तीन साल की छोटी सी मासूम बिलखती बच्ची को भी नहीं बख्शा वैसी दरिंदे ने ,आखिर क्यों

तीन साल की छोटी सी मासूम बिलखती बच्ची को भी नहीं बख्शा वैसी दरिंदे ने ,आखिर क्यों
हापुड़ (अटल हिन्द ब्यूरो )वैसी दरिंदे राक्षस प्रकृति के लोग नहीं आ रहे बाज, हैदराबाद एनकाउंटर होने के बाद भी ,कर डाला घिनौना काम आखिर क्यों
हैदराबाद एनकाउंटर के बाद भी सबक नहीं लिया सिंभावली क्षेत्र के दरिंदे ने, तीन साल की छोटी सी मासूम बिलखती बच्ची को भी नहीं बख्शा वैसी दरिंदे ने ,आखिर क्यों
आखिरकार वैसी दरिंदे ने हापुड़ को भी बदनाम कर डाला,  हैदराबाद मैं तो डॉक्टर बिटिया को इंसाफ मिल गया , उन्नाव मामला हाईलाइट चल रहा है आखिर क्या होगा , अब सिंभावली क्षेत्र के अंदर  गूंज उठी आवाज, अब चलना चाहिए कानून का चाबुक देनी चाहिए सजा
वैसी दरिंदों का तांडव , हैदराबाद वैसी दरिंदों का एनकाउंटर होने के बाद भी नहीं सुधर रहे देश के वैसी दरिंदे उन्नाव की बच्ची ने भी जिंदगी मौत से लड़ कर अपनी जिंदगी को किया कुदरत के हवाले, हैदराबाद के डॉक्टर को तो मिल गया इंसान मगर सिंभावली क्षेत्र के अंदर वैसी दरिंदे ने सारी हदें पार कर तीन साल की मासूम बिलखती हुई छोटी सी बच्ची के सामने  की सारी हदें पार आखिर क्यों, अब कानून कौन सी सजा देगा इस वैसी दरिंदे को, चारों तरफ एक आवाज उठ रही है आखिर कब, जो हैदराबाद पुलिस ने किया है वही सभी स्टेट की पुलिस को करना चाहिए ताकि वैसी दरिंदे कोई भी हद पार करने से पहले सौ बार सोचे ताकि कोई भी वैशी दरिंदा गलत कार्य की घटना को अंजाम देने से पहले सौ बार सोचे होना भी चाहिए सरकार को अब जागना चाहिए क्योंकि दरिंदे नहीं देख रही उम्र का लिहाज नहीं कर रहे बहन बेटियों की शर्म नहीं बच्चियों को बख्श रहे आखिर क्यों क्या बिगाड़ा है इन छोटी सी मासूम बच्चियों ने क्या बिगाड़ा था किसी का डॉक्टर नहीं क्या बिगाड़ा था उन्नाव की बेटी ने यह सभी सवाल उठ रहे हैं देश के अंदर मगर जो आज घटना सिंभावली क्षेत्र के अंदर बैठी है इसने सिंभावली क्षेत्र को हिला कर रख दिया सिंभावली क्षेत्र की पुलिस को दौड़ाने पर मजबूर कर दिया आखिर क्यों, वैसी दरिंदे की गिरफ्तारी हो चुकी है मगर अब सजा क्या होगी यह देखने वाली बात होगी क्योंकि जैसी करनी वैसी भरनी वाली सजाएं ऐसी वैसी  दरिंदे को मिलनी चाहिए, जो मनुष्य नहीं देख रहा किसी की इज्जत उस दरिंदे का जीना इस धरती पर है बेकार, हर रोज एक नई घटना वैसी दरिंदों की सामने आ रही हैं राक्षस प्रवृत्ति के दरिंदों ने बदनाम कर डाला इस जहां को भी नहीं बख्शते मासूमों को भी, जिस मासूम को अभी यह नहीं पता की तेरा नाम क्या है उसको भी वैसी दरिंदे बना रहे हैं अपनी हवस का शिकार आखिर क्यों, इन सारे हादसों की जिम्मेदारी जाती है पुलिस  प्रशासन पर जिसको निभाना चाहिए अब सही रोल जो होना चाहिए वही करना चाहिए ताकि कोई भी वैसी दरिंदा गलत कार्य को अंजाम देने से पहले सौ बार सोचे और उसकी सोच वही पर रुक जाए पुलिस को भवर रोल निभाना चाहिए, उन्नाव की बेटी ने आज सुबह अपनी अंतिम सांस ली और अंतिम सांस तक जिंदगी और मौत से लटकी रही तथा उसने काफी कष्ट परेशानियां झेली मगर आज सुबह वह भगवान के सामने हार गई तथा जिंदगी को कुदरत के हवाले कर अंतिम सांस लेकर अपनी आंखें बंद कर ली और संसार को  आखरी नमस्कार कर दिया, आखिर अब सरकार को लाना चाहिए कोई कानून कानून भी ऐसा  होना चाहिए जो कोई मुकदमा कोई तारीख कोई रखो कोई गवाह ना कार्य करें और फैसला ऑन द स्पॉट होने चाहिए जो हैदराबाद पुलिस ने किया, आज हमारी प्यारी बहन बेटियां घर से निकलने से भी डर रही है क्योंकि चारों तरफ एक ही आवाज उठ रही है दरिंदों को सजा दो मगर दरिंदे बिल्कुल भी पुलिस प्रशासन का खौफ नहीं खा रहे और गलत कार्य को अंजाम देने के अंदर पीछे नहीं हट रहे आखिर क्यों ऐसा कर रहे हैं दरिंदे देश की मासूम बेटियों के साथ आखिर क्या कारण है अब तो सरकार को ही सोचना होगा इस विषय के अंदर ताकि कोई भी दरिंदा सजा का नाम सुनकर कांप उठे और बहन बेटियां खुले गगन के नीचे राहत की सांस ले सके खुली आखिर वह दिन कब आएगा इंतजार है देश की जनता को उस दिन का जब सब बहन बेटियां अपने आप को सुरक्षित महसूस करेंगी ,   आखिर कब आएगा ऐसा कानून जो बहन बेटियां करें उस कानून का सम्मान आखिर कब सरकार को अब सोचना ही होगा वैसी दरिंदे प्रकृति के व्यक्तियों के बारे में आखिर कब तक सहन करेंगे कब तक रहेंगी बहन बेटियां घर के अंदर बंद कब मिलेगी उन को खुली छूट अपने मान सम्मान के प्रति कब मिलेगी आजादी इस देश की  लाडली प्यारी बच्चियों को आखिर कब।

====================================================

login करें—WWW.ATALHIND.COM
28 E Block  Vishnu Market Kaithal 136027 Haryana

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *