देवीलाल ने गवर्नर को जड़ दिया था जोरदार थप्पड़,हरियाणा में भी हुआ था चौंकानेवाला शपथ ग्रहण,

देवीलाल ने गवर्नर को जड़ दिया था जोरदार थप्पड़,हरियाणा में भी हुआ था चौंकानेवाला शपथ ग्रहण,

CHANDIGARH (RAJKUMAR AGGARWAL)

 

हमें ख़बरें Email: atalhindnews@gmail.com  WhatsApp: 9416111503/9891096150 पर भेजें (Yogesh Garg News Editor)

जहां एक ओर शनिवार को महाराष्ट्र में शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी की सरकार बनाने का एलान होना था, लेकिन रातोंरात राजनीति 360 डिग्री घुमी और राज्य में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) और राष्ट्रवादी कांग्रेस की सरकार (Nationalist Congress Party) बन गई। शनिवार सुबह महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने देवेंद्र फड़णवीस को मुख्यमंत्री और एनसीपी के वरिष्ठ नेता अजीत पवार को उपमुख्यमंत्री की शपथ दिलाई। कहने को यह अनोखी राजनीति की मिसाल हो सकती है, लेकिन ऐसा पहले भी कई बार भारतीय राजनीति में हो चुका है।

राजभवन में भिड़े थे चौधरी देवीलाल और तत्कालीन राज्यपाल

वर्ष-1982 में हरियाणा में भी महाराष्ट्र जैसा वाकया हुआ था, जब अचानक ही प्रदेश की पूरी राजनीति ही बदल गई थी और राज्यपाल ने कांग्रेस नेता चौधरी भजन लाल(BHAJAN LAL) को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिला दी थी। इसके बाद जो हुआ वह और भी चौंकाना वाला था। दरअसल, तत्कालीन हरियाणा के (Governor)राज्यपाल जीडी तापसे(GD TAPSE) को राजभवन में ही भरी सभा में दिग्गज नेता चौधरी देवीलाल (CH. DEVILAL)ने थप्पड़ तक मार दिया था। यह भारतीय राजनीति(Indian politics) के इतिहास (History)की सबसे बड़ी और हैरान करने वाली घटना था।

यह था पूरा मामला

वर्ष, वर्ष, 1982 में हरियाणा विधानसभा चुनाव में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिल पाया था। 90 सीटों वाली विधानसभा में कांग्रेस को 35, लोकदल को 31 और भारतीय जनता पार्टी को 6 सीटें हासिल हुई थीं। वहीं, कांग्रेस और लोकदल दोनों ने ही सरकार बनाने का दावा पेश किया था। वहीं, इस बीच अचानक ही तत्कालीन राज्यपाल जीडी तापसे ने कांग्रेस नेता चौधरी भजन लाल को शपथ दिला दी थी। इसका पता जब लोकदल के नेता चौधरी देवी लाल को लगा तो वह अपने सभी विधायकों के साथ राजभवन पहुंच गए। इसी के साथ उन्होंने अपने सभी विधायकों की परेड भी कराई और दावा किया कि उनके पास बहुमत है और उन्हें ही सीएम की शपथ दिलाई जाए। मिली जानकारी के मुताबिक, चौधरी देवी लाल ने अपने विधायकों की परेड कराने के साथ ही दावा किया था कि बहुमत उनके पास होने के चलते सरकार उनकी बननी चाहिए। वहीं, राज्यपाल ने उनकी एक न सुनी और ऐसा करने से साफ मना कर दिया। देवी लाल के साथ वहां मौजूद लोक दल के बड़े नेता भी यही नारे लगा रहे थे कि भजनलाल मंत्रिमंडल को बर्खास्त करके लोकदल की सरकार बनाए। ये नारे काफी देर तक लगते रहे।

परेड के बाद हुई बहस

मिली जानकारी के मुताबिक, चौधरी देवी लाल ने अपने विधायकों(MLA) की परेड कराने के साथ ही दावा किया था कि बहुमत उनके पास होने के चलते सरकार उनकी बननी चाहिए। वहीं, राज्यपाल ने उनकी एक न सुनी और ऐसा करने से साफ मना कर दिया। देवी लाल के साथ वहां मौजूद लोक दल के बड़े नेता भी यही नारे लगा रहे थे कि भजनलाल मंत्रिमंडल को बर्खास्त करके लोकल की सरकार बनाए। ये नारे काफी देर तक लगते रहे।

बहस के दौरान मारा राज्यपाल को थप्पड़

चौधरी देवीलाल राजभवन में भजन लाल और उनके मंत्रिमंडल (cabinet)को तत्काल बर्खास्त करने और लोकदल की सरकार बनाने की मांग राज्यपाल से करते रहे। इसी दौरान चौधरी देवी लाल और राज्यपाल जीडी तापसे के बीच बहुत तीखी बहस हो गई। इस दौरान गुस्साए देवी लाल ने तपासे की ठुड्डी पकड़ी और खरीखोटी सुनाने लगे। इससे नाराज राज्यपाल ने उनका हाथ झटका तो गुस्साए चौधरी देवीलाल ने उनके गाल पर जोरदार तमाचा जड़ दिया(Slap rooted)। इस थप्पड़ की पूरे देश की राजधानी दिल्ली के साथ पूरे देश में सुनाई दी। राजनेताओं ने इसकी आलोचना भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *