अब भाजपा के काले अंग्रेज आ गए

अब भाजपा के काले अंग्रेज आ गए

पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस के दाम बढ़ोतरी पर कांग्रेस का प्रदर्शन

कांग्रेसियों नें अर्धनग्ग्न होकर सड़कों पर निकाली तिरंगा यात्रा

फतह सिंह उजाला

Now the black British of BJP have arrived

Congress’s performance on petrol-diesel-LPG price hike

Congressmen took out the tricolor on the streets after being half-awake

 


गुुरूग्राम। 
  कृषि के तीन काले कानून, बढती महंगाई, बढते पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस सिलेंडर के रेट, बढती बेरोजगारी के खिलाफ जिला कांग्रेस कमेटी गुुरूग्राम। ने विरोध प्रदर्शन कर तिरंगा यात्रा निकाली। पुरानी जेल चैराहा, नजदीक सोहना चैक से प्रदर्शन करते हुए कांग्रेसी राजीव चैक पंहूचे। यहां पंहूचकर धरने पर बैठे किसानों का समर्थन किया। यात्रा के दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी भी की।

इस दौरान पूर्व मंत्री कैप्टेन अजय सिंह यादव, पूर्व मंत्री सुखबीर कटारिया, राव कमलबीर, सुधीर चैधरी, डा शमसुदीन के अलावा गुडगांव के प्रभारी हरपाल सिंह बुरा मुख्य रूप से मौजूद रहे। कैप्टेन अजय सिंह ने कहा कि देश की आजादी के लिए कांग्रेस पार्टी देश के सम्मान तिरंगे झंडे को साथ लेकर चली थी और तिरंगे को चार चांद लगाते हुए न जाने कितने आंदोलन किए थे जब जाकर देश को आजादी मिली थी। वो गौरे अंग्रेज तो चले गए लेकिन अब भाजपा के काले अंग्रेज आ गए हैं। जब देश गुलाम था तब ये आरएसएस के लोग उनकी महारानी को सलामी दिया करते थे। आरएसएस की शाखाओं में कभी भी तिरंगा झंडा नही फहराया जाता, तो फिर आरएसएस-भाजपा को क्या पता कि तिरंगे में क्या ताकत है। इसलिए हमने आज इस गुंगी-भहरी भाजपा सरकार के मुंह और कान खोलने के लिए यह तिरंगा यात्रा निकाली है।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से पेट्रोल-डीजल के दाम रोजाना बढ रहे हैं, ऐसा ही चलता रहा तो देश कई साल पिछे चला जाएगा और लोगों को मजबूरन बैलगाडी लेकर आना जाना पडेगा। श्री यादव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के शासन काल में पेट्रोल-डीजल के दाम में कुछ पैसे का ईजाफा होते ही भाजपा वाले कितना हंगामा करते थे, लेकिन आज 800 रूपये का गैस सिलेडर हो गया है, पेट्रोल-डीजल 100 रूपये होने वाला है। फिर भी भाजपा बोलती है कि ये अच्छे दिन हैं सही में तो अच्छे दिन भाजपा के आए हैं। श्री यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह दोनों मिलकर अपने दो दोस्तों के फायदा के लिए देश को बेचने में लगे हुए हैं। भारतीय रेलवे, एलआईसी, बीएसएनएल, ऐयरपोर्ट, बंदरगाह के अलावा लाल किला तक इन्होंने बेच दिया और अब किसान भाईयों को भी अपने पंूजीपति दोस्तों के हाथ की कठपुतली बनाना चाहते हैं। लेकिन ऐसा कांगे्रस पार्टी कभी नही होने देगी।

सुखबीर कटारिया ने कहा कि अब समय है देश के अन्नदाता ने इस तानाशाही सरकार के खिलाफ आवाज उठाई है। जिसमें बढचढ कर हिस्सा लें क्योंकि ये लडाई अन्नदाताओं की नही है बल्कि आम आदमी की लडाई है। उन्होंने कहा कि कृषि के काले कानून लागू होने से पूंजीपतियों का बोलबाला हो जाएगा, आढती भाग जाएगें, मध्यम वर्ग के जो किसान और व्यापारी हैं उनका माल लेने के लिए इस देश में कोई नही मिलेगा। स्टॉक लीमिट पर प्रतिबंध खत्म करने से ब्लैक मार्केटिंग होगी, जिसके चलते दाल, चावल, चीनी मनमानी दाम पर बडे पूंजीपति लोग आम जनता को देगें। उन्होंने कहा कि कांट्रेक्ट फारमिंग से किसान भाई का न्यायालय जाने के रास्ते बंद कर दिए।

प्रभारी बुरा ने कहा कि इस भाजपा सरकार का किसान, जवान, युवा, महिला, महंगाई, बेरोजगारी की तरफ ध्यान नही है। ये तो बस हम दो, हमारे दो की सरकार है। इनके पंूजीपति दोस्त जो आदेश देते हैं उन्हीं को देश की जनता को थौंप देते हैं।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसान भाईयों को आंदोलनजीवी और परजीवी बोलकर देश के अन्नदाता का अपमान किया है। ऐस शब्द बोलकर प्रधानमंत्री ने अपने पद की मार्यादा को भी नही समझा। इसके लिए उनको देश के अन्नदाता से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक दिन इन कृषि के काले कानूनों को भाजपा सरकार को वापिस लेना ही होगा। क्योंकि सच्चाई को कभी हराया नही जा सकता।  इस मौके पर सतबीर पहलवान, इंद्र सिंह सैनी, सुनिता सेहरावत, पूजा शर्मा, निर्मल यादव, रशमी शर्मा, सुशील भारद्वाज, सुबे सिंह यादव, राहुल यादव, पंकज डाबर, अशोक भास्कर, मनोज भारद्वाज, नवीन शर्मा, सतबीर गुर्जर, कुलदीप गुर्जर, सचिन यादव, रमेश शर्मा, लाल सिंह यादव, प्रवीण यादव, जगमोहन सरपंच, कृषण सैनी, राज ठेकेदार, वर्धन यादव, राजेश यादव, अरविंद उल्लावास, मीनु शर्मा, गजेंद्र चैहान, सुमन सेहरावत इत्यादि के अलावा सैंकडों की संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *