Atal hind
टॉप न्यूज़ हरियाणा हेल्थ

गंभीर बीमारियों से बच सकते है  काले गेहूं के इस्तेमाल से*

गंभीर बीमारियों से बच सकते है  काले गेहूं के इस्तेमाल से*
———————————————
काले गेंहू (Black wheat) के लाभ व पोषक तत्व
**************************
      – – – – – *सुशीला बिस्वास*
 सामान्यतः हम खाने में गेंहू (भूरे रंग)  काम मे लेते है।आपको बतादे की भूरे रंग के गेंहू के अलावा काले रंग के गेंहू भी होते है।और इस काले गेंहू में सामान्य गेंहू की तुलना में अधिक पोषक तत्व होते है।काले गेंहू के नियमित सेवन से हम कई गंभीर रोगों से अपने को मुक्त रख सकते है।
काले गेहूं में पोषक तत्व का खजाना है (काला गेहूं अनाज का राजा है) काले गेंहू में  विटामिन बी-1, बी- 2, बी-3,बी-5,बी-6,व बी-9 उचित मात्रा में होती है।तथा काले गेंहू के ज्वारे  में विटामिन -ए, बी, सी, ई और के पाई जाती है।इसके अलावा इसमें मैंगनीज, मैग्नीशियम,आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, तांबा,
प्रोटीन, फाइबर काफी मात्रा में होते है।100 ग्राम काले गेंहू मैं 10 ग्राम फाइबर मिलती है। काला गेहूं एमिनो एसिड से भरपूर होता है,यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। अधिक एंथ्रोसैनीन की वजह से गेहूं का रंग काला होता है।सामान्य  गेहूं में एंथ्रोसैनीन 5 पीपीएम होता है जबकि काले गेंहू में यही मात्रा 100 से 200 के करीब पाई जाती है। प्रोटीन की मात्रा भी आम गेहूं के अपेक्षा काले गेंहू में 4 गुना अधिक होती है। काले गेंहू शरीर से फ्री रेडिकेल्स निकालकर हृदय रोग,कैंसर,मधुमेह,मोटापा, एनीमिया और अन्य रोगों की रोकथाम करता है। काला गेहूं में सामान्य गेहूं की तुलना में 60% आयरन अधिक होता है। काले गेंहू के ज्वारे,स्प्राउट्स, दलिया और रोटियां एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है।इस गेंहू में कैंसर रोधी तत्व पाए जाते हैं जो कैंसर कारक तत्वों को मारने की क्षमता रखते हैं। एंथ्रोसैनीन नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट व एंटी बायोटिक है। काले गेहूं का रंग व स्वाद में सामान्य गेहूं से थोड़ा अलग होता है लेकिन बेहद पौष्टिक होता है। काला गेहूं सर्दी के मौसम में दिल की धड़कन को सामान्य बनाए रखता है ।काले गेहूं का सेवन हर मौसम में किया जा सकता है क्योंकि इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी अधिक होती है जो आपको हर मौसम में फिट व हेल्दी रखता है।
भारत मे काले गेंहू का उत्पादन पंजाब,हरियाणा व मध्यप्रदेश राज्यो में होता है।तथा रूस, कजाकिस्तान,चीन,तथा पूर्वी व मध्य यूरोप में इसका मुख्य रूप से उत्पादन किया जाता है।
1.काले गेहूं में पोषक तत्व :-
 (100 ग्राम गेंहू में)
 1.कैलोरी -343,
2.पानी-    10%,
3.प्रोटीन-  13.3 ग्राम,
4.चीनी-    0 ग्राम,
5.फाइबर- 10 ग्राम,
6.वसा     -3.4 ग्राम,
7.क़ाबर्स-  71.5 ग्राम,
 आदि होते है।
 2.*मधुमेह में लाभदायक*:-
यदि आप मधुमेह से परेशान है तो काले गेहूं के साथ मक्का, चना, सोयाबीन, जो,मूंग, मिलाकर इसकी रोटी खाए,सर्दी के मौसम में बाजरा भी मिला सकते है।इसकी रोटी मधुमेह में बहुत ही लाभदायक होती है।कुछ दिन में मधुमेह सामान्य हो जाएगा।
*मात्रा*–
 5 किलो में 1 -1 किलो सभी अन्न मिलाएं तथा बाजरा 500 ग्राम मिलाए।इसकी रोटी खाये।
3.*कैंसर से बचाव*-
कैंसर से बचना चाहते हैं तो काले गेहूं के ज्वारे का रस,अंकुरित गेंहू व रोटी का सेवन करे।
 4.*उच्च रक्तचाप में लाभकारी:-
 काले गेंहू में मौजूद पौष्टिक तत्व उच्च रक्तचाप के साथ-साथ
कोलोस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है।
 5. इंफेक्शन में कारगर :-
काले गेंहू में फाइबर की अधिक मात्रा होने के कारण आंतों की इन्फेक्शन को दूर करता है।
6.एनीमिया को दूर करता है :-
 काला गेहूं में प्रोटीन,मैग्नीशियम तथा आयरन प्रचुर मात्रा में होता है ।इसका नियमित सेवन करने से (शरीर मे रक्त की कमी) एनीमिया  को दूर करता है,व शरीर मे ऑक्सीजन का स्तर भी सही रहता है।
7.काले गेंहू का सेवन शरीर में व्हाइट ब्लड सैल्स को बनाता है।
8.कब्ज को दूर करता है:-
 नियमित  काले गेहूं की रोटी खाते हैं तो कभी कब्ज की  शिकायत नहीं होगी। कब्ज ही बीमारियों की जड़ है। पाचनतंत्र सही रहेगा तो आप स्वास्थ्य रहेंगे।
9.कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखता है:- काले गेंहू अम्ल ओर फाइबर काफी मात्रा में होता है।इसका नियमित सेवन,केलोस्ट्रोल को नियंत्रित रखता है।
10.काले गेंहू का सेवन नए उत्तकों को बनाने में कारगर
11.काले गेंहू का नियमित सेवन शरीर के विकाश में लाभदायक
*******
सुशीला बिस्वास
योगाचार्य, प्राकृतिक चिकित्सक व रिफ्लेक्सोलाजिस्ट,
निदेशक,योग सेवा संस्थान
न्यू जानकी पूरी,नई दिल्ली।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

हरियाणा में हुई सर्वदलीय बैठक, सरकार को मिला विपक्ष का support

Sarvekash Aggarwal

Jakhal 52 घंटो के बाद पुलिस प्रसाशन के आश्वासन पर परिजनों  किया संस्कार

admin

HARYANA में महामारी अध्यादेश लागू मिल्क बूथ अब 12 घंटे खुले रहेंगे

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL