Atal hind
गुरुग्राम टॉप न्यूज़ हरियाणा हेल्थ

कोविड-19 फिर हुआ बेलगामदेहात के 46 के सहित कुल 606 पॉजिटिव केस दर्ज

कोविड-19 फिर हुआ बेलगामदेहात के 46 के सहित कुल 606 पॉजिटिव केस दर्ज

बीते 24 घंटे में ली एक और जान मौत का आंकड़ा 367 तक  कोविड-19 के 46 केस दर्ज

Kovid-19 again registered a total of 606 positive cases including 46 of Belgaum Dehat
One more death toll taken in last 24 hours till 367
46 cases of Kovid-19 registered


Pataudi NEWS (फतह सिंह उजाला)
 फसल की कटाई, मंडी में बिक्री और इस सबके बीच में कोरोना कोविड-19 गुरुग्राम में एक बार फिर से बेलगाम होता जा रहा है । अप्रैल के पहले ही 3 दिन में प्रतिदिन यहां पॉजिटिव केस की संख्या बढ़ कर सामने आ रही है । देश की राजधानी में दिल्ली के दक्षिणी दिल्ली के साथ लगते गुरुग्राम और गुरुग्राम में सिटी से बाहर देहात के इलाके में कोरोना कॉविड 19 के मामले लगातार बीते 3 दिनों से बढ़़े हुए आंकड़ों के साथ सामने आ रहे हैं ।

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक बीते 24 घंटे के दौरान जिला गुरुग्राम में कोरोना कोविड-19 के रिकॉर्ड तोड़ अप्रैल माह में 606 नए पॉजिटिव केस दर्ज किए गए है । इन पॉजिटिव केस में देहात कहलाने वाले पटौदी, फरुखनगर और सोहना को मिलाकर यहां के भी नए 46 पॉजिटिव के शामिल हैं । केंद्र सहित सूबे की सरकार के उच्च पदस्थ मंत्री और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी बारंबार आगाह करते हुए आम लोगों को चेतावनी दे रहे हैं कि कोरोना कॉविड 19 के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं । ऐसे में कोविड-19 से बचाव के लिए जारी दिशा निर्देशों का सख्ती के साथ में पालन किया जाना अनिवार्य है । इस प्रकार की सख्ती और दिशा निर्देश आम जनमानस की तो समझ में आ सकते हैं , सवाल यह है की बेलगाम हो रहे कोरोना कोविड-19 को किस भाषा में और किस प्रकार से फैलने से रोका जाए ?

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक देहात के इलाके और सिटी को मिलाकर जिला गुरुग्राम में कोरोना कॉविड 19 एक्टिव केस का आंकड़ा 2627 तक पहुंच गया है । वही 2417 कोरोना कॉविड 19 की चपेट में आए लोगों को होम आइसोलेशन में रखकर निगरानी की जा रही है । बीते 1 वर्ष के दौरान जिला गुरुग्राम में 3 अप्रैल 2021 शनिवार तक 63398 कोरोना कोविड-19 पॉजिटिव केस दर्ज किए जा चुके हैं । वही स्वास्थ्य विभाग के दावे के मुताबिक इनमें से 61404 ऐसे मामले हैं जो की पूरी तरह से रिकवर होकर स्वस्थ होने वालों में शामिल हैं । बीते 24 घंटे के दौरान 261 लोग भी कोविड-19 की पकड़ से मुक्ति पाने वालों में शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक पहले दिन से ही सिटी से बाहर देहात कहलाने वाला पटौदी ब्लॉक कोरोना कॉविड 19 के लिए साफट टारगेट बने पटौदी ब्लॉक में अभी तक 4727 कोविड-19 के पॉजिटिव केस दर्ज किए जा चुके हैं । इसमें भी चैंकाने वाली बात यह है कि बीते 24 घंटे के दौरान यहां पर 34 नए कोविड-19 के पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं । राहत की बात केवल मात्र ब्लॉक फरुखनगर के लिए है ,यहां केवल मात्र एक मामला सामने आया है । जबकि सोहना ब्लॉक में शनिवार को 11 नए पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं । इस प्रकार अभी तक फरुखनगर ब्लॉक में 649 पॉजिटिव केस दर्ज हुए हैं ,तो सोहना ब्लॉक में पॉजिटिव केस की संख्या 2134 तक पहुंच गई है ।

अप्रैल माह के पहले ही 3 दिन में कोरोना कॉविड 19 की वजह से तीन लोगों की मौत होना भी स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ जिला प्रशासन के लिए चिंता का कारण बनी दिखाई दे रही है । इसके विपरीत सरकार और स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त प्रयास और कार्य योजना के तहत 1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को कोरोना कोविड-19 की वैक्सीनेशन की डोज देने का काम भी युद्ध स्तर पर आरंभ किया जा चुका है । स्वास्थ्य विभाग से जुड़े सभी कर्मचारी और अन्य सहयोगी संस्थाएं भी आम लोगों को जागरूक करते हुए कोरोना कॉविड 19 से बचाव के लिए वैक्सीनेशन की डोज लेने के साथ-साथ स्वास्थ्य  विभाग के साथ मिलकर कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीनेशन की डोज लेने को कैंप का भी आयोजन कर रही हैं । होली के त्योहार के बाद फसल कटाई और इसकी बिक्री के सीजन में जिस प्रकार से बढ़ते तापमान के बीच कोरोना कॉविड 19 के मामलों में अचानक से उछाल आना आरंभ हुआ है , निश्चित ही यह चिंतन मंथन के साथ कोविड-19 के मामलों को और अधिक फैलने से रोकने के लिए एक नई चुनौती के रूप में सामने आता जा रहा है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

लॉकडाउन में एक मासूम की पलटी किस्मत पुलिस 3 साल बच्चे के लिए “भगवान” बन गई

समय मुश्किल जरूर है पर, सोचे तो हर समस्या का हल भी है

admin

अर्णब के व्हाट्स चैट पर बोलना था प्रधानमंत्री को, बोल रहे हैं राहुल गांधी, क्यों?

admin

Leave a Comment

URL