Atal hind
Uncategorized

आरटीआई से खुलासा:  मुख्यमंत्री खट्टर, मंत्रियों तथा राज्यपाल के भारतीय नागरिक होने का कोई सबूत मौजूद नहीं

आरटीआई से खुलासा:  सीएम, राज्यपाल, मंत्रियों के नागरिकता प्रमाण पत्र मौजूद नहीं हैं सरकार के पास

मुख्यमंत्री खट्टर, मंत्रियों तथा राज्यपाल के भारतीय नागरिक होने का कोई सबूत मौजूद नहीं है।
चंडीगढ़(राजकुमार अग्रवाल ), हरियाणा सरकार के पास मुख्यमंत्री खट्टर, मंत्रियों तथा राज्यपाल के भारतीय नागरिक होने का कोई सबूत मौजूद नहीं है। मुख्यमंत्री सचिवालय ने यह सूचना निर्वाचन आयोग के पास होने की संभावना व्यक्त करते हुए इस बारे आरटीआई आवेदन को वापिस लौटा दिया है।पानीपत के आरटीआई एक्टिविस्ट पीपी कपूर ने बताया कि प्रदेश सरकार नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व एनआरसी के समर्थन में रैलियां कर रही है।

 

इस बारे उन्होंने गत 20 जनवरी को मुख्यमंत्री सचिवालय में आरटीआई आवेदन लगाकर सीएम मनोहरलाल खट्टर व उनके सभी मंत्रीमंडल सहयोगी मंत्रियों और राज्यपाल के भारतीय नागरिक होने के सबूतों की छाया प्रति मांगी थी। सीएम सचिवालय की जन सूचना अधिकारी एवं अधीक्षक पूनम राठी ने अपने 17 फरवरी के पत्र द्वारा बताया कि यह सूचना उनके पास रिकार्ड में नहीं है। मांगी गई सूचना निर्वाचन आयोग के पास उपलब्ध होने की सम्भावना व्यक्त करते हुए आरटीआई आवेदन को कपूर को वापिस लौटा दिया।कपूर ने मुख्यमंत्री सचिवालय के राज्य सूचना अधिकारी के इस जवाब पर हैरानी प्रकट करते हुए कहा कि जिनके अपने नागरिकता के प्रमाण पत्रों के रिकार्ड मौजूद नहीं हैं वो पूरे प्रदेश व देश की 135 करोड़ जनता से सबूत मांग रहे हैं।

Leave a Comment