Atal hind
Uncategorized

ऐलनाबाद सीट के इतिहास में केवल एक बार 2010 में हुआ उपचुनाव,अभय सिंह चौटाला तीसरी बार मैदान में

ऐलनाबाद सीट के इतिहास में केवल एक बार 2010 में हुआ उपचुनाव
इनैलो से अभय सिंह चौटाला तीसरी बार मैदान में
अटल हिंद/नरेश सोनी
राजस्थान सीमा के साथ सटी हरियाणा की सबसे अंतिम विधानसभा सीट ऐलनाबाद में अब तक केवल एक बार ही उप-चुनाव हुआ है । 2010 में हुए इस उप-चुनाव में इनेलो व कांग्रेस के बीच में कड़ा मुकाबला देखने को मिला था । जिसमें इनेलो की ओर से अभय सिंह चौटाला ने कांग्रेस के भरत सिंह बैनीवाल को 6227 वोटों के अंतराल से मात दी थी । इस चुनाव में जीत दर्ज कर यहां अभय सिंह चौटाला अपने पिता ओम प्रकाश चौटाला की साख को बचाने में सफल रहे वहीं इनेलो का गढ कही जाने वाली इस सीट पर अपना कब्जा कायम भी रखा । वहीं कांग्रेस प्रत्याशी भरत सिंह बैनीवाल की हार के बावजूद पूरे क्षेत्र में उनके द्वारा किए गए मुकाबले की चर्चा रही । क्योंकि इससे 1 वर्ष पहले हुए 2009 विधानसभा चुनावों में वह ओपी चौटाला से 16423 वोटों से पीछे रह गए थे । ऐसे में उपचुनाव के नतीजों में केवल 6227 वोटों का अंतराल उनके लिए किसी जीत से कम नहीं था। इस उपचुनाव का कारण था कि 2009 के चुनावों में यहां से जीतकर निकले इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने दो जगह
ऐलनाबाद व नरवाना में जीत मिलने के बाद ऐलनाबाद सीट से इस्तीफा दे दिया था । जिसके बाद उन्होंने अपने सुपुत्र अभय सिंह चौटाला को इस सीट से मैदान में उतारा था । तब से लेकर अब तक अभय सिंह अजेय रहे हैं । पिछले 2014 के चुनाव में उन्होंने भाजपा के पवन बैनीवाल को 11535 वोटों से हराकर एक बार फिर जीत दर्ज की थी । इस बार अभय सिंह इनैलो प्रत्याशी के रूप में तीसरी बार मैदान में हैं।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL