Atal hind
क्राइम हरियाणा हिसार

एक चवन्नी नहीं मिलेगी। पूरे गांव की निल रिपोर्ट भेज कर गांव को कांटा मार दूंगा।

एक चवन्नी नहीं मिलेगी। पूरे गांव की निल रिपोर्ट भेज कर गांव को कांटा मार दूंगा।
कृषि विभाग का एडीओ गिरफ्तार, खराब फसलों का मुआवजा देने की एवज में मांग रहा था हिस्सा
hisar (अटल हिन्द ब्यूरो )हिसार में कृषि विभाग के एडीओ को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी एडीओ खराब फसलों के मुआवजा देने की एवज में 25 फीसदी हिस्सा मांग रहा था, जिसके बाद बाड्या रागड़ान के दो किसानों ने इसकी शिकायत की थी। दो किसानों ने आरोप लगाया था कि मुआवजे की राशि का 25 प्रतिशत हिस्सा नहीं दिया तो सहायक कृषि अधिकारी बलविंद्र नेहरा ने (एडीओ) ने उनकी फसल के खराबे की शून्य रिपोर्ट भेज दी। उन्हें मुआवजे से वंचित होना पड़ा।
उन्हें धमकी भी दी कि 25 प्रतिशत नहीं दोगे पूरे गांव पर कांटा मार दूंगा और एक चवन्नी भी नहीं मिलेगी। पीड़ित किसानों ने एडीओ के साथ फोन पर हुई बातचीत की सीडी तैयार कर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और केंद्र और प्रदेश के कृषि मंत्री तथा अधिकारियों की शिकायत भेजी थी।
किसान रोहताश कुमार व सुरेंद्र सिंह ने बताया कि किसान जब केसीसी बनवाते हैं तो बैंक द्वारा खेत में खड़ी फसल का इश्योरेंस किया जाता है। 2019-20 में रबी की फसल का बीमा प्रीमियम बैंक से लिया था। 2019-20 में जलभराव के कारण अधिकांश किसानों की खेतों में खड़ी गेहूं की फसल खराब हो गई थी। रिपोर्ट के लिए ब्लाॅक हिसार प्रथम के सहायक कृषि अधिकारी बलविंद्र नेहरा को नियुक्त किया।
गांव में जांच और गिरदावरी के दौरान एडीओ बलविंद्र ने किसानों को स्पष्ट कहा कि जो किसान मुआवजे की राशि का 25 प्रतिशत देगा, उसे मुआवजा मिलेगा, जो नहीं देगा, उसे एक चवन्नी नहीं मिलेगी। पूरे गांव की निल रिपोर्ट भेज कर गांव को कांटा मार दूंगा। जिन किसानों ने 25 प्रतिशत दिया हिस्सा दिया था, उन्हें मुआवजा मिला है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

कैथल में  1 मार्च से 31 मार्च तक  सोशल मीडिया के माध्यम से  कानूनी जागरूकता अभियान  : दानिश गुप्ता

admin

किसी व्यक्ति को कोरोना के सिग्टम लग रहे हैं तो वे छुपाए नही, अपितू अपना कोरोना टैस्ट करवाएं- सुजान सिंह

admin

narwana साप्ताहिक अखबार के संपादक ने सुसाइड वीडियो किया वायरल

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL