गुरुद्वारे पर मंडराया कोरोना का खतरा, कई दिनों से ठहरे हैं सैकड़ों लोग

गुरुद्वारे पर मंडराया कोरोना का खतरा, कई दिनों से ठहरे हैं सैकड़ों लोग

 

The danger of corona hovering over the gurudwara, hundreds of people have stayed for many days

 

नई दिल्ली(अटल हिन्द ब्यूरो ) दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में पिछले दिनों आयोजित हुई तबलीगी जमात में शामिल 24 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमित होने के बाद से हड़कंप बचा हुआ है जिसके बाद जिले के मजनू का टीला गुरुद्वारा का एक नया मामला सामने आया। जहां 300 लोग लॉकडाउन के दौरान कई दिनों से गुरुद्वारे में फंसे हुए हैं, ऐसे में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ओर पंजाब के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि इन 300 लोगों को यहां से निकाला जाए, क्योंकि इनमें से कई लोगों को खासी, जुखाम और हल्का बुखार भी है।इन सभी लोगों की जांच करवाई जाए इनमें कोरोना के संक्रमण का खतरा हो सकता है।

 

 

मनजिंदर सिंह सिरसा में बताया की कल भी पंजाब के मुख्यमंत्री को ट्वीट किया था बावजूद इसके दिल्ली सरकार और पंजाब सरकार कोई भी इन मामलों की तरफ नहीं देख रही। आज फिर मनजिंदर सिंह सिरसा ने 300 लोगों को यहां से निकाले जाने के लिए दोनों सरकारों से अनुरोध किया है। उन्होंने कहा है कि मजनू का टीला गुरुद्वारे में 300 से अधिक लोग हैं जो बन्द के दौरान अलग-अलग जगह से यहां पर पहुंच गए हैं जो पिछले 3 दिनों से वह ठहरे हुए हैं।

 

हम उन्हें हर प्रकार के सुख सुविधा दे रहे हैं लेकिन उनमें से कुछ लोग बीमार भी हैं जो खांसी बुखार और सर्दी से पीड़ित हो रहे हैं और यह भी जानना जरूरी है कि इनमें से कोई कोरोनावायरस का संक्रमित तो नहीं। इसलिए मैंने दोनों सरकार से लगातार ट्वीट कर व अन्य तरीको से संपर्क साधा है परंतु कोई भी सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है।

 

 

क्योंकि हम नहीं चाहते कि कोई बड़ा कोरोना संक्रमित लोगो का हॉटस्पॉट यहां बने, जिससे दुनियाभर के लोगों को परेशानी हो क्योंकि यह लोग ना कहीं बाहर जा सकते हैं ना उनके पास कोई अन्य विकल्प है। इसलिए वह एक जगह बैठे हुए हैं मानो तो कोई संक्रमित हुआ तो सभी को संक्रमण फैला देगा इसलिए इन पर कार्रवाई की जाए और इतिहास निकाला जाए। आपको बता दें कि पिछले दिनों तबलीग जमात के धार्मिक कार्यक्रम के दौरान हजारों लोग वहां उपस्थित थे जिसके बाद संक्रमण की जानकारी आते हैं मरकज में लोगों को वहां से निकाला गया था ऐसे ही इकट्ठा लोगों की संख्या एक ही जगह होगी तो संक्रमण के चांस ज्यादा होंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *