जनता की समस्या को प्राथमिकता से दूर करे अधिकारी-कर्मचारी: कमलेश ढांडा

जनता की समस्या को प्राथमिकता से दूर करे अधिकारी-कर्मचारी: कमलेश ढांडा
राज्य मंत्री ने कहा, विधानसभा चुनाव में सरकार की छवि खराब करने वाले अधिकारी और कर्मचारी मेरे संज्ञान में
शुक्रवार को राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने विभागीय अधिकारियों की ली बैठक, जनता की सुनी समस्याएं
अटल हिंद/ तरसेम सिंह
विधानसभा चुनाव के दौरान जिन अधिकारियों और कर्मचारियों ने भाजपा सरकार को बदनाम करने के लिए जानबूझकर जनता को परेशान किया है। खासकर बिजली विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने लोगों को बिजली के अनाप-शनाप बिल और छापामारी कर कार्रवाई की गई वह सब मेरे संज्ञान में है। ये शब्द शुक्रवार को विश्राम गृह में महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कमलेश ढांडा ने सभी विभागीय अधिकारियों की ली बैठक के दौरान कहे। इस दौरान लोगों ने राज्य मंत्री को कलायत हलके में पानी निकासी, कालेज में जाने वाली लड़कियों के लिए अलग बस सुविधा, सैन समाज के लिए सामुदायिक केंद्र, बिजली विभाग से संबंधित समस्याओं से अवगत करवाया। राज्य मंत्री कमलेश ढांडा ने विकास एवं कल्याणकारी नीतियों को लेकर और विभिन्न विभागों में पड़े रिक्त पदों की जानकारी जल्द से जल्द उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। कमलेश ढांडा ने कहा कि वर्षों बाद कलायत हलका सत्ता में आया है। लोगों को हमसे काफी उम्मीदें जुड़ी है। जो भी मेरे कलायत हलके के लोगों की समस्या है उनको अधिकारी और कर्मचारी प्राथमिकता से निवारण करे। प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल पहले ही यह स्पष्ट कर चुके हैं कि कुशलता से कार्य करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को सम्मान निश्चित रूप से दिया जाएगा। जबकि ड्यूटि में कोताही करने वाले अधिकारियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई होगी। विकास और कल्याणकारी योजनाओं को अंतिम छौर तक पहुंचाना बेहद जरूरी है। इसके लिए सरकारी अधिकारियों की जवाबदेही है। सरकारी कार्यालयों में पारदर्शिता और गतिशीलता से सरकारी कामकाज चलाने के अधिकारियों और कर्मचारियों को राज्य मंत्री से कड़े निर्देश दिए। कमलेश ढांडा ने कहा कि हलके में पानी निकासी और सीवरेज की समस्या भी मेरे संज्ञान में है जन स्वास्थ्य विभाग और पंचायत विभाग इसको गंभीरता से लेते हुए जल्द से जल्द निवारण करे। उन्होंने कहा कि मेरी आदत में यह नहीं है कि मैं बेवजह किसी को परेशान करुं जायज कार्य में अगर कोई अधिकारी फिर भी लापरवाही करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर दिलावर सिंह, नगर पालिका चेयरपर्सन प्रतिनिधि सलिंद्र प्रताप राणा, मार्केट कमेटी वाइस चेयरमैन राकेश कांसल, हरियाणा अग्रवाल संघर्ष समिति प्रदेशाध्यक्ष बीडीबंसल, एडवोकेट राजेश बिढाण, कृष्ण बढ़सीकरी, राजीव राजपूत, कपिल मोर, भारत मन्नू कपूर, सतीश धीमान, बीरबल सरपंच, ललीत धीमान, जसवंत कौलेखां, नंबरदार संजय सिंगला, वीरेंद्र राणा, सुरेश वाल्मीकि, सतबीर कुराड़, महीपाल दुमाड़ा, राजू कौशिक, कुलदीप सिंह, प्रमोद कांसल, मोती लाल गर्ग, संजीव राणा, सचिन सैन, खजान नरड़, बाली काकौत और दूसरे गणमान्य लोग मौजूद थे।
ये विभागीय अधिकारी रहे मौजूद:
आयोजित बैठक में नायब तहसीलदार ईश्वर सिंह, एसएचओ विलास सिंह, नगर पालिका सचिव राजेंद्र प्रसाद, स्वास्थ्य विभाग से डा.प्रगति सिंह, डा.बलविंद्र, मार्केट कमेटी सचिव सविता चौधरी, सिंचाई विभाग एसडीओ तरसेम गर्ग, खुशी राम शर्मा, बीडीपीओ फूल सिंह, एसडीओ नवीन गोयत, जेई बलविंद्र, बिजली विभाग एसडीओ बीएस काला, बीएओ डा.रामेश्वर श्योकंद, एसडीएम कार्यालय से अनिल धीमान, जन स्वास्थ्य विभाग एसडीओ सुरेंद्र दलाल, लोक निर्माण एसडीओ संदीप सचदेवा के साथ-साथ विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *