Tuesday, January 22, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
गोण्डा जिले के पसका मेला में सट्टेबाज व जुआरियों की रही चांदी, पुलिस प्रशासन मौन।पीएम मोदी से लोग नाराज होते तो महागठबंधन की जरुरत क्यों पड़तीः अरुण जेटलीपैरोल रद्द होने से भड़के ओ पी चौटाला ,कहा दिग्विजय ने पीठ में घोंपा छुरा बर्तन साफ कर रही महिला को गंडासे से काटकर निर्मम हत्या शहरी मतदाताओं की जुबान खुलती है बस इतनी...सारे बढिय़ा, माड़ा तो कोई नहीं कहीं भाजपा सरकार की नौटंकी तो नहीं है आईएमटी!जिला निर्वाचन अधिकारी अमेठी ने आगामी लोकसभा निर्वाचन को लेकर किया समीक्षा बैठक, अधिकारियों को दिया आवश्यक दिशा निर्देशपौने दो लाख मतदाताओं की हर उम्मीद पर खरा उतरूँगा- रणदीप
Business

सरसों की आवक जोर पर लेकिन सरकारी खरीद न होने से किसानों की जेब काटी जा रही है

अटल हिन्द ब्यूरो | March 16, 2018 05:30 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

जिला की मंडियों में सरसों की आवक जोर पर लेकिन सरकारी खरीद न होने से किसानों की जेब काटी जा रही है
श्री ओम
(धनेश विधार्थी)
नूंह:- जिला की मंडियों में सरसों की आवक जोरों से हो रही है लेकिन मंडियों में सरकारी खरीद शुरू न होने से किसान कारणवश निजि दुकानों पर इसकी बिकवाली औने पौने दामों में कर रहे हैं। जिला की मंडियों में 3200 से 3500 रूपये प्रति क्वंटल खुली बोली में सरसों की बिकवाली हो रही है। जबकि सरकारी रेट 4000 प्रति क्वंटल हैं। इससे सरकार के गलत रवैये के चलते किसानों की जेबे काटी जा रही है। जिससे उनको प्रति क्वंटल 600 से 800 रूपये का नुकसान हो रहा है और निजि आढ़तियों का सीधा फायदा पहुंचाया जा रहा है।
उधर सरकारी खरीद एजेंसी के प्रबंधक का कहना है कि उनके पास अभी तक सरसों की सरकारी खरीद के कोई हिदायत नहीं पहुंची है और पहुंचने पर खरीद शुरू करा दी जायेगी।

Have something to say? Post your comment
More Business News
पुरानी पुस्तकें-खरीदने व बेचने के लिए दिया बेहतरीन मंच : डा. ज्योति जुनेजा
व्यापारियों के कारोबार खत्म होते जा रहे है:सुशील गुप्ता
राजहंस सोप मिल्स प्राइवेट लिमिटेड पर छापा : 25 करोड़ नकद बरामद, बाकी गिनती जारी
सरकार की गलत नीतियों के कारण राइस मिले नुकसान में चल रही है - बजरंग गर्ग
केंद्र का फैसला, बिना यूपीएससी भी बनेंगे अफसर, 10 मंत्रालयों में 3 साल का होगा टर्म, प्राइवेट कंपनी में काम करने वालों को भी मौका
सरकारी खरीद एजेंसी द्वारा गेहूँ की पेमेंट ना मिलने से व्यापारी व किसान परेशान--भगवान दास ।
व्यापारी व किसान विरोधी नीतियों के कारण प्रदेश में व्यापार व उधोग पूरी तरह पिछड़ा। - बजरंग दास गर्ग ।
महिला कौशल विकास योजना के तहत ब्युटीपार्लर का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू।
नरवाना में जॉब फेयर का आयोजन
लहसुन की खेती करने से बढेगी किसानों आमदन : डा. सी.बी सिंह