Atal hind
कैथल टॉप न्यूज़ शिक्षा

डॉ॰विजय कुमार चावला द्वारा तैयार तीन वीडियो हरियाणा एडुसेट चैनल पर इस सप्ताह दिखाए जाएँगे लाइव।

डॉ॰विजय कुमार चावला द्वारा तैयार तीन वीडियो हरियाणा एडुसेट चैनल पर इस सप्ताह दिखाए जाएँगे लाइव।

हिंदी प्राध्यापक,डॉ॰विजय कुमार चावला द्वारा तैयार कक्षा दसवीं के हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल  अलंकार तथा कक्षा ग्यारहवीं के

हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल जनसंचार के माध्यम भाग-1 की वीडियो आज हरियाणा एडुसेट चैनल पर हुई लाइव।

कैथल (अटल हिन्द ब्यूरो )

राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक क्योड़क में कार्यरत हिंदी प्राध्यापक,डॉ॰विजय कुमार चावला ने बताया कि उन्होंने कक्षा दसवीं के पाठ्यक्रम में शामिल अलंकार विषय तथा कक्षा ग्यारहवीं के हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल जनसंचार के माध्यम भाग-1 पर एक वीडियो बनाकर राज्य शैक्षिक शिक्षा अनुसन्धान एवं प्रशिक्षण परिषद,गुरुग्राम भेजी थी।राज्य शैक्षिक शिक्षा अनुसन्धान एवं प्रशिक्षण परिषद,गुरुग्राम की विषय विशेषज्ञ की टीम द्वारा उनके वीडियो का मूल्यांकन किया गया था।विषय विशेषज्ञ तनु भारद्वाज तथा डॉ॰ योगेश वासिष्ठ द्वारा समय-समय पर वीडियो में अमूल्य सुझाव प्रदान किए गए।उन सुझावों को अमलीजामा पहनाने के बाद राज्य शैक्षिक शिक्षा अनुसन्धान एवं प्रशिक्षण परिषद,गुरुग्राम द्वारा कक्षा दसवीं के हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल  अलंकार तथा कक्षा ग्यारहवीं के हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल जनसंचार के माध्यम भाग-1 की वीडियो को हरियाणा एडुसेट चैनल पर बच्चों को दिखाने के लिए स्वीकार कर लिया गया।

चावला ने बताया कि शिक्षा विभाग हरियाणा द्वारा बच्चों को घर बैठे-बैठे ई-लर्निंग हेतु हरियाणा एडुसेट चैनल के माध्यम से प्रदान की जा रही यह सेवा निःसंदेह प्रशंसनीय है।हरियाणा एडुसेट चैनल पर प्रतिदिन कक्षा-वार पाठ्यक्रम के अनुसार वीडियो लाइव प्रसारित होते हैं।इसी कड़ी में आज उनके द्वारा तैयार कक्षा दसवीं के हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल  अलंकार तथा कक्षा ग्यारहवीं के हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल जनसंचार के माध्यम भाग-1 की वीडियो पूरे हरियाणा के बच्चों को लाइव दिखाई गई।चावला ने बताया कि इस वीडियो में उन्होंने बच्चों को अलंकार तथा जनसंचार के माध्यमों के विभिन्न पहलुओं को सरल तरीके से समझाने के लिए सचित्र व उदाहरण सहित सामग्री प्रदान की है।उनके द्वारा तैयार वीडियो में विद्यालय की छात्राओं द्वारा तैयार चित्रों को भी पूरा स्थान दिया गया है ताकि विषेय रोचक बन सके तथा बच्चों को विषय आसानी से समझ आ सके।विद्यालय की छात्राओं तनु,श्रेया तथा सानिया की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

नहीं पहनूगां चप्पल -जूते  जब तक हाथरस की मनीषा को नहीं मिलता इन्साफ

admin

हरियाणा के विधायकों की तो हरियाणा की अफसरशाही (bureaucracy)भी नहीं सुनती फोन 

Sarvekash Aggarwal

कोरोना से बचाव के लिए मॉस्क को बनाएं दिनचर्या का हिस्सा: उपायुक्त

admin

Leave a Comment

URL