अंबाला HARYANA में ये क्या हुआ , corona संदिग्ध महिला की मौत, अंत्येष्टि में पुलिस से भिड़े ग्रामीण

अंबाला HARYANA में ये क्या हुआ , corona संदिग्ध महिला की मौत, अंत्येष्टि में पुलिस से भिड़े ग्रामीण

हरियाणा के अंबाला में कोरोना की एक संदिग्ध मरीज की मौत हो गई. अंत्येष्टि के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीण मैदान पहुंच गए. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने इन्हें रोकने का प्रयास किया तो ये पुलिस से ही भिड़ गए.

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू है. ऐसे में अलग-अलग राज्यों ने अंत्येष्टि आदि के लिए भी अलग-अलग नियम-कायदे बना रखे हैं. इन नियमों का अनुपालन कराना पुलिस के लिए काफी चुनौतीपूर्ण साबित हो रहा है. हरियाणा में एक ऐसा ही मामला सामने आया है.

हरियाणा : कोरोना संदिग्ध महिला के अंतिम संस्कार पर भड़के लोग, पुलिस-डॉक्टरों की टीम पर बरसाये पत्थर

 

What happened in Ambala HARYANA, corona suspected woman’s death, villagers clash with police at funerals

A suspected corona patient died in Ambala, Haryana. A large number of villagers reached the grounds for the funeral. When the police reached the spot after getting the information, they clashed with the police.

 

 

अंबाला: हरियाणा के अंबाला में कोरोनावायरस (Coronavirus) संदिग्ध महिला के अंतिम संस्कार को लेकर बवाल मच गया. महिला के अंतिम संस्कार का विरोध कर रहे ग्रामीणों की सोमवार शाम पुलिस और डॉक्टरों से झड़प हो गई. सोमवार को शहर के एक अस्पताल में 60 वर्षीय महिला की बीमारी की वजह से मौत हो गई. जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार करने की तैयारी की गई. लॉकडाउन (Lockdown) के नियमों का उल्लंघन करते हुए चांदपुरा गांव के लोगों ने अंतिम संस्कार स्थल पर पहुंच पुलिस पर पथराव कर दिया. जिसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हवा में फायरिंग करने पड़ी.

 

 

haryana के निवासी हो क्या इसके लिए हरियाणा सरकार पहचान पत्र जारी करेगी 

भीड़ को हटाने के बाद बुजुर्ग महिला का अंतिम संस्कार किया जा सका. एक डॉक्टर ने बताया कि महिला की कोरोनावायरस जांच की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. सिविस सर्जन कुलदीप सिंह ने कहा, “महिला को अस्थमा की समस्या की थी और सोमवार दोपहर को उन्हें सांस लेने में दिक्कत हुई. उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई. कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लेने के बाद निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए उनके अंतिम संस्कार के लिए शव जिला प्रशासन को सौंप दिया गया था.” सिंह ने कहा कि ग्रामीण बिना गैरवाजिब तरीके से अंतिम संस्कार का विरोध कर रहे थे.

HARYANA कुत्ते ने क्या काटा दो पक्षों में हो गया  झगड़ा।   फायरिंग में 7 घायल

 

 

अंबाला कैंटोनमेंट के डीएसपी राम कुमार ने बताया, “हमने ग्रामीणों को समझाया कि सभी सुरक्षा उपायों को अपनाया गया लेकिन वह बात सुनने को तैयार नहीं थे. जल्द ही उन्होंने डॉक्टरों और पुलिसकर्मियों पर पथराव शुरू कर दिया. उन्होंने एंबुलेंस को भी नुकसान पहुंचाया. भीड़ को हटाने के लिए हम कुछ बल प्रयोग करना पड़ा.” उन्होंने कहा, “लॉकडाउन का उल्लंघन करने और डॉक्टरों-पुलिसकर्मियों पर हमला करने वालों के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *