Friday, January 18, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
घरौंडा में अविश्वास प्रस्ताव के 15 दिन बाद आज पत्रकारों के समक्ष रूबरू हुए नगरपालिका प्रधान। कमीशनखोरी के चक्कर में टैंडर के बावजूद भी शुरू नही हो रहे काम तरावड़ी मेंकन्या जन्म पर नांगलमाला में किया गया कुआं पूजन कार्यक्रम का आयोजनसमाजसेवी व पत्रकार प्रिंस लाम्बा ने गौशाला में सवामणी लगा मनाया अपना 16वां जन्मदिनभूपेंद्र हुड्डा जींद के चुनावी मैदान में दिखे सुरजेवाला के साथ ,चुनाव प्रचार भी किया तरावड़ी में सप्ताह में घटी चौथी चोरी की वारदात, पुलिस नाकामअमेठीः खेममऊ ग्रामसभा में समाजवादी कार्यकर्ताओं ने लगाया चौपालघरौंडा -असन्तुष्ट 7 पार्षद आज एसडीएम घरौंडा से आगामी कारवाही के लिए मिले।
Literature

111 श्री रामायण पाठों का हुआ शुभारंभ

संजय गर्ग | January 27, 2018 04:39 PM
संजय गर्ग
तीन दिवसीय 111 श्री रामायण पाठों का हुआ शुभारंभ 
सदगुरू के मिलने से होते हैं अनेक फल प्राप्त: संत पुरूषार्थानंद 
लाडवा, 27 जनवरी(संजय गर्ग): परम हंस श्री योग दरबार ब्रहम्ज्ञान मंदिर लाडवा में तीन दिवसीय 111 श्री रामायण पाठों का शुभारंभ हो चुका है। जिसमेें 101 श्रद्वालुओं पुरूष व महिलाओं ने श्री रामायण पाठों का पाठ किया। 
दरबार की प्रवक्ता बाई परम योगानंद ने बताया कि पाठों के प्रथम दिवस पर प्रात: काल ब्रहम्लीन गुरू श्री श्री 1008 योग श्रद्वानंद जी की विधिवत पूजा अर्र्चना की गई। उन्होंने बताया कि श्रद्वालुओं में इतना उत्साह था कि 111श्री रामायण पाठों की बजाय 121 श्री रामायण पाठों की शुरूआत की दी गई। दरबार की प्रमुख संत पुरूषार्थानदं जी ने अपने प्रवचनों में कहा कि यदि कोई व्यक्ति संतो की ओर एक कदम बढ़ाता है तो उसे 100 यज्ञों के समान फल मिलता है। उन्होंने कहा कि तीर्थो पर जाने से केवल एक फल मिलता है जब कि संतो के पास जाने से चार-चार फल प्राप्त होते हैं। जो धर्म, अर्र्थ, काम व मोक्ष के रूप में प्राप्त होते हैं। उन्होंने कहा कि यदि सदगुरू मिल जाए तो अनेक फलों की प्राप्ति होती है। इस अवसर पर सीमा बजाज, चंचल नागपाल, वीणा मलिक, आशा, अनिता, सुदेश नागपाल सहित भारी संख्या में श्रद्वालु उपस्थित थे। 
Have something to say? Post your comment
More Literature News
अबकि बार मकर संक्रांति पर्व 14 जनवरी नहीं बल्कि 15 जनवरी को ही मान्य - पं. रामकिशन
सांई के जीवन से साधारण इंसान को अच्छा मनुष्य बनने में प्रेरणा मिलती है : सुमित पोंदा
कैथल में पूजा अर्चना के साथ हुआ श्री साई अमृत कथा का शुभारंभ
बोले सो निहाल-सत श्री अकाल धर्म हेत साका जिन किया, शीश दीया पर सिर न दिया
हजरत इलाही बू अली शाह कलंदर साहिब की दरगाह पर इन्द्री में चल रहें सालाना उर्स मुबारक व भंडारे पर आज एक विशेष शोभा-यात्रा
पूर्वाचलियों को छठ पूजा की बधाई देने आधा दर्जन स्थानों पर पहुंचे मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार
15 नवंबर को मनाया जाएगा शाह कलंदर का सालाना उर्स
5 नवंबर से दीवाली के पंच पर्व आरंभ
बुढ़ापा अनुभवों का वो पीटारा है जो बहुत चोटें खाने के बाद ही मिलता है: अचल मुनि 2
सोनीपत-बाबा जिन्दा मेले में हजारों भक्तों ने माथा टेका