जनता कफर््यू में क्षेत्र की जनता ने सहयोग देकर दिखाई एकता व जागरूकता

बाबैन, 22 मार्च (सुरेश अरोड़ा): विश्व में महामारी का रुप धारण कर चुकी कोरोना वायरस बीमारी की प्रभावी रोकथाम के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर जनता द्वारा स्वेच्छा से लगाया गया जनता कफर््यू का बाबैन शहर के अलावा क्षेत्र के सभी गांवों में भी व्यापक असर देखने को मिला। जनता कफर््यू के दौरान सुबह से ही आज बाबैन के बाजार सहित क्षेत्र के सभी गांवों में 100 फीसदी असर दिखाई दिया। वही देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आहवान पर लोगों ने खूब थाली व ताली बजाई आज पूरा दिन शहर की सडक़े व गांवों की गलियां सुनसान दिखाई दी। बाबैन में कैमिस्ट की दुकानों व अस्पतालों को छोड़ कर कोई भी दुकान नहीं खुली। पैट्रोल पम्प खुला रहा लेकिन वाहनों में तेल डलवानें वाला कोई नहीं आया। कैमिस्टों की दुकानों व अस्पतालों में भी मरीजों की संख्या नाममात्र ही रही। कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिए लोगों ने मानों कमर कस ली है और विश्व में आई बड़ी आपदा की घड़ी में समूचा बाबैन क्षेत्र मानव जाति के साथ खड़ा दिखा।
बाबैन के मुख्य कैमिस्ट हरीश दुआ का कहना था कि उन्होंने अपने 70 साल के जीवन में बाबैन क्षेत्र में ऐसी जागरूकता व एकता नहीं देखी है। उन्होंने कहा कि मात्र टीवी पर प्रधानमंत्री के संबोधन मात्र से ही क्षेत्र के लोग प्रधानमंत्री के साथ एकजूट खड़े दिखाई दिए और उन्होंने स्वयं की जिम्मेंदारी समझते हुए जनता कफर््यू को पुरी तरह से सफल बनाया है। एडवोकेट बलदेव कल्याण ने कहा कि उन्हें गर्व है कि बाबैन क्षेत्र के युवा, बुजूर्ग एवं महिलाएं अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत है और उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की अपील को गंभीरता से लेते हुए कोरोना वायरस को जड़ से खत्म करने के लिए आज अपने घरों में ही दूबके रहे। लोसुपा नेता नैब सिंह पटाकमाजरा ने कहा कि कोई भी बीमारी अगर हद से गुजरे और उसका कोई ईलाज भी ना मिले तो हमें देश के महान चिकित्सकों व प्रशासन के परामर्श के अनुसार ही नीडर होकर उनके बताएं सुझावों को मानना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज कोरोना वायरस बीमारी ही नहीं बल्कि एक बडी भंयकर आपदा बनकर इंसानी कौम पर बरस रही है जिसके प्रति हमे सर्तकता के साथ सावधानी बरतने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि यदि लोगों ने इससे बचाव के लिए स्वयं जागरूकता नहीं दिखाई तो इसके परिणाम गंभीर होंगे। बाबैन के समाजसेवी डि़म्पल सैनी ने कहा कि बाबैन की जनता ने रविवार को अपने-अपने घरों में रहकर जो एकता व जागरुकता का परिचय दिया है वो काबिले तारिफ है। उन्होंन कहा कि आज भागदौड भरी जिदंगी में हर कोई व्यक्ति एक-दूसरे से आगे निकलने में लगा है लेकिन लोगों ने आज अपने सभी कामों को छोड़ कर मानवता के लिए एक महान कार्य किया है। कांगे्रस के पूर्व ब्लॉक प्रधान जयपाल पांचाल ने कहा कि लोगों ने कमाल कर दिया है जो इस विकराल संकट की घडी में कोरोना बीमारी से दो-दो हाथ करने के लिए तैयार खड़े हो गए। उन्होंने कहा कि हम सब को अपनों व दूसरों के स्वास्थ्य के प्रति गंभीरता बरतनी होगी और राजनीतिक से ऊपर उठकर पीएम व सीएम के साथ खड़ा होना होगा।
वहीं बाबैन के थाना प्रभारी रमेश चन्द्र, नायब तहसीलदार रूपिन्द्र सिंह, जिला परिषद सदस्य रीना सैनी,चेयरमैन बलदेव सैनी,डि़म्पल सैनी, बाबैन के सरपंच मोती लाल सैनी, सुभाष कसीथल, नरेंद्र सुनारियों, रामकरण मलिक महुवाखेड़ी, ज्ञान चन्द मिरचेहड़ी, रणबीर ङ्क्षसह बिन्ट, अमित बीड़ कालवा, सूर्या सैनी बाबैन, धर्मबीर पुनिया, तरसेम सिंह नंबरदार, लाभ सिंह अंटाल, मोहन लाल चुघ, राय सिंह, सतबीर मंगौली, रामपाल सैनी, संजीव गोल्डी, बाबू राम सहगल, डॉ फकीर चन्द, डॉ. गुरनाम सैनी, गुरप्रताप सिंह कन्दौली आदि ने रविवार के सफल जनता कफर््यू के लिए समुचे बाबैन क्षेत्र की जनता व दुकानदारों व रेहडी-ठेल्ला लगाने वालों का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि यदि दोबारा फिर से सरकार व प्रशासन के द्वारा ऐसा कदम उठाया गया तो बाबैन क्षेत्र की जनता भरपूर सहयोग करने के लिए तत्पर रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *