देवदूतों से ऐसा सलूक क्यों ?

देवदूतों से ऐसा सलूक क्यों ?

 

कमलेश भारतीय

 

देश भर में कोरोने का संक्रमण रोकने के लिए डाॅक्टर्स व उनके मेडिकल सहयोगी दिन रात जुटे हुए हैं । यहां तक खबरें हैं कि दिल्ली के दो मोहल्ला क्लिनिक डाॅक्टर्स सहित छह डाॅक्टर्स खुद कोरोना पीड़ित हो चुके हैं । पंचकूला सिविल अस्पताल की एक नर्स को कोरोना पाॅजिटिव पाया गया । जो लोग अपनी जान की परवाह न करते हुए इस तरह आपकी सेवा में लगे हैं उन देवदूतों के साथ इंदौर में जो संदूक हुआ , क्या वह अपमानजनक नहीं ?

राहत इंदौरी जैसा शायर भी शर्मसार हो गया कि मेरे शहर के लोगों ने यह क्या किया ? उन्होंने कहा कि यकीन मानिए , इसकी वजह से सारे मुल्क के लोगों के सामने शर्मिंदगी से मेरी गर्दन झुक गयी । उनके साथ जो सलूक आपने किया उससे , पूरा हिंदुस्तान हैरत में है । वे आपकी हालत देखने और तबीयत देखने आए थे । ये इंदौर जो इतना पढ़ा लिखा , तमीज वाला है , उसे क्या हो गया ? जो लोग आपके पास आ रहे हैं , आपकी मदद के लिए आ रहे हैं ।

घटना सबको याद दिला दूं कि कल जब इंदौर के किसी इलाके में मेडिकल टीम कोरोना संक्रमित पीड़ितों की जांच के लिए गयी तो उस पर पत्थर बरसाये जाने लगे और टीम ने भाग कर अपनी जान बचाई । पुलिस ने ऐसे सात लोग गिरफ्तार भी किए हैं लेकिन मेडिकल स्टाफ का मनोबल कितना टूट गया होगा ? इसका अंदाज़ा लगाइए । पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी कहा कि मेडिकल टीम पर हमला करने वाले लोग इंसानियत के दुश्मन हैं । यह तो वही बात हो गयी :

शिकार करने को आए थे
शिकार हो के चले

इधर कोरोना रिलीफ फंड में क्रिकेटर और सांसद गौतम गंभीर ने अपनी दो साल की सेलरी देने की घोषणा की है जो स्वागत् योग्य कदम है । हरियाणा से नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने एक करोड़ रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में तो एक करोड़ रुपए प्रधानमंत्री राहत कोष में देने की घोषणा पहले ही कर रखी है ।अक्षय कुमार , महेंद्र धोनी , सचिन तेंदुलकर , लता मंगेशकर , नवोदित सितारे वरूण धवन तक ने राहत कोष में राशि दी है । सोनाक्षी सिन्हा ने ट्रोल किए जाने पर लिखा है कि यदि हम घोषणा नहीं करते तो इसका यह मतलब नहीं कि हमने कुछ नहीं दिया लेकिन नेकी कर दरिया में डाल का मंत्र है । यह कोई बुरी बात नहीं । इस तरह ट्रोल करना भी गलत है । फिल्मी सितारों से आमजनता की उम्मीदें बढ़ जाती हैं । जब हम उन्हें देख देख कर अपना फैशन तक बदल लेते हैं तो फिर उनका अनुसरण कर राहत देने भी तो आगे आ सकते हैं । इसलिए ट्रोल किए जा रहे हैं फिल्मी सितारे । सलमान खान ने तो फिल्मों में लेबर करने वाले सहयोगी पच्चीस हजार लोगों के बैंक अकाउंट लेकर पैसे डालने की योजना बनाई है । इस तरह सहयोग करने का सबका अपना तरीका व नजरिया है । पर मेडिकल टीम के साथ जो व्यवहार इंदौर में किया गया वह दोबारा कहीं भी , किसी भी कोने में न हो । प्लीज ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *