Atal hind
कैथल क्राइम टॉप न्यूज़ हरियाणा

कैथल नगर परिषद चेयरपर्सन सीमा कश्यप सस्पैंड

कैथल नगर परिषद चेयरपर्सन सीमा कश्यप सस्पैंड
kaithal news , 07 मई (atal hind ): रिश्वत मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है जिसमें कैथल नगर परिषद चेयरपर्सन (seema kashyap)सीमा कश्यप सस्पेंड हुई है। आपको बता दें कि कैथल में डोर टू डोर सफाई ठेकेदार बलबीर नौच से 3 लाख रुपये की रिश्वत लेने के मामले में नगर परिषद कैथल(nagar parishad) की चेयरपर्सन सीमा कश्यप के पिता सुरेश कश्यप व भाई शिवा कश्यप को विजिलेंस टीम द्वारा रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया था।
जिसके बाद विजिलेंस टीम ने सीमा कश्यप को भी दोषी करार दिया था क्योंकि रिश्वत की सभी राशि सीमा कश्यप चेयरपर्सन के नाम पर ली जा रही थी और विजिलेंस अधिकारियों द्वारा उच्च अधिकारियों से सीमा कश्यप की सस्पेंशन को लेकर पत्र व्यवहार किया गया था, जिसके बाद आज सीमा कश्यप को सस्पेंड किया गया है। आपको बता दें कि कैथल नगर परिषद भ्रष्टाचार का अड्डा बन चुकी है। जहां पर आम नागरिकों को भी अपने छोटे छोटे कार्यो के लिए कथित तौर पर रिश्वत देनी पड़ती है और जहां सफाई ठेकेदार द्वारा काफी समय से रिश्वत मांगे जाने के आरोप चैयरपर्सन सीमा कशयप के पिता सुरेश कश्यप पर लगाए गए थे और पिछले दिनों 3 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए चेयरपर्सन प्रतिनिधि सुरेश कश्यप और शिवा कश्यप को विजिलेंस टीम ने गिरफ्तार किया था। उसके बाद शहर भर में चर्चा थी कि राजनीतिक दबाव के चलते सीमा कश्यप पर कोई कार्यवाही नहीं होगी लेकिन अब सीमा कश्यप के सस्पेंशन आर्डर जारी होने के बाद शहर में इस बात की चर्चाओं पर विराम लग गया है। आपको बता दें कि भ्रष्टाचार के आरोप में सिटी स्क्वेयर के मामले में पहले भी सीमा कश्यप के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो चुकी है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

66 रूपए खर्च कर नेताओं को यह समझाओ की सविधान किसी सरकार को  नागरिकों के स्वास्थ्य के साथ लापरवाही करने की अनुमति नहीं देता 

admin

कैथल में  शनिवार को 5 कोरोना संक्रमितों की मौत 

admin

क्या हिंदू समाज हत्यारों का साझीदार हुआ?

admin

Leave a Comment

URL