगी तो कैसा मतदान, कैसा लोकतंत्र ?चुनाव बहिष्कार की चेतावनीमंडी में गंदगी होने पर गेहूं उतारने में आ रही दिक्कत से परेशान किसानों में भारी रोषभिवानी-महेेंद्रगढ लोकसभा से आरपीआई पार्टी के प्रत्याशी कूंदन चौधरी ने अपना नामाकंन पर्चा दाखिल किया।प्राईवेट बस, ट्राला व कम्बाईन आपस में टकराय ,3 बच्चों सहित लगभग 2 दर्जनों लोग घायल बेटी से बड़ा कोई धन नहीं: गर्ग वर्ष का हर दिन कंजक पूजन के रूप में मनाएं: संदीप गर्गलोकसभा चुनाव से बिजेन्द्र और भव्य हिसार से रख रहे हैं राजनीति में पहला कदमसांसद रमेश कौशिक पत्रकारों और जनता के समर्थन के बिना आप कुछ भी नहीं हो बेशर्म राजनेता -मौतों पर दुःख प्रकट करने की बजाए सेंक रहे है राजीनितिक रोटियां

Political

राजनेता नहीं कर सकेंगे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग लगा दिया प्रतिबन्ध

March 22, 2019 06:36 PM
फाईल फोटो
राजकुमार अग्रवाल
राजनेता नहीं कर सकेंगे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग लगा दिया प्रतिबन्ध
 
चण्डीगढ़(राजकुमार अग्रवाल ) भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार लोकसभा आम चुनाव, 2019 के लिए लागू आदर्श आचार संहिता के दौरान केन्द्र व राज्य सरकारों के मुख्यमंत्रियों/मंत्रियों व राजनीतिक कार्यक्रत्ताओं के बीच आधिकारिक तौर पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग करने पर प्रतिबन्ध रहेगा। हरियाणा के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. इन्द्र जीत ने इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि केवल प्राकृतिक आपदा जैसी घटना होने के तुरन्त बाद वीडियो कॉन्फ्रसिंग की जा सकती है बशर्ते की सम्बन्धित विभाग मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से अनुमति प्राप्त करेगा। उन्होंने बताया कि केवल कलेक्टर, जिला मजिस्ट्रेट तथा राहत कार्य में लगे वरिष्ठ अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में भाग लेंगे। वीडियो कॉन्फ्रसिंग के दौरान प्राकृतिक आपदा से सम्बन्धित राहत /बचाव कार्यों या इससे जुड़े अन्य पहलूओं को छोडक़र और किसी प्रकार की चर्चा नहीं की जा सकेगी।  उन्होंने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रसिंग से पहले या बाद में किसी प्रकार का प्रचार-प्रसार नहीं किया जा सकेगा और वीडियो कॉन्फ्रसिंग में मीडिया को भी नहीं बुलाया जाएगा। सम्बन्धित विभाग वीडियो कॉन्फ्रसिंग की पूरी प्रक्रिया की ऑडियो/वीडियो रिकॉर्डिंग करवाएगा तथा इसकी एक प्रति आयोग को भिजवाना सुनिश्चित करेगा। उन्होंने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रसिंग के दौरान मुख्य निर्वाचन अधिकारी के प्रतिनिधि की उपस्थित अनिवार्य होगी।उन्होंने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रसिंग के माध्यम से किसी भी प्रकार की घोषणा या अनुदान देने का वायदा, नकद सहायता व राजनीतिक प्रकार की ब्यान-बाजी व घोषणाएं नहीं की जा सकेंगी जो मतदाताओं को लुभाने वाली हो।

Have something to say? Post your comment

More in Political

उचाना हल्का से अनुराग खटकड़ इनेलो के सबसे मजबूत उमीदवार

चुनावी समय में नेता पहुंचने लगे हैं पंडितों की शरण में जीत के लिए अपना रहे हैं ज्योतिष के टोटकें

चप्पल व झाडू मिलकर करेंगे विपक्षी पार्टियों का सफाया: दुष्यंत चौटाला

हिसार में भाजपा ने अपने पैरों पर मारी कुल्हाड़ी,बृजेंद्र सिंह को टिकट देकर हाथ आई जीत गंवाई

भाजपा की सोच दलित विरोधी: रणदीप सुरजेवाला

बाजार शुक्ल के अलग-अलग स्थानों पर सपा और भाजपा कार्यकर्ताओं ने बनाया बाबा साहब की जयन्ती

अवतार भड़ाना न घर के रहे, न घाट के टिकट कटने से कांग्रेस में वापसी हो गई बेकार

खट्टर में घुसी जनरल डायर की आत्मा – जयहिन्द

दुष्यंत और केजरीवाल ने दिखाई समझदारी जेजेपी और आप दोनों के लिए फायदेमंद रहेगा गठबंधन

कांग्रेस प्रत्याशी के लिए भिवानी-महेन्द्रगढ़ सीट पर इस बार बदल गए हैं हालत