Atal hind
कैथल टॉप न्यूज़ राजनीति हरियाणा

देश को आत्मनिर्भर बनाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है मुख्य विजन : नायब सैनी

देश को आत्मनिर्भर बनाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है मुख्य विजन : नायब सैनी
Kaithal, 2 अक्तूबर (अटल हिन्द ब्यूरो  )
देश की दो महान विभूतियों, जिन्होंने  एक संत के रूप में इस देश ही नहीं पूरे विश्व के कण-कण में अपनी जगह बनाई है, जो बापू के नाम से प्रसिद्घ
राष्टï्रपिता महात्मा गांधी और दूसरे महान नेता देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की आज जयंती है, जिसे मनाना हमारे लिए सौभाग्य की बात है। ये
शब्द कुरुक्षेत्र लोकसभा से सांसद नायब सिंह सैनी(nayab saini) ने आरकेएसडी कॉलेज के हॉल में आत्मनिर्भर भारत के प्रणेता राष्टï्रपिता महात्मा गांधी के जन्म दिवस के
उपलक्ष में आयोजित वैबिनार में कहे। इस मौके पर जिला प्रभारी कर्ण सिंह, जिला अध्यक्ष अशोक गुर्जर (ashok gurjar)भी मौजूद रहे।
इस मौके पर सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा कि देश में भारतीय जनता पार्टी द्वारा देश के विभिन्न हिस्सों में गांधी जयंती के कार्यक्रम कोरोना वैश्विक महामारी के संकट में वैबिनार के माध्यम से किए जा रहे हैं। महात्मा गांधी को याद करते हुए उन्होंने कहा गांधी जी के विचार देश को आत्मनिर्भर बनाने के थे। इसी तरह पंडित दीन दयाल उपाध्याय के भी विचार थे कि लाईन के अंतिम व्यक्ति का उदय करना है।
कोरोना वैश्विक महामारी के इस संकट में पूरा देश प्रभावित हुआ है। उद्योगों में काम करने वाले व्यक्ति भी कहीं न कहीं इस वैश्विक महामारी के संकट में प्रभावित हुए हैं। कोरोना जैसी महामारी से प्रभावित देश संकट की घड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के उत्थान के लिए 20 लाख हजार करोड़ रुपये के पैकेज देने की घोषणा की कि देश आत्मनिर्भर बनना चाहिए और इस आत्मनिर्भर भारत देश के लोगों का योगदान होना चाहिए।
उन्होंने कहा कि आपके पास कोई भी गुण है, कला है या स्किल है, उसका लाभ उठाते हुए अपने देश के अंदर जरूरत के सामान का उत्पादन करना है, इस प्रकार हमारे देश में उपयोग होने वाली वस्तुए हमें यहीं मिल सकेंगी और हमें किसी अन्य देश से ये जरूरत का सामान नहीं मंगवाना पड़ेगा। इस तरह से हम आत्मनिर्भर बन जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच है कि हमारा देश आत्मनिर्भर बने। इससे रोजगार पैदा होंगे इससे हम आर्थिक रूप से मजबूत होंगे। इस तरह से हम उस स्थिति के अंदर भी आएंगे, जिससे हम यहां से बनी छोटी-छोटी चीजों को निर्यात भी करेंगे। इस तरह से हमारा देश आत्मनिर्भर बन सकेंगे।
सांसद ने कहा कि एक समय ऐसा भी था कि हमारे देश में अनाज की कमी थी। उस समय के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने किसानों से आह्वïान किया था कि अनाज का उत्पादन ज्यादा करें, तो किसानों उस आह्वïान को स्वीकार किया और हम अनाज के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बने है। आज यह स्थिति है कि हम अनाज को निर्यात करने की स्थिति में है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये विजन है कि हमारा देश आत्मनिर्भर बने और हमें यह प्रचार करना चाहिए कि हम देश में बने  सामान को खरीदें और उसे प्रयोग करें। नरेंद्र मोदी के विजन के कारण ही आज हम कोरोना माहामारी से लडऩे में सफल रहे हैं। आज हमारे देश में कोरोना से लडऩे के लिए एन-95 मास्क, सैनेटाईजर, पीपीई किट, वैंटिलेटर या अन्य सामान का उत्पादन यहीं हो रहा है और आज हम इस स्थिति में है कि कोरोना से लडऩे वाले उत्पाद निर्यात भी कर सकते हैं।
लोकसभा सांसद सैनी ने कहा कि ये जो तीन अध्यादेश हमारी सरकार ले के आई है, ये किसान के जीवन के अंदर एक क्रांतिकारी बदलाव लाने वाले बिल हैं। किसानों को पहली बार यह स्वतंत्रता मिली है कि वो अपने अनाज को अच्छी कीमत पर मंडी के साथ-साथ देश के किसी भी भाग में जाकर बेच सकता है।
इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसान रेल चलाई है, जिससे वह कम खर्च में अपने अनाज को देश के किसी भी हिस्से में ले जाकर बेच सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच है कि हमें किसान को मजबूत करना है। किसान की आय को वर्ष 2022 तक दोगुणा करना है।
पिछले 6 वर्षों के कार्यकाल के अंदर प्रधानमंत्री ने किसानों के लिए एमएसपी बढाने का लगातार कार्य किया है। किसानों को योजनाओं के माध्यम से मजबूत करने का काम किया है। प्रधानमंत्र किसान सम्मान निधि योजना बना करके किसानों तक 6-6 हजार रुपये पहुंचाकर किसानों को मजबूत करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि मंडी और एमएसपी ऐसे का ऐसे ही रहेगा। इस अवसर पर पर्यावरण संरक्षण के लिए कपड़े के थैले भी वितरित किए गए।
इस मौके पर जिला प्रभारी कर्ण सिंह, जिला अध्यक्ष अशोक गुर्ज, अरुण सर्राफ,  राव सुरेंद्र सिंह, संजय भारद्वाज, रामपाल राणा, रवि तारावाली, हरजीत आंधली, नरेश मित्तल, शक्ति सोदा, अजीत चहल, रितेश शर्मा, ज्योति सैनी, रतिराम, श्याम लाल कल्याण, देवेंद्र पांचाल, आदित्य भारद्वाज, सुरेंद्र गर्ग  आदि भी मौजूद रहे।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

haeyana-मंसूबे नाकाम,मार्केट कमेटी सचिव ने रणजीत सिंह की झूठी धौंस देने की गलती कबूली, मांगी माफी

Sarvekash Aggarwal

lockdown में किसी वीवीआईपी को लाइन में खड़े नहीं देखा

Sarvekash Aggarwal

गुजरात में नया कारनामा- मास्क बेचकर मुनाफ़ा और नकली वेंटिलेटर लगाकर वाहवाही

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL