Thursday, April 18, 2019
BREAKING NEWS
अखबार सप्लायर के साथ मारपीट व लूटपाट कर जान से मारने की धमकीकैथल-जब सिर पर छत ही नहीं रहेगी तो कैसा मतदान, कैसा लोकतंत्र ?चुनाव बहिष्कार की चेतावनीमंडी में गंदगी होने पर गेहूं उतारने में आ रही दिक्कत से परेशान किसानों में भारी रोषभिवानी-महेेंद्रगढ लोकसभा से आरपीआई पार्टी के प्रत्याशी कूंदन चौधरी ने अपना नामाकंन पर्चा दाखिल किया।प्राईवेट बस, ट्राला व कम्बाईन आपस में टकराय ,3 बच्चों सहित लगभग 2 दर्जनों लोग घायल बेटी से बड़ा कोई धन नहीं: गर्ग वर्ष का हर दिन कंजक पूजन के रूप में मनाएं: संदीप गर्गलोकसभा चुनाव से बिजेन्द्र और भव्य हिसार से रख रहे हैं राजनीति में पहला कदमसांसद रमेश कौशिक पत्रकारों और जनता के समर्थन के बिना आप कुछ भी नहीं हो बेशर्म राजनेता -मौतों पर दुःख प्रकट करने की बजाए सेंक रहे है राजीनितिक रोटियां

Chandigarh

हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष को लेकर कांग्रेस में गुटबंदी , किरण व कुलदीप सहित कई दावेदार

March 27, 2019 03:34 AM
राजकुमार अग्रवाल

हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष को लेकर कांग्रेस में गुटबंदी , किरण व कुलदीप सहित कई दावेदार
चंडीगढ़ (राजकुमार अग्रवाल )अभय सिंह चौटाला को हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष से हटाए जाने के बाद यह पद अब कांग्रेस के हिस्‍से में जाएगा।  राज्‍य की राजनीति में कांग्रेस के लिए यह बड़ा मौका है, लेकिन पार्टी में इस पद के कई दावेदार होने से खींचतान बढ़ेगी। जो कांग्रेस के लिए यह मौका नई मुसीबत भी खड़ी कर सकती है। कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी के अलावा पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और वरिष्‍ठ नेता कुलदीप बिश्‍नोई इस पद के दावेदार हैं।विधानसभा स्पीकर ने इस संबंध में औपचारिक कार्रवाई कर दी है। विपक्ष के नेता पद के लिए नाम भेजने को विधानसभा सचिवालय की ओर से हरियाणा कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी तथा प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. अशोक तंवर को पत्र भेजा जा रहा है।इन सबके बीच गुटों में बंटी कांग्रेस के सामने अब विपक्ष के नेता पद को लेकर धर्म संकट खड़ा हो सकता है। किरण चौधरी कांग्रेस विधायक दल की नेता हैैं। इस लिहाज से विपक्ष के नेता पद पर किरण चौधरी की प्रबल दावेदारी बनती है। लेकिन, जिस तरह 17 विधायकों में से 13 पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा समर्थक हैैं, उसे देखकर लग रहा कि खुद हुड्डा अथवा उनकी पसंद के किसी विधायक को विपक्ष के नेता पद का तोहफा दिया जा सकता है।

 

 

 

 

कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई पर भी  इस पद के लिए भरोसा जता दे तो कोई हैरानी वाली बात नहीं होगी। राज्य में जो भी नया विपक्ष का नेता बनेगा, उसका कार्यकाल अक्टूबर माह तक होगा। राज्य में अक्टूबर 2014 में विधानसभा चुनाव हुए थे, जिसमें भाजपा को 47 सीटों पर, इनेलो को 19 सीटों तो कांग्रेस को 15 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। हरियाणा जनहित कांग्रेस दो, अकाली दल व बसपा एक-एक तथा निर्दलीय पांच विधायक चुनकर आए थे।हरियाणा जनहित कांग्रेस ने कांग्रेस में विलय कर लिया तो कांग्रेस विधायकों की संख्या बढ़कर 17 हो जाएगी । । इनेलो के दो विधायकों का निधन होने के कारण उनकी संख्या 17 रह गई। दो विधायकों द्वारा अपने पद से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने से इनेलो विधायकों की संख्या अब 15 है।कांग्रेस के पास इस समय 17 विधायक हैं, जिसके आधार पर तीसरे नंबर वाली पार्टी अब नंबर दो पर आ गई है। स्पीकर कंवरपाल गुर्जर का कहना है कि नए घटनाक्रम के बारे में कांग्रेस को एक पत्र के माध्यम से सूचित कर दिया गया है। कांग्रेस की तरफ से जिस भी विधायक का नाम भेजा जाएगा उसे नेता प्रतिपक्ष के रूप में मान्य कर दिया जाएगा। यह प्रक्रिया विधानसभा सत्र से पहले भी अमल में लाई जा सकती है।

Have something to say? Post your comment

More in Chandigarh

ओमप्रकाश चौटाला कीं ईडी ने कीं तीन शहरों में 3.68 करोड़ की संपत्तियां अटैच

बीरेंद्र सिंह ने झुकाया भाजपा को ,कांग्रेस के परिवार को कोसते कोसते खुद बेटे को उतार दिया चुनाव मैदान में

हरियाणा पुलिस का बाल बंदियों पर बरपा कहर, 20 बाल बंदियों को आई चोटें

हरियाणा कांग्रेस में घमासान:बेटे भव्य के लिए अड़े कुलदीप, अरविंद शर्मा की घर वापसी में भी अड़चन,

राज्यपाल आचार्य देवव्रत के प्रयासों से बदल गई लाखों किसानों की जिंदगी

गरीब बच्चों को मुफ्त दाखिला नहीं देंगे निजी स्कूल

भाजपा ने अरविंद शर्मा को बना दिया मांगेराम गुप्ता, सियासी खात्मे की कगार पर

अरविन्द शर्मा दल बदलने में माहिर , अब भाजपा से हैं नाराज

9 सीटों पर होगी इनेलो की जमानत जब्त सिरसा के अलावा अन्य लोकसभा सीटों पर इनेलो के लिए साख बचाना होगा नामुमकिन

आरोपी पूर्व सीएम हुड्डा एजेएल प्‍लाॅट आवंटन व मानेसर भूमि मामले में पंचकूला कोर्ट में पेश हुए