कैथल एसपी ने कहा  मामला दर्जटाल-मटौल न करें कैथल जिला के पुलिस कर्मी , देरी नहीं की जाएगी सहन

थाना तथा चौंकी प्रभारियों का परिचय प्राप्त करके एसपी द्वारा दिए गये दिशा-निर्देश,
शिकायत प्राप्त होने पर मामला दर्ज होने में देरी देरी नहीं की जाएगी सहन : एसपी शशांक कुमार सावन
कैथल, 19 फरवरी (राजकुमार अग्रवाल )

बुधवार की शाम नवनियुक्त पुलिस अधीक्षक कैथल शशांक कुमार सावन आईपीएस द्वारा पुलिस लाईन में सभी थाना प्रबंधकों, चौंकी तथा सीआईए प्रभारियों व कार्यालय पुलिस अधीक्षक के अधिकारियों की मिटिंग लेकर परिचय प्राप्त करते हुए उचित दिशा निर्देश दिए गये। पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रबंधकों को आदेश दिए कि वे थाने में आने वाले फरियादी की शिकायत को धैर्यपुर्वक सुनकर मामला दर्ज करने में टाल-मटौल ना करते हुए तुंरत अभियोग दर्ज करके कार्रवाई अमल में लांए। एसपी द्वारा आदेश दिए गये कि निरंतर बढ रहे चोरी के मामलों पर अंकुश लगाने के अतिरिक्त नशे का कारोबार करने वाले मुखय अपराधियों पर लगाम कसें। रात्री गश्त के दौरान पुलिस कर्मचारी रिफलैक्टिव जैकेट का प्रयोग करे, तथा राईडर व पीसीआर की बत्ती निरंतर जगाकर रखें, ताकी पुलिस की मौजूदगी दिखे।

 

एसपी शशांक कुमार सावन ने मिटिंग के दौरान सभी पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए कि लडाई-झगडों के मामलों में मैडिकल रिपोर्ट का इंतजार किए बगैर शिकायत प्राप्त होने के 24 घंटे मध्य मामला दर्ज करके जांच के दौरान जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफतार करके शिघ्रातिशिघ्र मामले का चालान न्यायालय में पेश करें। इस प्रकार के मामलों में टाल-मटौल सहन नहीं की जाएगी, तथा किसी भी कारणवश डिले होने की स्थिती में रपट के दौरान देरी होने का कारण दर्ज करें। आन लाईन फ्रॉड की शिकायत प्राप्त होनें इस प्रकार के मामले तुरंत स्पैशल साईबर क्राईम को फारवर्ड करें, ताकि शिघ्रता पुर्वक आगामी कार्रवाई की जा सके। उन्होंने दहेज उत्पीडऩ मामलों में तथ्यात्मक गिरफतारी करने के आदेश देते हुए आत्महत्या के लिए मजबूर करने के मामलों की सजगता से जांच करने के निर्देश दिए।

 

पुलिस अधीक्षक ने सभी थाना प्रबंधक व चौकी प्रभारियों को आदेश दिए कि वे सुनिश्चित करें कि शादी विवाह तथा जागरण के कार्यक्रमों दौरान रात्री 10 बजे के बाद डीजे का प्रयोग ना हो। उन्होंने कहा कि देर रात्री तक चलने वाले इस प्रकार के कार्यक्रमों से जहां बच्चों की पढाई में बाधा उत्पन्न होती है, वहीं पडौसियों व बिमार व्यक्तियों को बेवजह परेशानी का सामना करना पडता है। उन्होंने निर्देश दिए कि शराब ठेकों के पास अवैध शराब अहाते किसी सुरत में सहन नहीं किए जाएंगे, तथा ठेके के आसपास लगने वाली रेहडी पर शराब नौशी करने वाले असामाजिक तत्वों पर पैनी निगाह रखकर नियमानुसार कडी कार्रवाई अमल में लाएं।

 

पुलिस अधीक्षक द्वारा एंटी नार्कोटिक सैल को कडे निर्देश दिए गये कि वे नशे का धंधा करने वाले बडे मगरमच्छों को पकडे, तथा नशे का धंधा करने वाले मूल अपराधियों की तह तक पहुंचे। सभी थाना प्रबंधक व चौकी प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में जुआ व सट्टे का धंधा करने वाले असामाजिक तत्वों पर कडी लगाम कसें। थाना चौकी में प्रत्येक रविवार की सुबह कर्मचारी श्रमदान करके समुचित साफ सफाई करें। उन्होंने कहा कि सभी चौकी प्रभारी व थाना प्रबंधक अपने कंधों पर जिममेंदारी समझकर ज्यादा मेहनत करके बेहतरीन व अनुकरणीय उदाहरण पेश करें।
पटाखे बजाने वाली बुलैट बाइकों पर कसें शिकंजा :- एसपी ने थाना प्रबंधकों व टै्रफिक पुलिस को आदेश दिए कि वे किसी भी वाहन को दस्तावेज चैक करने के लिए ना रोंके, अपितु यातायात नियमों की अवहेलना करने पर नियमानुसार कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि दुपहिया वाहन पर ट्रिप्पल राईडिंग, एंडर एज ड्राईविंग, बगैर नं. प्लेट के वाहन, पटाखे बजाने वाली बुलैट बाइक तथा ब्लैक फिल्म लगी गाडी किसी भी सुरत में सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने पटाखे बजाने वाली बुलैट बाईक चालकों पर कडी कार्रवाई अमल में लाए जाने के आदेश देते हुए कहा कि इस प्रकार की मोटरसाइकिल के साइंलैंसर को मोडिफाई करने वालों के खिलाफ भी कडी कार्रवाई करें।
बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना प्रबंधक व चौकी प्रभारियों से उनकी विभागिय दिक्कतों के अतिरिक्त थाना में चारपाई, फर्नीचर, बर्तन तथा अन्य जरुरतों के बारे में जानकारी हासिल करके मौके पर शिकायतों का निवारण कर दिया गया। बैठक में डीएसपी एईसी बलजिंद्र सिंह, डीएसपी पुंडरी कृष्ण कुमार, डीएसपी कलायत विनोद शंकर, डीएसपी ट्रैफिक रविंद्र सांगवान, कार्यालय पुलिस अधीक्षक के हैडक्लर्क इंस्पैक्टर चांदवीर, इंचार्ज कंट्रोल रुम इंस्पैक्टर मेहर सिंह, ओएसआई कस्तूरी लाल तथा अन्य कर्मचारी व अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *