AtalHind
जींदटॉप न्यूज़

जींद जिले के सरकारी स्कूल के प्रिसिंपल पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने वालीं 80 और छात्राएं आईं सामने, 60 पहले खोल चुकी हैं पोल

जींद जिले के सरकारी स्कूल के प्रिसिंपल पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने वालीं 80 और छात्राएं आईं सामने, 60 पहले खोल चुकी हैं पोल

142 Girl Students Made Allegations: जींद- मामला हरियाणा के जींद जिले के एक सरकारी स्कूल का है। सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल पर छह साल में 142 छात्राओं ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। साथ ही इस केस में 390 लड़कियों के बयान दर्ज किए गए है।

142 Girl Students Made Allegations: news हरियाणा से जींद जिले से है। जिले में स्थित एक सरकारी स्कूल के प्रिसिंपल पर स्कूल की बच्चियों के साथ छेड़छाड़ के मामले में नया मोड़ सामने आया है। आपको बता दे कि इस मामले में प्रिसिंपल पर आरोप लगाने वाली छात्राओं की संख्या करीब 142 हो गई है। शुरूआत में 60 छात्राओं मे बयान दर्ज कराया था। इन छात्राओं के बयान को शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों को भेजा है। पुलिस ने इस केस में 390 लड़कियो के बयान दर्ज किए हैं।

Advertisement

142 छात्राओं ने लगाया आरोप
मामला हरियाणा के जींद जिले के एक सरकारी स्कूल का है। सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल पर छह साल में 142 छात्राओं ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। साथ ही इस केस में 390 लड़कियों के बयान दर्ज किए गए हैं। मामले में आगे की कार्रवाई के लिए 142 पीड़ित छात्राओं का विवरण शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों को भेज दिया गया है। आरोपी फिलहाल जेल में है। अधिकतर लड़कियों ने आरोपी प्रिंसिपल पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

 

30 अक्टूबर को हुई थी एफआईआर दर्ज
प्रारंभिक 15 लड़कियों ने 31 अगस्त, 2023 को राष्ट्रपति, प्रधान मंत्री, भारत के मुख्य न्यायाधीश, राष्ट्रीय महिला आयोग, राज्य महिला आयोग और अन्य को एक पत्र लिखकर अपनी साथ हुई घटना के बारे में पत्र के माध्यम से बताया था। हरियाणा महिला आयोग ने छात्राओं द्वारा की गई शिकायत पत्र को 13 सितंबर को संज्ञान में लेते हुए 14 सितंबर को इस मामलें की कार्रवाई करने के लिए इसे जींद पुलिस को भेजा। हरियाणा पुलिस ने इस मामले में 30 अक्टूबर को एफआईआर दर्ज की थी।

Advertisement

60 लड़कियों ने दर्ज कराया था बयान
छात्राओं द्वारा तहरीर मिलने के बाद आरोपी को 4 नवंबर को गिरफ्तारकर लिया गया था और 7 नवंबर को न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। महिला आयोग की जानकारी के अनुसार इस मामले में 60 लड़कियों ने आरोपी के खिलाफ अपने बयान दर्ज कराए थे। वही इस मामले में अब करीब 142 पीड़ित छात्राओं ने अपने बयान दर्ज कराए है।
पीड़ितों ने बताया कि आरोपी प्रिसिंपल उन्हें अपने कार्यालय में बुलाता था और अश्लील हरकतें करता था।

Advertisement

Related posts

अमांडा शर्मा की मूवमेंट्स की तस्वीरें क्या बोलती हैं?

atalhind

ओम प्रकाश चौटाला पर लगी  6 साल तक चुनाव ना लड़ने वाली पाबंदी कम या पूरी तरह की जाए खत्म ,चुनाव आयोग में हस्तक्षेप याचिका दायर

admin

सुरक्षा बलों की बढ़ोतरी से लोगों में भय का माहौल, कहा- ऐसा लगता है जंग होने वाली है

admin

Leave a Comment

URL