Atal hind
कैथल टॉप न्यूज़ हरियाणा

किसी व्यक्ति को कोरोना के सिग्टम लग रहे हैं तो वे छुपाए नही, अपितू अपना कोरोना टैस्ट करवाएं- सुजान सिंह

किसी व्यक्ति को कोरोना के सिग्टम लग रहे हैं तो वे छुपाए नही, अपितू अपना कोरोना टैस्ट करवाएं- सुजान सिंह

लॉकडाउन-4 में लापरहवाही न बरतें आमजन, कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए करें प्रशासन का पूर्ण सहयोग :

उपायुक्त सुजान सिंह

कैथल, 13 सितंबर ( अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल   )

उपायुक्त सुजान सिंह ने बताया कि कोविड-19 यानि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए आमजन का

सहयोग काफी आवश्यक है। जिस तरह से कोरोना संक्रमितों की संख्या में एक दम बढ़ोत्तरी हुई है, हमें काफी सावधान रहने की

काफी आवश्यकता है। लोगों की सुविधा के मद्देनजर सरकार द्वारा विभिन्न गतिविधियों के संचालने के लिए अनलॉक-4 में भी छूट

प्रदान की गई है। आमजन अनलॉक-4 में मिली इस छूट के बीच कोरोना से बचाव संबंधी उपायों व सावधानियों के प्रति लापरवाही

न बरतें। जिला में यदि किसी व्यक्ति को कोरोना के सिग्टम लग रहे हैं तो वे छुपाए नही, अपितू अपना कोरोना टैस्ट करवाएं।

उपायुक्त सुजान सिंह ने कहा कि आमजन अनलॉक में कोरोना वैश्विक महामारी के प्रति गंभीरता न भूलें और अनलॉक में भी

लॉकडाउन की भांति कोविड-19 बचाव संबंधी नियमों व हिदायतों की अनुपालना करें। कोरोना से बचाव के लिए मॉस्क लगाना,

सोशल डिस्टेंसिंग व बार-बार हाथों को धोना आदि उपायों को अपनी आदत में शुमार करें, ताकि कोरोना संक्रमण से बचाव हो

सके। संक्रमण के प्रति छोटी सी लापरवाही स्वयं को और दूसरों को भी खतरे में डाल सकती है। उन्होंने जिलावासियों से अपील

करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रति सतर्कता दिखाते हुए प्रशासन का पूर्ण सहयोग करें। क्षेत्र के लोग संक्रमण के फैलाव

की गंभीरता को समझें। इस बीमारी के फैलाव को उपाय व सावधानियां बरत कर ही रोका जा सकता है। उन्होंने कहा कि

आमजन न केवल स्वयं बल्कि अपने आसपास के लोगों को भी कोरोना से बचाव के उपायों को अपनाने बारे प्रेरित करें। उन्होंने

कहा कि आमजन बाजार में हो या अन्य किसी भी कार्य क्षेत्र पर हों एक दूसरे से कम से कम दो गज की दूरी पर रहें। मुंह को मॉस्क

या किसी कपड़े से ढकें। यदि हम मॉस्क, सोशल डिस्टेसिंग व बार-बार हाथ धोने जैसी सावधानियों व उपायों को अपनाते हैं तो

काफी हद तक कोरोना से बच रह सकते हैं और दूसरों को भी सुरक्षित रख सकते हैं। हर व्यक्ति अपने एंड्रायड मोबाईल में आरोग्य

सेतू एप को डाऊनलोड करें, ताकि आपको समय-समय पर अलर्ट मिलता रहे।

उपायुक्त ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट अनुसार शनिवार यानि 12 सितंबर तक जिला में कुल 1719 कोरोना पॉजीटीव

केस मिले हैं, जिनमें 500 केस एक्टीव है और 1197 केस रिकवर हो चुके हैं। अब तक 496 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं, जिसमें से

206 जोन एक्टीव हैं तथा 290 जोन डी-नोटिफाईड किए जा चुके हैं। अब तक विदेशों से आने वाले लोगों की संख्या 715 हैं, जिनमें

से 710 ने क्वायरनटाईन समय को पूरा कर लिया है। विदेश से आने वाले 5 लोगों में से 2 को कोयल कॉम्पलैक्स तथा 3 को एचएयू

कौल में रखा गया है। अभी तक 1299 लोगों को होम आयुसलेट किया गया है, जिनमें से 439 व्यक्ति होम आयुसलेट हैं तथा 860

लोगों ने होम आयुसलेशन के अंतर्गत अपना समय पूरा कर लिया है।

तंबाकु व निकोटीन यानि गुटका, पान मसाला के निर्माण, भंडारण व वितरण करने वालों पर होगी कार्रवाई 

 उपायुक्त सुजान सिंह ने बताया कि खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के अंतर्गत निर्मित खाद्य

सुरक्षा एवं मानक (विक्रय प्रतिशोध और निबर्धन) नियम 2011 के विनियम 2, 3, 4  के अनुसार तंबाकु व निकोटीन यानि गुटका,

पान मसाला के निर्माण, भंडारण, वितरण पर सरकार द्वारा एक वर्ष तक प्रतिबंध लगाया गया है। यदि  कोई भी खाद्य कारोबार

कर्ता इन खाद्य पदार्थों का निर्माण, भंडारण व बिक्री करता है तो उसके विरूद्ध खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम 2006 के तहत

नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

रणदीप सुर्जेवाला ने झूठ के आधार पर बरगलाया है पी.टी.आई. अध्यापकों को-लीला राम 

Sarvekash Aggarwal

लड़के के निप्पल किस काम के होते हैं?

admin

दस कुत्ते अचानक कैसे मर गए ,गांव वाले भी हैरान 

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL