Tuesday, March 26, 2019
BREAKING NEWS
लव-अफेयर गाने का केस बना विवाद , कार्रवाई कैसे हो, पुलिस को धारा नहीं पतामनोहर की चुनावी गूंज, पानीपत की धरती में इस तरह हुआ स्वागतपार्टी उम्मीदवार की मृत्यु के बाद अगर नामांकन वापिस नहीं लिया जाता तो मतदान की प्रक्रिया स्थगित कर दी जाएगी।हरियाणा विधानसभा में नेता विपक्ष को लेकर कांग्रेस में गुटबंदी , किरण व कुलदीप सहित कई दावेदारगांव झुम्पा कलां का है मामला, ग्रामीणों का मर चुका जमीरवैश्य समाज ने फरीदाबाद से भी माँगी भाजपा की टिकटसीएम बनाओगे तो लडूंगा चुनाव -बीरेंद्र फरीदाबाद औषधि नियंत्रण विभाग ने छापा मारकर अवैध मेडिकल स्टोर का पर्दाफाश किया नोटबंदी और जी.एस.टी. ने देश की अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ी : अजादकरनाल मेरठ रोड पर दर्दनाक सड़क हादसा,2 की मौत

Business

बिटकॉइन को लेकर इनकम टैक्स विभाग के छापे, वेबसाइट बंद ! निवेशकों के करोड़ों रुपये फंसे

December 16, 2017 06:19 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
बिटकॉइन को लेकर इनकम टैक्स विभाग के छापे, वेबसाइट बंद ! निवेशकों के करोड़ों रुपये फंसे
(अटल हिन्द )
देश में बिटकॉइन की खरीद-फरोख्त करवाने वाली कंपनियों पर इनकम टैक्स विभाग के छापों के बाद कंपनी की वेबसाइट बंद होने के बाद इससे जुड़े गाजियाबाद समेत दिल्ली-एनसीआर और पूरे यूपी के हजारों अकाउंट ब्लॉक हो गए हैं। ऐसे में बिटकॉइन खरीद चुके लोगों का डिजिटल वॉलिट भी ब्लॉक हो गया है। बताया जा रहा है कि ऐसे लोगों के करोड़ों रुपये इसमें फंसे हैं। दिल्ली स्थित आर्थिक अपराध शाखा में दिल्ली के 15 लोगों ने इस संबंध में शिकायत भी दर्ज करवाई है। आरोप है कि हैदराबाद (आंध्र प्रदेश) की वेबसाइट 15 दिन से ब्लॉक है। कंपनी संचालक ने 24 घंटे में सब ठीक होने की बात कही है।
बिटकॉइन वेबसाइट बंद होने के बाद लोग परेशान
बिटकॉइन खरीदने वाले वेंकटेश ने बताया कि इससे पहले कंपनी की वेबसाइट बंद नहीं हुई। अभी कारण मेंटिनेंस बताया जा रहा है, लेकिन आयकर विभाग के शिकंजे के बाद से इसके शुरू नहीं होने से लोग परेशान हैं।
 
दो साल में 7 हजार से 14 लाख पहुंची कीमत
दो साल पहले एक बिटकॉइन महज 7 हजार रुपये का था। नोटबंदी के बाद इसकी कीमत अचानक 36-45 हजार रुपये हो गई। इस साल सितंबर में इसकी कीमत 5 लाख, अक्टूबर में साढ़े नौ लाख और नवंबर में 14 लाख रुपये हो गई।
 
नोटबंदी के बाद आयकर विभाग के रडार पर आए
आयकर विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बिटकॉइन इंडिया में लीगल नहीं है। नोटबंदी के बाद से बिटकॉइन की कीमत बढ़ने से इसमें ब्लैकमनी लगने का शक हुआ।
 
शिकायत: दिल्ली के 15 लोगों ने आर्थिक अपराध शाखा में की शिकायत, गाजियाबाद के 100 पीड़ितों ने बनाया वॉट्सऐप ग्रुप
 
बिटकॉइन: वो सब जो आप जानना चाहते हैं
 
एक्सपर्ट बताते हैं कि बिटकॉइन वर्चुअल करंसी है। हालांकि भारत में इसे करंसी नहीं, कमोडिटी की तरह मानकर निवेश किया जाता रहा है।
भारत में 10 कंपनियां खरीद-फरोख्त करवाती हैं। अकाउंट खोलकर एक ई-वॉलिट जारी किया जाता है।
विश्व में 2 करोड़ 10 लाख बिटकॉइन की सेल ही हो सकती है। इसमें डिमांड के बढ़ने के साथ ही इसके रेट भी बढ़ जाते हैं।
बिटकॉइन की शुरुआत जापानी मूल के इंजिनियर सातोषी नाकामोतो ने की थी। बिटकॉइन में 500 रुपये से करोड़ों रुपये का निवेश किया जा सकता है।
एक बिटकॉइन में 10 लाख सातोषी होते हैं। जो लोग महंगे बिटकॉइन नहीं ले सकते, वह सातोषी में पैसा लगा सकते हैं।
चीन और रूस में इसकी माइन होने के कारण दोनों की जगहों को बिटकॉइन का गढ़ माना गया है।

Have something to say? Post your comment

More in Business

फ्री मोबाईल सर्विस कैंप का आयोजन

पतंजलि दूध न बेंचने के लिए दबाव बनाने लगे अमूल दूध वाले

बगैर लाईसैंस गोदाम में रखे थे 595 बैग यूरिया, कृषि विभाग ने किया सील

आठ करोड़ का देनदार एक्सपोर्टर काबू ,जेल भेजा

कृष्ण मित्तल ने सुरेश चौधरी को हरा कर नई अनाज मंडी कैथल की प्रधानगी मिली

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने किसानों का आह्वान किया कि सभी किसान प्रकृति से जुड़े और प्राकृतिक खेती को अपनाएं

आईटीआई पास छात्रों का 8 मार्च को होगा आईटीआई उमरी में कैम्पस साक्षात्कार का आयोजन 

सीए डी.सी.गर्ग चार्टर्ड एकाउटेन्टस की फरीदाबाद शाखा के चेयरमैन नियुक्त

बजट में सभी का ख्याल रखा गया है: राजन मुथरेजा

बजट की पक्ष ने की सराहना तो विषक्ष ने नकारा