Atal hind
कैथल क्राइम टॉप न्यूज़ हरियाणा

कैथल में दिल को झकझोर देने वाला मामला पिता की चिता की राख ठंडी होने से पहले बेटी की हुई मौत,

कैथल में दिल को झकझोर देने वाला मामला पिता की चिता की राख ठंडी होने से पहले बेटी की हुई मौत,
KAITHAL(ATAL HIND)।

A heart-wrenching case in Kaithal, the daughter died before the ashes of the father’s funeral pyre froze,

कैथल में दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। पिता की चिता की राख अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि बेटी ने भी मौत को गले लगा लिया। हालांकि आत्‍महत्‍या कोई एकमात्र विकल्‍प नहीं था। पिता के अंतिम संस्‍कार के अगले दिन बेटी को भी अंतिम विदाई दी गई।मामला कैथल के गांव खानपुर का है। पिता की मौत की सूचना मिलते ही बेटी ने भी जहरीला पदार्थ खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

अनाज मंडी चौकी पुलिस ने मृतका के चचेरे भाई रिंकू सैनी के बयान दर्ज कर 174 के तहत कार्रवाई की है।रिंकू ने बताया कि 48 वर्षीय बलकार सैनी हलवाई का काम करता था। उनका परिवार अब कुतुबपुर रोड बालाजी नगर में रहता था। उसे कई सालों से कैंसर थी और उसका इलाज चल रहा था। कुछ दिन पहले ही उसे इलाज के लिए चंडीगढ़ पीजीआइ में भर्ती करवाया गया था। 25 फरवरी को बीमारी के कारण मौत हो गई।मौत की सूचना जैसे ही 24 वर्षीय काजल को हुई तो उसने जहरीला पदार्थ खाकर अपनी जान दे दी। काजल आइजी कालेज में बीएससी फाइनल की छात्रा थी। डेढ साल पहले ही मां शीला देवी की बीमारी के कारण मौत हो गई थी। अब घर में बड़ा भाई संजू और भाभी रह गई हैं।स्वजनों ने बताया कि काजल हमेशा कहती थी कि वह अपने पिता के साथ ही चली जाएगी, लेकिन उस समय स्वजनों को यह अंदाजा नहीं था कि वह सच में ही ऐसा कर देगी। 25 फरवरी को पिता का अंतिम संस्कार किया गया और अगले दिन बेटी का अंतिम संस्कार हुआ।अनाजमंडी चौकी इंचार्ज एएसआइ पारस ने बताया कि मृतका के चचेरे भाई रिंकू सैनी के बयान पर 174 के तहत कार्रवाई की गई है। पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव स्वजनों को सौंप दिया गया है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

kaithal 40 करोड़ के देनदार  लेखराज एण्ड संस  का साथ देने वाले आढ़ती व राइस मिल मालिकों का बहिष्कार किया जायेगा

admin

भाजपा के मंत्री, सांसद, विधायक व पदाधिकारी घरों में कैद: सुरजेवाला 

admin

अटल हिन्द में खबर छपने के बाद जींद प्रशासन के फूले हाथ-पांव ,मौके पर पहुंचा प्रशासनिक अमला,  ढाकल हैड पर शवों का आना लगातार जारी,

admin

Leave a Comment

URL