कैथल जिला में अनावश्यक तौर पर लोगों की एंट्री रोकने के लिए 7 इंटरस्टेट नाके लगाए गये

कैथल जिला में अनावश्यक तौर पर लोगों की एंट्री रोकने के लिए 7 इंटरस्टेट नाके लगाए गये,
24 से 31 मार्च तक रहेगा लॉकडाऊन के दृष्टिगत सुरक्षात्मक कदम,
सभी डीएसपी को दिए आवश्यक दिशा निर्देश
लोग अपने-अपने घरों में रहकर करें सहयोगह : एसपी शशांक कुमार सावन
कैथल, 23 मार्च (atal hind ) कोरोना वायरस से बचाव के लिए सरकार के आदेशो के चलते जिला में महामारी रोग अधिनियम, 1897 के तहत 24 मार्च से 31 मार्च तक लॉकडाऊन हेतू जिला पुलिस हाई एलर्ट है, जिसके दृष्टिगत एसपी शशांक कुमार सावन द्वारा सोमवार 23 मार्च की शाम कैंप कार्यलय में ली गई मिटिंग दौरान पांचों डीएसपी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गये। पुलिस द्वारा लॉकडाऊन के दृष्टिगत जिला में सात इंटरस्टेट नाके स्थापित कर दिए गये, जो 23 मार्च रात से ही कैथल जिला में अनावश्यक तौर पर प्रवेश करने वाले वाहनों तथा लोगों पर पैनी नजर रखेंगे। पुलिस अधीक्षक द्वारा सभी थाना प्रबंधकों को निर्देश दिए गये है कि वे अपने-अपने क्षेत्र के लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए जागरुक करें। उन्होंने जिला के आमजन से अपील की है कि वे अपने घर पर ही सुरक्षित रहें अति आवश्यक होने पर ही घर से निकलें। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि एसपी शशांक कुमार सावन के आदेशानुसार चिचड थेह मोड खरकां, टटियाना, संगतपुरा, अजीमगढ, हरनौली, भाटिया बांध तथा पटियाला रोड कमेहडी पर जिला में प्रवेश करने वाले प्राईवेट वाहनों तथा लोगों के अनावश्यक प्रवेश को रोकने के लिए 7 इंटरस्टेट नाके 23 मार्च की रात 12 बजे से कडी निगाह रखेंगे।
उपायुक्त सुजान सिंह ने कहा कि लॉकडाऊन के तहत 31 मार्च तक कोई भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट सविर्सिज, टैक्सी व ऑटो रिक्शा के चलने की अनुमति नहीं है। जिला के सभी निजी, कॉरपोरेट प्रतिष्ठानों और कारखानों को 31 मार्च तक पूर्णतया बंद रहेंगे। साथ ही जिला के स्थानीय बाजार, सभी साप्ताहिक बाजार, शॉपिंग मॉल बंद रहेंगे। उक्त आदेशों में आवश्यक वस्तुओं को प्रदान करने वाली सेवाओं को संचालित करने की ही अनुमति दी जाएगी लेकिन सामाजिक दूरी के लिए सावधानी बरतनी आवश्यक रहेगी। उन्होनें बताया कि जिला के सभी पार्कों, सामुदायिक केंद्रों  और ऐसे अन्य सभी प्रतिष्ठानों में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। पांच या इससे अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने पर पाबंदी रहेगी। लॉकडाउन के दौरान नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होने कालाबाजारी का धंधा करने वाले अपराधियों के खिलाफ कडी कार्रवाई अमल में लाए जाने के अतिरिक्त थाना प्रबंधकों को आदेश दिए गये है कि वे अपने अपने क्षेत्र के लोगों के मध्य जाकर उनको महामारी के आवश्यक दिशा निर्देश देकर लोगों को निरंतर जागरुक करेंगे। सभी थाना प्रबधकों को कडे आदेश दिए गये कि वे आज जन के जानमाल की सुरक्षा के लिए सजगता का परिचय देकर प्रभावी रात्रीकालीन करें। पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार पुलिस विभाग की छुट्टियों पर रोक लगा दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *