कैथल के विधायक के खिलाफ सख्त  कारवाई की जाए -कामरेड औमप्रकाश

कैथल के विधायक के खिलाफ सख्त  कारवाई की जाए -कामरेड औमप्रकाश

भिवानी (24 दिसम्बर, 2019) भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के जिला सचिव मंडल ने कैथल के भाजपा विधायक लीलाराम द्वारा दिए गए भडक़ाऊ भाषण पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उसके खिलाफ सख्त से सख्त कारवाई की मांग की है।
प्रेस  को जारी बयान में माकपा जिला सचिव का. औमप्रकाश व सचिव मण्डल सदस्य अनिल कुमार ने बताया कि सोशल मीडिया पर प्रचारित हो रहे एक टीवी न्यूज चैनल के वीडियों में भाजपा विधायक लीला राम बहुत ही निदंनीय और साम्प्रदायिक आधार पर हिंसक भाषण देते हुए सुनाई दे रहे हैं। इस भाषण में वे यह कहते हुए कि यह महात्मा गांधी और नेहरू का देश नहीं बल्कि मोदी और अमितशाह का देश है और उनके इशारे भर से हम एक घंटे में एक समुदाय विशेष का सफाया कर सकते हैं। एक जनप्रतिनिधि के द्वारा इस तरह की भडक़ाऊ भाषा का इस्तेमाल साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए बेहद खतरनाक है। इस तरह का आचरण देश के संविधान के विरूद्ध है जिसकी विधायक के रूप में उसने शपथ ली है। जानकारी मिली है कि उन्होंने यह भाषण कल कैथल में भाजपा व उसके सहयोगी संगठनों द्वारा आयोजित एक सार्वजनिक कार्यक्रम में दिया है। जाहिर है स्थानीय प्रशासन को भी इस बारे जानकारी रही होगी। लेकिन अफसोस की बात है कि अभी तक प्रशासन की ओर से उनके खिलाफ कोई कारवाई नहीं की गई है। भारतीय दंड संहिता के अनुसार यह एक अपराधिक कृत्य है। दो दिन पहले हरियाणा के गृहमंत्री ने नागरिकता संशोधित कानून के खिलाफ बोलने वाले विपक्षी नेताओं के खिलाफ मुकदमें दर्ज करने का बयान दिया था जबकि किसी भी विपक्षी नेता ने संविधान की उल्लंघना करने वाला कोई आपत्तिजनक वक्तव्य नहीं दिया था। अब उसी की पार्टी के विधायक द्वारा  अपराधिक बयान दिया गया है तो गृहमंत्री उसके खिलाफ कार्रवाई के आदेश दे।
मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने मांग की है कि लीलाराम विधायक के खिलाफ तुरंत एफ.आई.आर. दर्ज करके कानूनी कारवाई की जाए। इसके अलावा भाजपा की यदि रत्ती भर भी संविधान में आस्था है तो वह उसे अपनी पार्टी से निष्कासित करे। पार्टी ने यह भी मांग की है कि साम्प्रदायिक हिंसा को बढ़ावा देने वाले इस तरह के व्यक्ति की विधानसभा सदस्यता भी रद्द की जानी चाहिये।
ऐसा प्रतीत होता है कि नागरिकता संशोधन कानून पर जागृति के नाम पर आरएसएस-भाजपा और उनसे सम्बन्धित संगठनों द्वारा साम्प्रदायिक नफरत पैदा करने की मुहिम छेड़ी गई है। ऐसे में पार्टी ने जिला की जनता से अपील की है कि वह सांझी विरासत और साम्प्रदायिक सौहार्द को बनाए रखते हुए इस तरह के कुत्सा प्रयासों को नाकाम करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *