Atal hind
Uncategorized

खरखौदा में डबल मर्डर से फैली सनसनी पीर बाबा मजार के महंत और उसके शिष्य की लाठी और डंडों से पीट-पीटकर हत्या

सोनीपत के खरखौदा में डबल मर्डर से फैली सनसनी
पीर बाबा मजार के महंत और उसके शिष्य की लाठी और डंडों से पीट-पीटकर हत्या, पुलिस कर रही है मामले की जांच

रणबीर सिंह रोहिल्ला, सोनीपत। जिले के खरखौदा में गोपालपुर रोड पर बनी एक पीर बाबा की मजार में बीती देर रात अज्ञात बदमाशों ने वहां के महंत रामनाथ और उसके शिष्य रामाशीष की लाठी और डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। वारदात की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सोनीपत के सामान्य अस्पताल में भिजवा दिया।
सोनीपत के खरखौदा में उस समय सनसनी फैल गई जब गोपालपुर रोड पर बनी एक मजार में उसके महंत रामनाथ का शव तो नाले में मिला और उसके शिष्य रामाशीष का शव मजार के अंदर मिला। शव मिलने की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सोनीपत के सामान्य अस्पताल में भिजवा दिया।
रामाशीष के बेटे सुंदरम ने बताया कि उसके पिता घिसाई का काम करते हैं और वह कह रहे थे कि मैं रात को बाबा के पास रहुंगा। जब उसने सुबह उनको फोन किया तो उनका फोन नहीं मिल रहा था। वह बाबा की मजार पर गया तो देखा कि मेरे पिता का शव लुहुलुहान अवस्था में जमीन पर पड़ा है। वह तुरन्त घर भागा और परिवारवालों को इसकी सूचना दी।
इस पूरे मामले की जांच कर रही खरखौदा पुलिस टीम के इंचार्ज डीएसपी हरेंद्र सिंह ने बताया कि उन्हेंं सूचना मिली थी कि पीर बाबा मजार के महंत का शव तो नाली में पड़ा हुआ है और उसके चेले रामशीश का शव मजार में पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंच कर दोनों के शवों को कब्जे में लिया है। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल भिजवा है। इस पूरे मामले में तीन टीमों का गठन किया गया है, जो जल्द से जल्द इस दोहरे हत्याकांड की गुत्थी को सुलझा लेगी। उन्होंने कहा कि इसके पीछे लूट की वारदात को अंजाम देने की योजना भी हो सकती है।
खरखौदा शहर के गांव गोपालपुर मार्ग पर स्थित जाली सैय्यद की पीर बाबा की मजार पर रह रहे गुरु-शिष्य की लाठी डंडों से पीटकर हत्या।
जानकारी के अनुसार बीती रात गोपालपुर रोड़ पर स्थित जाली सैय्यद पीर बाबा की मजार पर पिछले 15 साल से रह रहे बाबा रामनाथ उफऱ् हरिकिशन व उसके पास आकर रूकने वाले खरखौदा के वार्ड नं. 6 निवासी रामाशीश की अज्ञात हमलावरों ने सिर में लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी। रामाशीश फर्स घिसाई का काम करता था और वह देर सवेरे आकर पीर की मजार पर आकर रूक जाता था। रामनाथ उफऱ् हरिकिशन पूर्व में गांव रोहट का रहने वाला है। बीते दो-तीन महीने पहले भी यहां पर रहने वालों पर जानलेवा हमला हो चुका है। पुलिस इस संबंध में मामला दर्ज छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस ने दोनों मृतकों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल सोनीपत में भिजवा दिया है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL