Atal hind
कैथल टॉप न्यूज़ हरियाणा

गिलगित-बालिस्तान भारत का एक अभिन्न और अटूट अंग : मौलाना सैयदुर रहमान

गिलगित-बालिस्तान भारत का एक अभिन्न और अटूट अंग : मौलाना सैयदुर रहमान

कैथल, 04 अक्टूबर (कृष्ण प्रजापति): पाकिस्तान सरकार ने गिलगित-बालिस्तान में चुनाव करवाने की तारीख की घोषणा करते ही भारत सरकार ने साफ शब्दों में पाकिस्तान को कह दिया कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के पूरे केंद्र शासित प्रदेश जिसमें गिलगित और बलिस्तान भी शामिल है भारत के अभिन्न और अटूट अंग है। कैथल निवासी मौलाना सैयदुर रहमान ने कहा कि पाकिस्तान कितनी भी चाल चल ले पर गिलगित- बालिस्तान भारत का एक अभिन्न और अटूट अंग था और रहेगा। गिलगित- बालिस्तान में जातीय हिंसा करवा कर पाकिस्तान चाहता है कि वहां के लोग राजनीतिक और संवैधानिक अधिकारों की मांग ना करें। वहां के लोग पृथकता और मायूसी झेल रहे हैं जो पाकिस्तानियों द्वारा किए जा रहे बर्ताव से बिल्कुल खुश नहीं है। वह अपने अधिकारों के लिए लंबे समय से लड़ रहे हैं किंतु उनकी आवाज को दबाया जा रहा है। बालिस्तान के लोगों द्वारा जम्मू कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेशों में भारत सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों की बहुत तारीफ की जा रही है। जब कभी भी वहां रोष प्रदर्शन किया जाता है तो वहां के लोग भारतीय सरहद की तरह मार्च करते हुए “कारगिल चलो” का नारा देते हैं। सेंज हासन शेरिंग- डायरेक्टर इंस्टिट्यूट ऑफ़ गिलगित बालिस्तान स्टडीज ने संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार परिषद के 42वें में सत्र में बोलते हुए कहा था कि गिलगित-बालिस्तान भारत का एक अभिन्न अंग है। शेरिंग ने भारतीय सरकार से अपील कि है कि भारत सरकार को भारतीय संसद में गिलगित- बालिस्तान को भारतीय भारतीय क्षेत्र में जोड़ने के अपने दावे को पेश करना चाहिए। अल्ताफ हुसैन संस्थापक- मुत्ताहिदा कौमी आंदोलन ने भी आरोप लगाया कि पाकिस्तान में मानवाधिकारों की कोई जगह नहीं है और विभाजन के समय भारत से आए लोगों पर बहुत जुल्म होते आए हैं। अल्ताफ हुसैन ने अपील की है की संयुक्त राष्ट्र संघ को अपने पर्यवेक्षकों को पाकिस्तान भेज कर जांच करवानी चाहिए कि पाकिस्तान की सरकार और सेना गिलगित बालिस्तान के लोगों पर अत्याचार कर रही हैं।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

कलायत में  पीने के पानी वाले   टैंक में बड़ी संख्या में तैरते मिले जलीय जीव  

admin

ये है मेरा हरियाणा – लॉकडाउन में भी धड़ल्ले से हो रही शराब की अवैध बिक्री,नशा और हथियार भी पकड़ा गया

Sarvekash Aggarwal

विनाशकाले.विपरीत बुद्धि..अन्नदाता का अपमान, मतदाता का अपमान : देवमुनि हरियाणा

admin

Leave a Comment

URL